Home खास खबरें जम्मू-कश्मीर की नागरिकता पाने वाले पहले IAS अफसर बने नवीन कुमार चौधरी

जम्मू-कश्मीर की नागरिकता पाने वाले पहले IAS अफसर बने नवीन कुमार चौधरी

0

जम्मू कश्मीर से अनु.370 के खात्मे के बाद अब वहां की नागरिकता अब बाहरी लोगों को भी मिलने लगी है। ऐसे में बिहार के बेटे को पहली नागरिकता मिली है। बिहार के IAS बेटे नवीन कुमार चौधरी देश के पहले IAS अफसर बन गए हैं जिन्हें जम्मू कश्मीर की नागरिकता दी गई है

नवीन चौधरी को मिला डोमिसाइल सर्टिफिकेट
नवीन कुमार चौधरी जम्मू-कश्मीर का डोमिसाइल लेने वाले देश के पहले आईएएस अधिकारी बन गए हैं। जम्मू संभाग के बाहु तहसील के तहसीलदार डॉ. रोहित शर्मा ने 24 जून को उन्हें डोमिसाइल सर्टिफिकेट जारी किया है।

दरभंगा के रहने वाले हैं नवीन चौधरी
IAS अफसर नवीन कुमार चौधरी दरभंगा जिले के हायाघाट प्रखंड के मझौलिया के रहने वाले हैं . उनके पिता का नाम देवकांत चौधरी और माता का नाम वैदेही चौधरी है। नवीन चौधरी का जन्म 12 अप्रैल 1968 को हुआ था। उन्होंने प्रारंभिक शिक्षा गांव के ही बेसिक स्कूल मझौलिया से हुई। माध्यमिक शिक्षा ललितेश्वर मधुसूदन उच्च विद्यालय, आनंदपुर से पूरी हुई थी। इसके बाद पिता ने उन्हें उच्च शिक्षा के लिए पटना भेज दिया। पटना यूनिर्विसटी से उन्होंने अर्थशास्त्र से स्नातक (प्रतिष्ठा) की डिग्री हासिल की

साल 1994 में IAS बने
नवीन कुमार चौधरी ने साल 1994 में महज 25 साल की उम्र में भारतीय प्रशासनिक सेवा में 68वां स्थान प्राप्त किया। उन्हें जम्मू कश्मीर कैडर मिला। वहां वे लगभग 26 वर्षों से विभिन्न विभागों में सेवा देते आ रहे हैं।

जम्मू कश्मीर में हैं पोस्टेड
1994 बैच के सीनियर आईएएस अधिकारी नवीन कुमार चौधरी फिलहाल जम्मू कश्मीर में कृषि, पशुपालन एवं तकनीकी शिक्षा समेत कई अन्य महत्वपूर्ण विभागों में प्रधान सचिव के पद पर तैनात हैं। वे पिछले 26 वर्षों से जम्मू कश्मीर में सेवारत हैं। इससे पहले वे 2012 में राज्यपाल के प्रधान सचिव, जम्मू श्राइन बोर्ड के सीईओ समेत वित्त सचिव और पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती के भी प्रधान सचिव रह चुके हैं।

समस्तीपुर में हुई शादी
नवीद चौधरी की शादी समस्तीपुर जिले के सरायरंजन प्रखंड के लगुनिया गांव में हुई है। उनके दो पुत्र आयुष्मान और हर्षवर्धन अमेरिका में उच्च शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं। जम्मू कश्मीर के नागरिकों की सेवा में नवीन इतने रम गए कि वे अंतत: वहीं के होकर रह गए।

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In खास खबरें

Leave a Reply

Check Also

पावापुरी मेडिकल कॉलेज में डॉक्टरों ने महिला को नंगा कर पीटा.. जानिए पूरा मामला

नालंदा जिला के पावापुरी मेडिकल कॉलेज के डॉक्टर अक्सर विवादों में रहते हैं. लोगों का कहना ह…