Home खास खबरें बिहारशरीफ गैंगरेप मामले में पुलिस पर गिरी गाज, एक सस्पेंड, दूसरा होगा बर्खास्त.. धुल जाएंगे ‘दाग’ ?

बिहारशरीफ गैंगरेप मामले में पुलिस पर गिरी गाज, एक सस्पेंड, दूसरा होगा बर्खास्त.. धुल जाएंगे ‘दाग’ ?

0

बिहारशरीफ में नाबालिग छात्रा से गैंगरेप के मामले में नालंदा की महिला पुलिस पर लगातार सवाल उठ रहे हैं. सवाल उठ रहे हैं कि एक छात्रा को गैंगरेप का शिकायत दर्ज कराने में तीन दिन कैसे लग गए. हालांकि अब इस मामले में नालंदा के एसपी निलेश कुमार ने बड़ी कार्रवाई की है ।

जमादार सस्पेंड, होमगार्ड होगी बर्खास्त
एसपी निलेश कुमार ने लापरवाही के आरोप में महिला थाना की जमादार पूनम कुमारी को सस्पेंड कर दिया है. साथ ही होमगार्ड बेबी कुमारी के बर्खास्तगी की अनुशंसा डीएम से कर दी है। माना जा रहा है कि एसपी की अनुशंसा पर होमगार्ड की जवान बेबी कुमारी को बर्खास्त कर दिया जाएगा.

कैसे मिलेगा नालंदा की निर्भया को इंसाफ
नालंदा पुलिस की लापरवाही की वजह से नालंदा की निर्भया को इंसाफ कैसे मिल सकता है. नियम के मुताबिक वारदात के 48 से 72 घंटे के भीतर पीड़िता का मेडिकल कराया जाना चाहिए . अगर ऐसा नहीं होता है तो इस बात की पुष्टि होना संभव नहीं है कि पीड़िता के साथ गैंगरेप हुआ है . क्योंकि इस दौरान वीर्य और दूसरी चीजें धुल जाती है . पुलिस ने केस दर्ज कर कार्रवाई करने में देरी की. जिसकी वजह से दरिंदों को सबूत नष्ट करने का भरपूर वक्त मिल जाता है. जहां पर वारदात हुई होगी, उसे धो दिया गया होगा ? तीसरी बात की कार्रवाई होने में देरी की वजह से दरिंदों को भागने का वक्त मिल गया ।

गुरुवार को हुआ था गैंगरेप, शनिवार को केस दर्ज
गुरुवार को शाम 7 बजे नालंदा कॉलेज मोड़ के पास से एक छात्रा का पिस्तौल की नोंक पर अपहरण किया गया और फिर खंदकपर स्थित एक गली में ले जाकर वारदात को अंजाम दिया गया। जहां पांच दरिंदों ने बारी बारी से नालंदा की बेटी को नोंचते रहे और वीडियो बनाते रहे। हालांकि तीन दिन बाद खुद नालंदा के पुलिस कप्तान को जब इस बारे में जानकारी मिली तो वे खुद एक्टिव हुए और केस दर्ज कराकर छात्रा का मेडिकल कराया. इस मामले में मुख्य आरोपी संतोष कुमार को पटना के बाढ़ के घोसवरी इलाके के टाल से गिरफ्तार किया गया. जिसने अपना जुर्म कबूल कर लिया है । जबकि चार और आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है .

SFL की टीम ने साक्ष्य इक्ट्ठे किए
नालंदा के पुलिस कप्तान के एक्शन में आने के बाद आनन फानन में पटना से एसएफएल टीम को बुलाया गया. एसएफएल की टीम ने खंदकपर स्थित गैस गोदाम के समीप घटनास्थल से जरूरी साक्ष्यों के नमूने को एकत्र की। टीम के अधिकारियों ने बताया कि मौके से उन्हें बहुत सारे साक्ष्य मिले। 2-3 दिन दिनों में जांच रिपोर्ट नालंदा पुलिस के सुपुर्द कर दिया जाएगा

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In खास खबरें

Leave a Reply

Check Also

बाहुबली विधायक अनंत सिंह की पत्नी ने वापस लिया नामांकन.. जानिए क्यों ?

मोकामा से बाहुबली अनंत सिंह की पत्नी नीलम देवी ने अपना नामांकन वापस ले लिया है। नीलम देवी …