मैट्रिक रिजल्ट- टॉप 25 छात्रों का दोबारा वेरिफिकेशन, 20 जून को आएंगे नतीजे

0

दूध का जला छांछ भी फूंक-फूंक कर पीता है। कुछ ऐसा ही इस बार बिहार बोर्ड कर रहा है। इंटर के बाद अब मैट्रिक की मेधा सूची तैयार करने के पहले बोर्ड पूरी सतर्कता बरत रहा है। तभी तो रिजल्ट घोषित करने के महज चार दिन पहले टॉप-25 तक आने वाले मेधावी छात्रों के मूल्यांकित उत्तर पुस्तिका की दोबारा जांच के लिए समीक्षा समिति बनाई गयी है। वहीं छात्र को वेरिफिकेशन के लिए बुलाया गया है। सारी उत्तर पुस्तिकाओं की जांच के बाद अब रविवार से मेधावी छात्रों का वेरिफिकेशन शुरू होगा। वेरिफिकेशन के लिए जिन मेधावी छात्रों को बोर्ड ने बुलाया है, उन्हें शामिल होना अनिवार्य है। वेरिफिकेशन में शामिल होने के बाद ही इन मेधावी छात्रों को रिजल्ट मिलेगा। 20 जून को बिहार बोर्ड के दसवीं का रिजल्ट घोषित किया जाएगा

आपको बता दें कि इंटर की मेधा सूची में शामिल कई छात्रों के वेरिफिकेशन के बाद रिजल्ट रोक दिया गया था। इसमें कई छात्र बोर्ड द्वारा निर्धारित वेरिफिकेशन की तिथि में शामिल नहीं हो पाये थे।बोर्ड ने मैट्रिक के मेधावी छात्रों को स्पष्ट कर दिया है कि वेरिफिकेशन में शामिल होने के बाद ही उन्हें रिजल्ट मिलेगा। इसकी जानकारी कई अभिभावकों ने दी। मैट्रिक में टॉप स्थान प्राप्त करने वाले मेधावी छात्रों की उत्तर पुस्तिकाएं मूल्यांकन केंद्रों से मंगायी गयी हैं। मैट्रिक की मेधा सूची में टॉप-10 की सूची के अलावा जिला स्तर पर भी मेधा सूची बोर्ड जारी करेगा।

आनंद किशोर ने वेरिफिकेशन को बताया जरूरी
बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के अध्यक्ष आनंद किशोर ने कहा कि मेधा सूची में शामिल होने के पहले छात्र का वेरिफिकेशन जरूरी है। छात्रों को वेरिफिकेशन के लिए आना अनिवार्य है। इसके लिए बोर्ड छात्र को सारी सुविधाएं देता है। वेरिफिकेशन के बाद ही उन्हें रिजल्ट दिया जायेगा।

वहीं बिहार राज्य माध्यमिक शिक्षक संघ के अध्यक्ष केदार नाथ पांडे का कहना है कि छात्रों को कम से कम एक सप्ताह का समय मिलना चाहिए। अगर कोई छात्र नहीं आ पाता है तो उसका रिजल्ट रोकना उचित नहीं है। इंटर में मैंने पढ़ा है कि कई छात्रों का रिजल्ट रोक दिया गया। यह सही नहीं है।

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In खास खबरें

Leave a Reply

Check Also

नालंदा में कोरोना से फिल्म निर्माता और वकील समेत 6 लोगों की मौत

नालंदा जिले में कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर काफी खतरनाक साबित हो रही है। कोरोना की दूसरी ल…