Home खास खबरें ‘लेडी सिंघम’ के निशाने पर ‘छोटे सरकार’,अनंत सिंह के घर पर चिपका नोटिस

‘लेडी सिंघम’ के निशाने पर ‘छोटे सरकार’,अनंत सिंह के घर पर चिपका नोटिस

0

छोटे सरकार के नाम से मशहूर मोकामा के बाहुबली विधायक अनंत सिंह की मुश्किलें बढ़ गई है । उन पर पुलिस ने शिकंजा कसना शुरू कर दिया है । इस बार उनकी मुश्किलें 22 मिनट के उस ऑडियो क्लिप ने बढ़ा दी है । जिसमें वो मुकेश सिंह और भोला सिंह की हत्या की सुपारी देने की बात कर रहे हैं। उनके सरकारी आवास पर पुलिस ने नोटिस चिपकाया है । हालांकि शिकंजा कसता देख बाहुबली विधायक अनंत सिंह फरार हो गये।

पुलिस ने चिपकाया नोटिस
मोकामा विधायक अनंत सिंह के सरकारी आवास एक मॉल रोड पंडारक पुलिस ने नोटिस चिपकाया है. नोटिस में एक अगस्त को 11 बजे पुलिस मुख्यालय स्थित एफएसएल (FSL) की टीम के सामने हाजिर होने का निर्देश दिया है. अनंत सिंह को वॉयस टेस्ट के लिए हाजिर होना होगा. पुलिस ने कोर्ट से ऑर्डर लिया है.

फरार हो गए विधायक
पुलिस के आने से पहले ही बाहुबली विधायक अनंत सिंह फरार हो गए. पुलिस जब पटना के उनके सरकारी आवास पर पहुंची तो वे वहां नहीं थे. उनके घर में मौजूद ने बताया कि विधायक यहां नहीं हैं। वे कहां गये हैं, ये किसी को नहीं पता। पुलिस ने जब घर में मौजूद विधायक के करीबियों से नोटिस रीसिव करने को कहा तो उन्होंने इनकार कर दिया। इसके बाद पंडारक थानेदार ने विधायक के सरकारी आवास पर नोटिस चिपका दिया। पुलिस अधिकारियों की मानें तो इस मामले में विधायक की गिरफ्तारी तय है।

इसे भी पढ़िए-टाल में फिर शुरू होगा गैंगवार ? अनंत सिंह और विवेका पहलवान के बीच जंग की पूरी कहानी.. जानिए

पुलिस ने एफएसएल में जमा किया ऑडियो
सुपारी देने वाला ऑडियो टेप पटना पुलिस ने एफएसएल में जमा कर दिया। अब एक अगस्त को विधायक को अपनी आवाज का सैंपल एफएसएल में देना होगा। इसके बाद ऑडियो और विधायक की आवाज का मिलान कराया जायेगा। अगर एफएसएल की रिपोर्ट में विधायक की आवाज होने की बात पर मुहर लगी तो पुलिस उन्हें गिरफ्तार कर सकती है। जांच टीम एफएसएल की रिपोर्ट का इंतजार कर रही है।

लेडी सिंघम के निशाने पर छोटे सरकार
इससे पहले बाढ़ पुलिस विधायक अनंत सिंह के तीन गुर्गों को गिरफ्तार कर चुकी है और उसका बयान भी ले चुकी है । जिसमें तीनों ने मुकेश और भोला की हत्या की सुपारी मिलने की बात कबूल की है। विधायक के साथ-साथ इस मामले में विकास सिंह, लल्लू मुखिया समेत अन्य पर भी गाज गिरेगी। इस मामले में बाढ़ की एडिशनल एसपी लिपि सिंह का कहना है कि पुलिस कानून के मुताबिक कार्रवाई कर रही है।

कैसे हुआ खुलासा
दरअसल, 14 जुलाई 2019 को पंडारक थाना क्षेत्र के एसबीआई बैंक के पास ग्रामीणों ने तीन की संख्या में आए अपराधी को पकड़ कर बेरहमी से पिटाई कर दी. उसे गंभीर हालत में पुलिस के हवाले किया गया. पुलिस ने जब पूछताछ की तो पता चला कि तीनों अपराधी अनंत सिंह मोकामा विधायक के द्वारा जहानाबाद के विकास सिंह के कहने पर भेजा गया था. तीनों शातिर अपराधी सुपारी किलर थे, जिन्हें बाहुबली अनंत सिंह ने अपने धुर विरोधी पंडारक निवासी भोला सिंह और मुकेश सिंह की हत्या करने के लिए भेजा था. उसके गतिविधियों की जानकारी भोला सिंह के लोगों को लग गई, जिसके कारण भोला सिंह की जान बच गई. तीनों अपराधी एक विदेशी और दो देसी कट्टे के साथ गिरफ्तार किए गए थे.

 

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In खास खबरें

Leave a Reply

Check Also

चुनाव प्रचार के दौरान उम्मीदवार को गोलियों से भून डाला.. जानिए पूरा मामला

बिहार विधानसभा चुनाव में खून खराबे का दौर शुरू हो गया है. चुनाव प्रचार के दौरान बदमाशों ने…