Home खास खबरें ‘लेडी सिंघम’ की शानदार प्लानिंग, अनंत सिंह बेऊर जेल में बंद

‘लेडी सिंघम’ की शानदार प्लानिंग, अनंत सिंह बेऊर जेल में बंद

0

बिहार के बाहुबली विधायक अनंत सिंह (MLA Anant Singh)को पटना के बेउर जेल भेज दिया गया है। अनंत सिंह (Anant Singh)अगले 14 दिनों तक पटना के बेऊर जेल (Beur Jail)में ही रहेंगे.

सोमवार को फिर पुलिस मांगेगी रिमांड
रविवार छुट्टी के मोकामा के बाहुबली विधायक अनंत सिंह (Anant Singh) को बाढ़ की कोर्ट में पेश किया गया . पुलिस ने अनंत का रिमांड मांगा था. लेकिन कोर्ट ने पुलिस रिमांड देने से इनकार कर दिया. कोर्ट ने अनंत सिंह को 14 दिनों की न्यायिक हिरासत (Judicial Custudy)बेउर जेल भेज दिया। सूत्रों का कहना है कि बाढ़ पुलिस सोमवार को पुलिस रिमांड मागेगी. पुलिस का कहना है कि रविवार होने की वजह पुलिस की रिमांड की मांग पर सुनवाई नहीं हो पाई है. ऐसे में सोमवार को फिर से अनंत सिंह की रिमांड मांगेंगी.

लिपि सिंह ने की शानदार प्लानिंग
बेऊर जेल में शिफ्ट करने से पहले मोकामा विधायक अनंत सिंह की सुरक्षा के लिए बाढ़ की एएसपी लिपि सिंह ने शानदार प्लानिंग की। लिपि सिंह ने एक जैसे दो कैदी वाहन मंगाए. ताकि किसी को पता नहीं चल सके कि अनंत सिंह किस कैदी वाहन में बंद है .कैदी वाहनों के आगे खुद लेडी सिंघम लिपि सिंह अपने सरकारी वाहन से चल रही थीं। वहीं, दोनों कैदी वाहनों के पीछे भी पुलिस के सीनियर अफसर चल रहे थे। अनंत सिंह सुरक्षा में पुलिस की 22 गाड़ियों को लगाया था.

दिल्ली से पटना लाया गया था अनंत सिंह
अनंत सिंह को दिल्ली से विमान के जरिए पटना लाया गया। बिहार पुलिस सुबह करीब साढ़े आठ बजे गो एयरवेज के विमान से बाहुबली विधायक अनंत सिंह (MLA Anant Singh)को लेकर पटना एयरपोर्ट (Patna Airport) पहुंची. फिर उन्हें पटना एयरपोर्ट के वीआईपी गेट से बाहर निकालकर सीधे कैदी वैन में बिठाकर बाढ़ ले जाया गया।

डेढ़ घंटे में पटना से पहुंचे बाढ़
पटना से बाढ़ जाने में अनंत सिंह को करीब डेढ़ घंटे का वक्त लगा. एनएच 31 पर अनंत सिंह की वैन के आगे और पीछे पुलिस की गाड़ियों का लंबा काफिला था. बाढ़ पहुंचते ही अनंत को कोर्ट में पेश किया गया. कोर्ट के आसापास अनंत सिंह के समर्थकों की भारी भीड़ थी, जो अनंत सिंह जिंदाबाद के नारे लगा रहे थे.

समर्थकों ने लगाए छोटे सरकार जिंदाबाद के नारे
अनंत सिंह के बाढ़ पहुंचते ही उनके समर्थकों और कार्यकर्ताओं ने जमकर नारेबाजी की और ‘अनंत सिंह जिंदाबाद.. छोटे सरकार जिंदाबाद’ के नारे लगाए. अनंत सिंह को जिस रास्ते से लाया जा रहा था उस इलाके में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए थे, लेकिन अनंत सिंह को जैसे ही कैदी वैन से उतारा गया लोगों ने उनके समर्थन में जिंदाबाद के नारे लगाए.

17 अगस्त से चल रहा था लुकाछुपी का खेल
अनंत सिंह के पैतृक गांव नदवां वाले घर से एके 47 तथा दो हैंड ग्रेनेड समेत कारतूसों के बरामद होने के बाद अनंत सिंह 17 अगस्‍त से फरार थे। बाद में उन्‍होंने तीन वीडियो जारी किया और कहा कि वे फरार नहीं हैं तथा जल्‍द ही कोर्ट में सरेंडर करेंगे। उन्‍हें बिहार पुलिस पर भरोसा नहीं है। बाद में अनंत सिंह ने शुक्रवार को दिल्‍ली के साकेत कोर्ट में सरेंडर किया था। शुक्रवार की रात उन्‍होंने तिहाड़ जेल में गुजारी। शनिवार को साकेत कोर्ट में पुन: पेशी के बाद उन्‍हें बिहार पुलिस को सौंपी गई।

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In खास खबरें

Leave a Reply

Check Also

चुनाव प्रचार के दौरान उम्मीदवार को गोलियों से भून डाला.. जानिए पूरा मामला

बिहार विधानसभा चुनाव में खून खराबे का दौर शुरू हो गया है. चुनाव प्रचार के दौरान बदमाशों ने…