Home खास खबरें 11 घंटे के महामंथन के बाद कांग्रेस को मिल गया नया अध्यक्ष, क्यों लिया गया फैसला जानिए

11 घंटे के महामंथन के बाद कांग्रेस को मिल गया नया अध्यक्ष, क्यों लिया गया फैसला जानिए

0

राहुल गांधी के इस्तीफे के बाद कांग्रेस को नया अध्यक्ष मिल गया है । कांग्रेस वर्किंग कमेटी (CWC)की बैठक में शनिवार को बड़ा फैसला लिया गया. कांग्रेस अध्यक्ष पद से राहुल गांधी के इस्तीफे के बाद यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी को अब कांग्रेस का अंतरिम अध्यक्ष बनाया गया है.

सोनिया गांधी को अंतरिम अध्यक्ष
काग्रेस अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने के बाद राहुल गांधी ने कहा था कि पार्टी का अगला अध्यक्ष गांधी परिवार से नहीं होगा. उन्होंने कहा था कि न तो मैं बनूंगा और नहीं प्रियंका गांधी को जिम्मेदारी दी जाएगी. सोनिया गांधी ने खुद अध्यक्ष बनने से इनकार कर दिया था. लेकिन शनिवार को चली मैराथन बैठक के बाद ये फैसला लिया गया कि सोनिया गांधी ही कांग्रेस पार्टी का अंतरिम अध्यक्ष बनी रहेंगी. यानि जब तक नए अध्यक्ष का चुनाव नहीं हो जाता है तब तक सोनिया गांधी ही कांग्रेस की अध्यक्ष रहेंगी.इससे पहले सोनिया गांधी साल 1998-2017 तक पार्टी की कमान संभाल चुकी हैं.

क्यों सोनिया गांधी को दी गई जिम्मेदारी
दरअसल, पीएम मोदी के करिश्मा के आगे सभी राजनीतिक पार्टियां बौनी नजर आ रही है. आए दिन हर राजनीतिक पार्टियों के नेता इस्तीफा देकर बीजेपी में शामिल हो रहे हैं। ऐसे में कांग्रेस पार्टी को अपनी पार्टी बचाना सबसे बड़ी चुनौती साबित हो रही है। सीडब्लूसी की बैठक में इस बात का अंदेशा जताया गया कि अगर किसी दूसरे को अध्यक्ष बनाया जाता है तो पार्टी में टूट हो जाएगी. सीडब्लूसी चाहती थी कि राहुल गांधी ही पार्टी संभालें लेकिन राहुल के नहीं मानने पर सोनिया गांधी को इसकी जिम्मेदारी सौंपी गई

सभी कमेटियों का होगा पुनर्गठन
नालंदा लाइव के सूत्रों का कहना है सीडब्लूसी को छोड़कर कांग्रेस पार्टी में मौजूद सभी कमेटियों को भंग कर दिया जाएगा. और सोनिया गांधी नए सिरे से कमेटियों का पुनर्गठन करेंगी.

11 घंटे तक चली मैराथन मंथन
कांग्रेस वर्किंग कमिटी की बैठक शनिवार को दो बार हुई, जिसमें पूर्व कांग्रेस चीफ राहुल गांधी, सोनिया गांधी, ज्योतिरादित्य सिंधिया, प्रियंका गांधी, पूर्व पीएम मनमोहन सिंह, एके एंटनी समेत कई बड़े नेता शामिल हुए. सुबह 11 बजे हुई बैठक में नेताओं के 5 समूह बनाए गए थे, जिन्होंने देश भर के कांग्रेस नेताओं की राय ली. इन्होंने अपनी रिपोर्ट सीडब्ल्यूसी में सौंपी.रात 8 बजे जब पार्टी की दूसरी बैठक हुई तो राहुल गांधी ने साफ तौर पर कांग्रेस अध्यक्ष पद संभालने से इनकार कर दिया. इसके बाद पार्टी नेताओं ने प्रियंका गांधी को ‘कप्तान’ बनाने की मांग उठाई. लेकिन इस पर भी सहमति नहीं बन पाई. इसके बाद पार्टी नेताओं ने कहा कि सोनिया गांधी, राहुल गांधी और प्रियंका गांधी मिलकर पार्टी अध्यक्ष चुनें. लेकिन उन्होंने भी मना कर दिया. इसके बाद कोई विकल्प न बचते देख पार्टी नेताओं ने सोनिया गांधी को अंतरिम अध्यक्ष बनाने की मांग उठाई. पहले तो उन्होंने मना कर लिया. लेकिन नेताओं की गुजारिश पर उन्होंने यह पद स्वीकार कर लिया.

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In खास खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

दोस्तों के साथ शराब पीते हुए दारोगा जी को SP साहब नें रंगे हाथ गिरफ्तार किया.. जानिए पूरा मामला

बिहार में शराबबंदी (Liquor Ban) कानून को सरकारी मुलाजिम ही बड़ी आसानी से ठेंगा दिखा रहे है…