Home खास खबरें ठनका गिरने से 90 लोगों की मौत, सीएम नीतीश ने किया मुआवजे का एलान

ठनका गिरने से 90 लोगों की मौत, सीएम नीतीश ने किया मुआवजे का एलान

0

बिहार में वज्रपात से अलग-अलग जिलों में 90 लोगों की मौत हो गई है. मरने वालों में अधिकतर किसान हैं जो खेतों में काम कर रहे थे। हादसे पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने गहरा शोक व्यक्त किया है. हालाकि आपदा प्रबंधन विभाग ने 83 लोगों के मरने की पुष्टि की है

कहां कितने की मौतें हुई
व्रजपात से सबसे ज्यादा 14 मौतें गोपालगंज जिले में हुई है। वहीं नवादा जिला में ठनका गिरने से 8 लोगों की जान चली गई. इसके अलावा पूर्वी चंपारण में 5, सीवान में 6, दरभंगा में 5, बांका में 5, भागलपुर में 6, खगड़िया में 3, मधुबनी में 8, पश्चिम चंपारण में 2, समस्तीपुर में 1, शिवहर में 1, किशनगंज में 2, सारण में 1, जहानाबाद में 2, सीतामढ़ी में 1, जमुई में 2, पूर्णिया में 2, सुपौल में 2, औरंगाबाद में 3, बक्सर में 2 मधेपुरा में 1 और कैमूर में 1 लोगों की मौत हुई है.

4-4 लाख के मुआवजे का एलान
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इस घटना पर गहरा दुख व्यक्त किया है. सीएम ने सभी मृत लोगों की आत्मा की शांति की प्रार्थना की. साथ ही उन्होंने कहा कि दुख की इस घड़ी में सरकार पीड़ित परिवारों के साथ है. सीएम ने मृतकों के परिजनों को 4-4 लाख मुआवजा देने का निर्देश भी दिया है.

खराब मौसम में घर नहीं निकलने की अपील
साथ ही नीतीश कुमार ने लोगों से खराब मौसम में घरों से नहीं निकलने और आपदा प्रबंधन विभाग की ओर से जारी किए जानेवाले निर्देशों का पालन करने की अपील की है.

वज्रपात से ऐसे करें बचाव
– बिजली कड़कने के दौरान पेड़ के नीचे खड़े न रहें
– बिजली के खंभों और ऊंचे वृक्षों से दूर ही रहें
– जल्द से जल्द किसी मकान में आश्रय लें
– लोहे की वस्तुओं से भी पर्याप्त दूरी बनाए रखें
– बिजली के उपकरणों का उपयोग नहीं करें
– खुले अथवा खेतों में मोबाइल उपयोग न करें
– ऊंची इमारत अथवा पहाड़ की चोटी पर खड़े न रहें
– तालाब या नदी में तैर या नहा रहे हों तो जमीन बाहर निकल आएं
-सिर के बाल खड़े हो रहे हों तो आसपास खतरा हो सकता है, बचें
– अपने हाथों से बालों को ढंककर सिर घुटनों में छुपाकर बैठ जाएं
– भवनों, सार्वजनिक इमारतों पर तड़ितचालक अवश्य लगाएं

 

तेजस्वी यादव ने भी शोक जताया
आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने भी इस आपदा पर ट्वीट कर शोक व्यक्त किया है. उन्होंने ट्वीट कर कहा कि बिहार के विभिन्न जिलों में वज्रपात के कारण हुई आज 83 लोगों की असामयिक मौत से मर्माहत हूं. मृतकों के परिजनों के प्रति गहरी शोक-संवेदना व्यक्त करता हूं. भगवान सभी की आत्मा को शांति प्रदान करे. सरकार से अपील है कि पीड़ित परिवारों व आश्रितों तक उपयुक्त अनुग्रह राशि यथाशीघ्र पहुंचाए.

72 घंटों में भारी बारिश की चेतावनी
बिहार में लगातार बारिश हो रही है और गुरुवार को आपदा प्रबंधन विभाग ने राज्य के 16 जिलों में अगले 72 घंटों में भारी बारिश और वज्रपात को लेकर अलर्ट जारी किया है. मौसम विभाग ने अलर्ट जारी करते हुए चेतावनी दी है कि संख्यात्मक मौसम मॉडल के आंकलन के अनुसार राज्य के कई भागों में अगले 72 घंटों के दौरान भारी बारिश और वज्रपात की संभावना है. मौसम विभाग ने कहा है कि भारी बारिश के कारण जान-माल की हानि, निचले स्थानों में जलजमाव, यातायात बाधित, बिजली की समस्या और नदी के जलस्तर में बढ़ोतरी की भी संभावना है.

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In खास खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

सोशल मीडिया पर ‘साइकिल गर्ल’ ज्योति की रेप के बाद हत्या की खबर.. जानिए सच क्या है

लॉकडाउन के दौरान पिता को गुरुग्राम से दरभंगा 1200 किलोमीटर की दूरी को साइकिल से तय कर पहुं…