Home अपराध कृषि मंत्री प्रेम कुमार पर जानलेवा हमला.. बीजेपी विधायक भी थे निशाने पर

कृषि मंत्री प्रेम कुमार पर जानलेवा हमला.. बीजेपी विधायक भी थे निशाने पर

0

बिहार के कृषि मंत्री डॉ प्रेम कुमार पर जानलेवा हमला हुआ है. जिसमें वो बाल-बाल बच गए हैं. बताया जा रहा है कि हमलावरों के निशाने पर बीजेपी विधायक मनोज वर्मा भी थे. कहा जा रहा है कि सुरक्षाकर्मियों की सूझबुझ की वजह से दोनों बाल-बाल बच गए

क्या है पूरा मामला
मामला औरंगाबाद जिला के बंदेया थाना क्षेत्र के चपरा गांव की है. बताया जा रहा है कि कृषि मंत्री डॉ प्रेम कुमार और बीजेपी विधायक मनोज शर्मा पर जानलेवा हमला करने का प्रयास किया गया. लेकिन मंत्री और विधायक के सुरक्षाकर्मियों की सूझबुझ की वजह से मामला टल गया.

इसे भी पढ़िए-बिहार में किस पार्टी में कितने दागी विधायक.. किस पार्टी में कितने करोड़पति MLA जानिए

डॉक्टर प्रेम कुमार ने क्या कहा
कृषि मंत्री डॉ प्रेम कुमार के मुताबिक शाम पांच बजे के करीब जब वे स्थानीय बीजेपी विधायक मनोज शर्मा के साथ ग्रामीणों और कार्यकर्ताओं के आग्रह पर चपरा गांव में जनसंपर्क करने पहुंचे और एक सभा को संबोधित कर रहे थे. तभी करीब 20-25 की संख्या में राष्ट्रीय जनता दल के कथित कार्यकर्ता व समर्थकों ने अचानक जानलेवा हमला करने का प्रयास किया.लेकिन सुरक्षा कर्मियों व पुलिस की तत्परता से वे बाल-बाल बच गये .

इसे भी पढ़िए-चुनाव आयोग ने बिहार में 12 पार्टियों का चुनाव चिन्ह बदला.. जानिए किस पार्टी को क्या मिला

आरजेडी समर्थकों पर आरोप
प्रेम कुमार ने कहा कि हमलावर राजद के पक्ष में नारे भी लगा रहे थे. कृषि मंत्री ने कहा कि केंद्र और राज्य सरकार की ओर से बिहार के विकास के लिए लगातार किये जा रहे कार्यों से विपक्षी पार्टी के कार्यकर्ता व समर्थक हताश हैं और आसन्न विधानसभा चुनाव के दौरान संभावित हार को देखते हुए निराशा में ऐसी घटनाओं का अंजाम देने पर उतारू हो गये हैं .

लोकतंत्र में हिंसा की जगह नहीं
डॉ कुमार ने कहा कि लोकतंत्र में किसी भी व्यक्ति को अपनी बात रखने का अधिकार है, लेकिन हिंसक तरीके से नहीं. उन्होंने कहा कि एनडीए के नेता और कार्यकर्ता राष्ट्रीय जनता दल के हिंसक रवैये से डरनेवाले नहीं हैं. उन्हें विधानसभा चुनाव में मतदान के जरिये जनता मुंहतोड़ जवाब देगी.

आरजेडी परेशान
इधर विधायक मनोज शर्मा ने कहा कि राजद बहुल गांव में सदस्यता अभियान में बहुत हद तक सफलता हासिल हुई थी. कृषि मंत्री उसी गांव में नुक्कड़ सभा को संबोधित कर रहे थे,तभी राजद समर्थकों ने वहां बवाल मचाया और उन तक पहुंचने की कोशिश की. कार्यक्रम को बाधित करने का पूरा प्रयास किया गया.

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In अपराध

Leave a Reply

Check Also

कोरोना का कहर: बीजेपी नेता और स्वास्थ्य विभाग के प्रमुख समेत 10 लोगों की मौत

बिहार में कोरोना का कहर जारी है. कोरोना के नए मरीजों की तादाद बढ़ती जा रही है. कोरोना की व…