Home खास खबरें DM आवास के बाहर धरने पर बैठ गई DM साहब की पत्नी और सास.. जानिए पूरा मामला

DM आवास के बाहर धरने पर बैठ गई DM साहब की पत्नी और सास.. जानिए पूरा मामला

0

डीएम आवास के बाहर उस वक्त हाई वोल्टेज ड्रामा देखने को मिला। जब डीएम साहब की पत्नी और सास उनके आवास के बाहर ही धरने पर बैठ गईं। वो डीएम आवास के भीतर जाना चाह रही थीं। लेकिन सुरक्षा गार्डों के रोक जाने के बाद वो गेट बाहर ही पेपर बिछाकर बैठ गईं। मामला बढ़ता देख जिले के आलाधिकारी पहुंचे और उन्हें समझाने की कोशिश भी की। लेकिन उनका मान-मनौव्वल बेकार गया।

क्या है पूरा मामला
नालंदा के बेटे धर्मेंद्र कुमार अभी जमुई के डीएम हैं। यूपीएससी की परीक्षा में 25वां रैंक लाने वाले धर्मेंद्र कुमार को क्या पता था कि उनका वैवाहिक जीवन इतनी जल्दी तबाही के कगार पर पहुंच जाएगा। तीन साल पहले बड़ी धूमधाम से बड़े परिवार में शादी हुई थी। आपको डीएम साहब की पत्नी के बारे में डिटेल से बताएंगे लेकिन उससे पहले जानिए बुधवार को क्या हुआ था

जमीन पर पेपर बिछाकर लेट गयी मां-बेटी
बुधवार को जमुई के डीएम धर्मेंद्र कुमार की पत्नी वत्सला सिंह अपनी मां पुष्पा सिंह के साथ जमुई स्थित उनके सरकारी आवास पर पहुंचकर धरने पर बैठ गईं। ये हाई वोल्टेज ड्रामा सुबह से लेकर देर रात तक चलता रहा । वे डीएम आवास के अंदर जाना चाहती थीं लेकिन सुरक्षा गार्डों ने उन्हें रोक दिया। जिसके बाद डीएम धर्मेंद्र कुमार की पत्नी और सास आवास के बाहर ही पेपर बिछाकर धरने पर बैठ गईं। सुरक्षा गार्डों ने बताया कि डीएम साहब अंदर नहीं हैं वो बाहर फिर भी वे नहीं मानीं।

आलाधिकारियों के हाथ-पांव फूले
मामला बढ़ता देख महिला थानाध्यक्ष रीता कुमारी पुलिसकर्मियों के साथ वहां पहुंची। एसडीएम लखीन्द्र पासवान, एसडीपीओ रामपुकार सिंह भी वहां पहुंचे। अधिकारियों ने मैडम को समझाने का प्रयास किया, लेकिन वे कुछ भी सुनने को तैयार नहीं थीं।

डीएम साहब ने क्या कहा
उधर टेलीफोन पर बातचीत में डीएम ने कहा कि अगर कोई जमीन पर बैठ रहा हो तो हम क्या कर सकते हैं। न्यायालय पर पूर्ण आस्था है। पत्नी के साथ न्यायालय में मामला चल रहा है। जो भी फैसला आयेगा, उसे मानेंगे। डीएम ने यह भी कहा कि पूर्व में भी दहेज प्रताड़ना में पूरे परिवार वालों को फंसाया गया था। इस वजह से इस मामले में वे कुछ नहीं कह सकते हैं।

हम उनके साथ रहना चाहते हैं
वहीं, डीएम धर्मेंद्र कुमार की पत्नी वत्सला सिंह ने कहा कि वह हमेशा से साथ रहना चाहती थी और आज भी चाहती है। इसीलिए अपने पति के पास रहने आई है लेकिन बाहर बिठा दिया गया है। पानी तक नहीं दिया जा रहा। जानवर से भी बदतर सलूक हो रहा है, यह कहां का न्याय है।

शादी के बाद पति-पत्नी में शुरू हुआ था विवाद
जमुई के डीएम धमेंद्र कुमार की शादी 11 मार्च 2015 को पटना जिला अंतर्गत बाढ़ निवासी आशीर्वाद पाइप और कामधेनु सरिया के मालिक विनय की बेटी वत्सला सिंह से हुई। शादी के कुछ दिन बाद से ही दोनों एक दूसरे से असहज महसूस करने लगे थे। धीरे-धीरे विवाद गहराता गया और सात मार्च 2018 को डीएम ने पत्नी से तलाक के लिए न्यायालय में अर्जी दे दी। उनपर भी दहेज उत्पीड़न का मामला न्यायालय में दायर किया गया। वत्सला ने 21 मार्च 2018 को धर्मेन्द्र कुमार के खिलाफ दहेज उत्पीड़न का मामला दर्ज कराया। बाद में राष्ट्रीय महिला आयोग की शरण में चली गयी। आयोग ने डीएम को 20 जुलाई को तलब किया था। इस मामले में सीआइडी के एडीजी कार्यालय में सिटी एसपी और महिला आयोग की सदस्य सुषमा साहू के बीच तू-तू, मैं-मैं भी हुई थी।

नालंदा के बेटे हैं डीएम धर्मेंद्र कुमार
जमुई के डीएम धर्मेन्द्र कुमार नालंदा जिला के हिलसा के रहने वाले हैं। साधारण परिवार से होकर यूपीएससी की परीक्षा में शानदार सफलता हासिल की। पहली पोस्टिंग डीएम के रूप में जमुई में हुई है। धर्मेन्द्र कुमार की पहचान एक कड़क और ईमानदार आइएएस के रूप में है। उन्होंने अपने पारिवारिक मामलों को छुपाने का प्रयास नहीं किया ।

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In खास खबरें

Leave a Reply

Check Also

पत्नी और पांच बच्चों को कुल्हाड़ी से काट डाला,4 की मौत, 2 की हालत गंभीर

इस वक्त एक दिल दहलाने वाली ख़बर आ रही है. जहां एक सनकी पति ने अपनी पत्नी और पांच बच्चों को…