नालंदा में कोरोना का कहर, एक ही गांव में मिले 21 नए मरीज

0

नालंदा जिला में एक बार फिर कोरोना का विस्फोट हुआ है। जिले में पिछले 24 घंटे में एक साथ 43 नए मरीज मिले हैं। जिसके बाद जिले में कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़कर 146 पहुंच गई है।

एंटीजन टेस्ट में ज्यादा मरीज
नालंदा में एंटीजन जांच में ज्यादा मरीज मिल रहे हैं। नए मरीजों में 31 एंटीजन, 9 ट्रूनेट और 4 आरटीपीसीआर जांच में पॉजिटिव पाए गए हैं। जिसमें सबसे ज्यादा परबलपुर प्रखंड में मिले हैं। बिहारशरीफ में 7, राजगीर से 6, सरमेरा से 3, वहीं हिलसा, सिलाव, थरथरी से 1-1 मरीज मिले हैं।

इसे भी पढ़िए-नालन्दा में एक ही स्कूल के 7 बच्चों को कोरोना हुआ

बिसाई बिगहा में हड़कंप
परबलपुर के बिसाई बिगहा में एक साथ 19 मरीज मिले हैं। दो दिन के दौरान इस गांव से 21 लोग पॉजिटिव पाए गए हैं। बिसाई विगहा में बढ़ते संक्रमण के बाद भी लोगों द्वारा सावधानी के प्रति लापरवाही बरती जा रही है।

इसे भी पढ़िए-नालंदा में 19 साल की युवती की शादी से पहले हत्या, होने वाले पति पर मर्डर का आरोप

माइक्रो कंटेनमेंट जोन बनाया गया
बिसाई बिगहा में दो दिनों में 21 मरीज मिलने के बाद भी लोगों द्वारा लापरवाही नहीं थम रहा है। गांव से बाहर आना-जाना अभी भी जारी है। कुछ गांव के कोचिंग संचालक भी हैं जो परबलपुर में कोचिंग चला रहे हैं। गांव से भी बड़ी संख्या में बच्चे पढ़ने आ रहे हैं। हालांकि स्थानीय प्रशासन द्वारा गांव की बैरेकेटिंग कर दी गई है और गांव को माइक्रो कंटेनमेंट जोन में तब्दील कर दिया गया है। स्वास्थ्य विभाग द्वारा मेडिकल टीम को प्रतिनियुक्त कर दिया गया है जो मरीजों पर लगातार निगरानी रखेंगे।

सरमेरा पीएचसी में दहशत
सरमेरा प्रखंड में पीएचसी प्रभारी समेत तीन स्वास्थ्य कर्मी भी संक्रमितों में शामिल हैं। जिसके बाद पीएचसी में दहशत का माहौल बना है। प्रभारी समेत दो अन्य कर्मियों में एक गार्ड और दूसरा स्वास्थ्य कर्मी हैं। सावधानी के तौर पर पीएचसी परिसर को सेनेटाईज करा दिया गया है।

जांच का दायरा बढ़ेगा
नालंदा के सिविल सर्जन डॉ. सुनील कुमार ने कहा कि मरीजों की पहचान के लिए ज्यादा से ज्यादा लोगों का सैम्पल टेस्ट किया जा रहा है। कंटेन्मेंट जोन में लगातार एन्टीजन जांच किया जा रहा है। गुरुवार को भी 2783 लोगों का सैम्पल लिया गया है जिसमें कंटेनमेंट जोन से 1053 लोगों की जांच की गई है। वहीं आरटीपीसीआर जांच के लिए 1624 और ट्रूनेट जांच के लिए 106 सैम्पल भेजा गया है।

आज भी लिया जाएगा सैम्पल
बड़ी संख्या में पॉजिटिव केस मिलने के बाद गांव में और भी मरीज मिलने की संभावना को देखते हुए शुक्रवार को भी जांच की जाएगी। सबसे पहले मरीज के क्लोज कॉन्टैक्ट वाले लोगों का सैम्पल टेस्ट किया जाएगा। इसके बाद सिम्टमेटिक लोगों का सैम्पल लिया जाएगा। एन्टीजेन टेस्ट में निगेटिव आने वाले सिम्टमेटिक लोगों का सैम्पल आरटीपीसीआर के लिए सैम्पल भेजा जाएगा। प्रभारी ने बताया कि जो भी मरीज मिले हैं उनमें किसी प्रकार का सिमटम नहीं है।

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In कोरोना अपडेट

Leave a Reply

Check Also

नालंदा में चलती स्कॉर्पियो में भीषण आग.. ड्राइवर की गलती से स्वाहा हुई गाड़ी

नालंदा जिला में चलती स्कॉर्पियो गाड़ी में भीषण आग लग गई। जिसके बाद सड़क पर कुछ देर के लिए …