Home खास खबरें आ गई जांच रिपोर्ट, बुरी तरह फंसे बाहुबली अनंत सिंह.. कौन शब्द हुए मैच जानिए

आ गई जांच रिपोर्ट, बुरी तरह फंसे बाहुबली अनंत सिंह.. कौन शब्द हुए मैच जानिए

0

बिहार के मोकामा (Mokama) से बाहुबली विधायक अनंत सिंह (Anant Singh) की मुश्किलें फिलहाल कम होती नहीं दिख रही हैं. एके-47 (AK-47) बरामदगी मामले में पटना के बेउर जेल में बंद मोकामा विधायक अनंत सिंह अब वायरल ऑडियो के मामले में फंस गए हैं. पटना के ग्रामीण एसपी कांतेश मिश्रा ने इस बात की पुष्टि करते हुए कहा कि हत्या की साजिश वाले वायरल ऑडियो में मोकामा के विधायक अनंत सिंह की ही आवाज है. अनंत सिंह से जुड़ा ऑडियो वायरल होने के बाद 1 अगस्त को एफएसएल में अनंत सिंह के आवाज की जांच हुई थी. इस जांच रिपोर्ट को गुरुवार को बाढ़ कोर्ट में पेश किया गया है.

क्या है मामला ?
दरअसल, भोला सिंह और उसके भाई मुकेश नाम के व्यक्ति की हत्या की सुपारी देने का एक ऑडियो वायरल हुआ था. आरोप था कि इस ऑडियो में बिहार के बाहुबली विधायक अनंत सिंह की आवाज थी. मामला सामने आने के बाद अनंत सिंह का वॉयस टेस्ट करवाया गया था. जांच के बाद फॉरेंसिक साइंस लैब ने जांच रिपोर्ट पुलिस को सौंप दी थी, जिसे गुरुवार को बाढ़ कोर्ट में पेश किया गया. वायरल टेस्ट में आवाज का सही मिलान होने के बाद अब अनंत सिंह की मुश्किलें बढ़ गई हैं.

24 मिनट 58 सेकेंड का था विधायक का ऑडियो सैंपल
अनंत सिंह से जुड़े जिस ऑडियो सैंपल को जांच के लिए फोरेंसिक विभाग ने लिया था, वह 24 सेकेंड 58 मिनट का था। गुरुवार की सुबह कोर्ट खुलते ही पंडारक थानेदार रमण वशिष्ठ पुलिस बल के साथ बाढ़ कोर्ट पहुंचे और अपर न्यायिक दंडाधिकारी की अदालत में सीलबंद लिफाफे में वॉयस सैंपल रिपोर्ट पेश की। इस दौरान अदालत में काफी गहमागहमी थी। अनंत सिंह के काफी समर्थक भी वहां मौजूद थे। इसके अलावा हर शख्स यह जानने को उत्सुक था कि रिपोर्ट में क्या है?

ये शब्‍द हुए मैच
न्यायिक अधिकारी के निर्देश पर लिफाफा खोला गया। जज ने रिपोर्ट को पढ़ा। इसके बाद पता चला कि अनंत सिंह के वॉयस सैंपल से बीस शब्द उसमें मैच पाए गए हैं। मैच हुए शब्दों में छप्पन, बुतरु, बैरलवा, सिक्सर, सिस्टमा, फायदा, आधा घंटा, घोड़ा जे, अदमिया, सौ परसेन, मोबइलवा, एक्टिव, मुखिया, बिहने, भेजब, एकदम, बरियार, गोली भी, सांझ के, कुल के मंगा, होशियार, अपने कर, गोलिया, कैले रह ।

14 जुलाई को दर्ज हुआ था केस
ऑडियो की आवाज के आधार पर पुलिस ने छानबीन की तो इसमें विधायक की आवाज प्रतीत हुई. इस मामले में पंडारक थाने में 14 जुलाई को केस दर्ज किया गया था. विधायक पर हत्या की साजिश करने की धाराएं लगाई गई हैं. इस जांच रिपोर्ट को 34 दिन बाद लाल रंग के सीलबंद लिफाफे में पटना पुलिस को सौंपी गई थी.

अनंत ने बताया था फर्जी
ऑडियो वायरल हुआ तो चारों तरफ हंगामा मच गया था. इस दौरान अनंत सिंह ने वायरल ऑडियो को फर्जी बताया था. वह इस मामले में काफी दिन तक गायब रहे, लेकिन फिर पुलिस मुख्यालय आकर उन्होंने अपना वॉयस सैंपल दिया था. इसके बाद मामले की जांच आगे बढ़ी थी.

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In खास खबरें

Leave a Reply

Check Also

चुनाव प्रचार के दौरान उम्मीदवार को गोलियों से भून डाला.. जानिए पूरा मामला

बिहार विधानसभा चुनाव में खून खराबे का दौर शुरू हो गया है. चुनाव प्रचार के दौरान बदमाशों ने…