Home खास खबरें प्यार की सजा: 17 साल की काजल की हत्या, शव को ठिकाने लगाते वक्त भाई गिरफ्तार

प्यार की सजा: 17 साल की काजल की हत्या, शव को ठिकाने लगाते वक्त भाई गिरफ्तार

0

बिहार में एक और बेटी को प्यार करना महंगा पड़ गया. घरवालों ने झूठी शान की खातिर 17 साल की बेटी की हत्या कर दी । शव को ठिकाने लगाते वक्त पुलिस ने मृतका के मौसरे भाई को गिरफ्तार कर लिया है.

क्या है पूरा मामला
मामला नालंदा जिला के राजगीर की है. राजगीर के तुलसी गली में रहने वाले पुजारी लाल की 17 साल की बेटी काजल कुमारी पड़ोस में ही रहने वाले युवक से प्रेम करती थी। घरवाले इसका विरोध करते थे।

इसे भी पढ़िए-दबंगों ने युवक को पेड़ से बांधकर पीटा, जानिए पूरा मामला

घरवालों शादी तय कर दी
बात बढ़ता देख घरवालों ने काजल की शादी कहीं और तय कर दी. जबकि काजल अभी नाबालिग थी. इस बात से काजल परेशान थी. काजल हर हाल में अपने प्रेमी से शादी करना चाहती थी.

आत्महत्या या हत्या ?
काजल का शव बोरे में बंद मिला. काजल के परिवार वाले उसके शव को बोरे में बंद कर गंगा नदी में बहाने की कोशिश कर रहे थे. तब गांव वालों ने देख लिया. इस दौरान काजल के मौसेरे भाई को गांव वालों ने पकड़ लिया और धुनाई कर दी. घरवालों का कहना है कि काजल ने मंगलवार को फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली थी.

इसे भी पढ़िए-मुहब्बत की सजा.. पंचायत के फरमान पर पिता ने बेटी को पेड़ से बांधा

पटना में गंगा नदी में फेंकने गए थे शव
पटना के सबलपुर गांव के पास गंगा नदी के किनारे सुबह छह बजे एक कार और एक बाइक आकर रुकी। कार में चार लोग सवार थे और बाइक पर एक। कार की डिक्की से एक बोरा निकालकर सभी उसे गंगा में फेंकने के लिए ले जाने लगे। जिसे देखकर गांव वालों को शक हुआ। वे पूछताछ करने लगे। इतने में कार में सवार चार लोग फरार हो गए। जबकि बाइक से पहुंचे एक युवक को ग्रामीणों ने धर दबोचा। बोरे में युवती की लाश देख ग्रामीण भड़क गए। लोगों ने युवक की पिटाई कर कमरे में बंद कर दिया। सूचना के बाद मौके पर नदी थाने की पुलिस पहुंची। उसके सामने ही लोग युवक को पीटने लगे। पुलिस ने मना किया तो ग्रामीण उग्र हो गए और पुलिस से ही उलझ गए।

आरोपी का क्या कहना है
आरोपी भाई का कहना है कि काजल ने मंगलवार को घर में फांसी लगा खुदकशी कर ली। साक्ष्य छिपाने के ख्याल से घरवालों ने शव को सबलपुर के समीप गंगा नदी में ठिकाने लगाने गए थे। गिरफ्तार युवक गुड्डू कुमार काजल का मौसेरा भाई है और वो नालंदा जिले के नगरनौसा का निवासी है।

मामला दर्ज
इस मामले में राजगीर थाना में मामला दर्ज कर लिया गया है. साथ ही पुलिस काजल के चाचा भीखा लाल, टुनटुन प्रसाद, सूरज कुमार और कन्हैया प्रसाद की तलाश कर रही है।

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In खास खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

नालंदा में 3 और स्वास्थ्यकर्मी कोरोना पॉजिटिव, दवा दुकानदार की मौत से हड़ंकप

नालंदा जिला में कोरोना मरीजों की तादाद लगातार बढ़ती जा रही है। जिले में कोरोना के तीन नए म…