Home खास खबरें बिहारशरीफ गैंगरेप में 5 में से 1 दरिंदा गिरफ्तार, महिला पुलिस पर उठे सवाल

बिहारशरीफ गैंगरेप में 5 में से 1 दरिंदा गिरफ्तार, महिला पुलिस पर उठे सवाल

0

बिहारशरीफ में छात्रा के साथ गैंगरेप मामले में नालंदा पुलिस को बड़ी कामयाबी मिली है । पुलिस ने पांच में से एक दरिंदे को गिरफ्तार कर लिया है। मुख्य आरोपी संतोष कुमार ने पुलिस के सामने अपना जुर्म कबूल कर लिया है साथ ही सनसनीखेज खुलासा भी किया है ।

श्रवण नामक दरिंदा बना रहा था वीडियो
पिस्तौल की नोंक पर छात्रा से दरिंदगी के मामले में नालंदा पुलिस ने मुख्य आरोपी संतोष कुमार को गिरफ्तार कर लिया है। मुख्य आरोपी संतोष कुमार ने पुलिस के सामने स्वीकार किया है कि उसने पांच लोगों के साथ मिलकर वारदात को अंजाम दिया है। साथ ही खुलासा किया कि एक आरोपी श्रवण पूरी वारदात का वीडियो बना रहा था।

छात्रा को ब्लैकमेल करने के लिए वीडियो बनाया
नालंदा की बेटी से साथ जिन दरिंदों ने दरिंदगी की है । उसमें से एक संतोष कुमार का कहना है कि पीड़िता को ब्लैकमेल करने के लिए गैंगरेप का वीडियो बनाया था । उसने पुलिस को बताया कि लड़की को डराने के लिए वीडियो बनाया. ताकि उसे ब्लैकमेल किया जा सके और जब बुलाएं तो वो आ जाए. साथ ही वहशी दरिंदा ने ये भी कहा कि वीडियो बनाने के पीछे ये भी मंशा थी कि उसे डराया जा सके कि पुलिस केस मत करना बर्ना वीडियो वायरल कर दूंगा ।

इसे भी पढ़िए-बिहारशरीफ में पढ़ाई करने आई छात्रा के साथ गैंगरेप, 5 दरिंदों ने बनाया VIDEO

सवालों के घेरे में नालंदा पुलिस
छात्रा से गैंगरेप के मामले में नालंदा पुलिस की कार्यशैली पर भी सवाल उठ रहे हैं. आखिर एक बेटी को गैंगरेप की शिकायत दर्ज कराने के लिए तीन दिनों तक महिला थाने का चक्कर क्यों लगाना पड़ा ? छात्रा के साथ गुरुवार को गैंगरेप की वारदात होती है. वो तीन दिनों तक महिला थाने का चक्कर लगाती है और फिर जाकर अगर शनिवार को शिकायत दर्ज होती तो इससे ज्यादा शर्मनाक बात और क्या हो सकती है ? उस महिला थाने का औचित्य ही क्या रह जाता है जब एक बेटी की शिकायत तक नहीं दर्ज हो पाती है. पीड़िता की बहन का कहना है कि जब एक महिला और लड़की की बात सुनने वाला कोई नहीं है तो महिला थाना का क्या मतलब। उसकी बहन तीन दिनों तक थाने की चक्कर लगाती रही और उसकी बात किसी ने नहीं सुनी। हालांकि महिला थानाध्यक्ष सीमा कुमारी ने कहा कि शनिवार की रात में उन्हें सूचना मिली। सूचना मिलते ही उन्होंने नाबालिग को बुलाया और घटनाक्रम की जानकारी ली। रात में ही कई जगहों पर छापेमारी भी की गई।

दिल्ली में रहते हैं पीड़िता के माता पिता
पीड़िता की मां ने कहा कि उन्हें समझ में ही नहीं आ रहा है कि क्या कहें। हवस के दरिदों ने उनकी बेटी की जीवन को बर्बाद कर दिया। वो अपने पति के साथ दिल्ली में रहती हैं और सिलाई का काम करती है। सूचना मिलते ही वो बिहारशरीफ आ गई। बेटी बिहारशरीफ में रहकर पढ़ाई करती है। उन्होंने कहा कि बेटी के न्याय के लिए वो आखिरी सांस तक लड़ेंगी।

आपको बता दें कि गुरुवार को शाम 7 बजे पीड़ित छात्रा सब्जी लाने के लिए निकली थी. जैसे ही वो नालंदा कॉलेज मोड़ के पास पहुंची, वैसे ही बाइक सवार दरिंदों ने पिस्तौल दिखाकर किडनैप कर लिया था और फिर खंदकपर के गैस गोदाम गली स्थित एक मकान में ले जाकर उसके शरीर को नोंचा था।

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In खास खबरें

Leave a Reply

Check Also

बाहुबली विधायक अनंत सिंह की पत्नी ने वापस लिया नामांकन.. जानिए क्यों ?

मोकामा से बाहुबली अनंत सिंह की पत्नी नीलम देवी ने अपना नामांकन वापस ले लिया है। नीलम देवी …