Home खास खबरें बाल-बाल बची श्रमजीवी एक्सप्रेस, ड्राइवर ने बचाई सैंकड़ों यात्रियों की जान.. जानिए कैसे

बाल-बाल बची श्रमजीवी एक्सप्रेस, ड्राइवर ने बचाई सैंकड़ों यात्रियों की जान.. जानिए कैसे

0

बिहार में बड़ा रेल हादसा (Rail Accident) टल गया। जब नई दिल्ली से राजगीर आ रही श्रमजीवी एक्सप्रेस हादसे का शिकार होते होते बाल-बाल बच गई. अगर हादसा हो जाता तो सैंकड़ों यात्रियों की जान जा सकती थी

क्या है पूरा मामला
मामला दानापुर रेल मंडल (Danapur Rail Division) के डुमरांव स्टेशन (Dumaraon Station) का है. जहां श्रमजीवी एक्‍सप्रेस (Shramjeevi Express) टूटी पटरी (Broken Rail Track) से गुजर गई। हालांकि, ट्रेन के चालक (Train Driver) को पटरी के टूटे होने का अहसास हो गया और उसने इसकी सूचना कंट्रोल रूम को दे दी। इसके बाद बाद की पटरी की मरम्‍मत कर ट्रेनों का परिचालन सामान्‍य कराया गया।

टूटी पटरी पर चालक ने धीरे-धीरे निकाली ट्रेन
श्रमजीवी एक्सप्रेस डुमरांव से जैसे ही आगे बढ़ी कि कुछ ही दूरी के बाद पटरी टूट गई। पटरी टूटने का अहसास होने पर चालक ने धीरे-धीरे ट्रेन को निकाला तथा तुरंत इसकी सूचना दानपुर रेल कंट्रोल के साथ डुमरांव कंट्रोल को भी दी।

सूझबूझ से टला बड़ा हादसा, बची सैकड़ों जान
ये संयोग रहा कि ट्रेन के गुजरते वक्‍त पटरी टूटने की आशंका चालक को हो गई और उसने तत्‍काल स्‍पीड कम कर सतर्कता से ट्रेन को निकाल लिया। इस दौरान ट्रेन का संतुलन असामन्‍य रहने के कारण यात्री भयभीत रहे। अगर चालक समय पर सूझबूझ से काम नहीं लेता तो बड़ी दुर्घटना हो सकती थी।

रेलकर्मियों ने तुरंत की पटरी की मरम्‍मत
रेल सूत्रों ने बताया कि अगर श्रमजीवी एक्‍सप्रेस की स्पीड अगर अधिक रहती तो बड़ी रेल दुर्घटना हो सकती थी। डुमरांव स्टेशन प्रबंधनक सचिन यादव ने बताया कि सुबह 6.40 बजे डाउन श्रमजीवी एक्सप्रेस गुजर रही थी तभी पोल संख्या 644/10-12 के बीच पटरी चटक गई। हालांकि, जानकारी होने के बाद तुरंत कर्मियों द्वारा पटरी को दुरूस्त कर दिया गया।

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In खास खबरें

Leave a Reply

Check Also

नालंदा में युवक की गोली मारकर हत्या.. इलाके में सनसनी

नालंदा जिला में आपसी रंजिश में एक व्यक्ति की हत्या कर दी गई। हत्या की वारदात के बाद गांव म…