Home बढ़ता बिहार एक और फ्लाईओवर का तोहफा.. जानिए कहां से कहां जाने में होगी सुविधा

एक और फ्लाईओवर का तोहफा.. जानिए कहां से कहां जाने में होगी सुविधा

0

पटनावासियों के साथ साथ बिहार वासियों को एक और तोहफा मिला है. पटना में एक और फ्लाईओवर की शुरुआत हो गई है. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इसका उद्घाटन कर दिया है. अब पटना वासियों को इस इलाके में जाम से मुक्ति मिल जाएगी

आर ब्लॉक फ्लाईओवर
166 करोड़ की लागत वाला यह हिस्सा 960 मीटर लंबा है। इसमें आर ब्लॉक चौराहे पर एलिवेटेड रोटरी भी बनाई गई है, जिसकी औसत लंबाई 125 मीटर है। औसतन 12 मीटर चौड़ाई वाले इस फ्लाईओवर से वीरचंद पटेल पथ, आर ब्लॉक चौराहा और विधानसभा की तरफ जाने वाले रोड की यातायात व्यवस्था सुगम होगी। इस फ्लाईओवर को विधानसभा की तरफ पहले से बने भिखारी ठाकुर पुल से भी जोड़ दिया गया है, जिसके कारण मीठापुर-गौड़ियामठ-जक्कनपुर जाने वालों को भी इसका फायदा मिलेगा। इस फ्लाईओवर का तीसरा छोर हार्डिंग पार्क की तरफ (630 मीटर लंबा) बन रहा है, जो अगले साल चालू होगा। तीनों छोर बन जाने के बाद कंकड़बाग, पटना जंक्शन और करबिगहिया की तरफ जाने वालों को बहुत सुविधा होगी।

इसे भी पढ़िए-अच्छी खबर: पटना से रांची के लिए नया रेल रूट.. जानिए कहां-कहां से जाएगी ट्रेन

विधानमंडल पहुंचना होगा आसान
आर-ब्लॉक ओवरब्रिज के पूरी तरह से बन जाने के बाद शहर के बाहरी भाग से विधानमंडल तक पहुंचने में आसानी हो जाएगी। कंकड़बाग से आने वाले लोग चिरैयाटांड़ ओवरब्रिज पार कर स्टेशन रोड ओवरब्रिज से होते हुए सीधे हार्डिंग पार्क पहुंचेंगे और वहां से आर-ब्लॉक ओवरब्रिज से होते हुए विधानमंडल पहुंच सकेंगे। मीठापुर, गांधी मैदान और बेली रोड से आने वालों को भी विधानमंडल पहुंचने में आसानी होगी।

इसे भी पढ़िए-बिहार में बन रहा है पहला हाईटेक अंतर्राज्यीय बस अड्डा (ISBT),जानिए खासियत

बेली रोड पर दबाव होगा कम
आर ब्लॉक फ्लाईओवर शुरू होने से बेली रोड, गर्दनीबाग, अनीसाबाद, फुलवारी समेत दर्जन भर इलाके के लोगों को अब जाम से निजात मिल जाएगी। बेली रोड पर ट्रैफिक का दबाव कम हो जाएगा। पश्चिम पटना से आने वाले लोग सीधे सप्तमूर्ति तक चढ़कर इनकम टैक्स की ओर जा सकते हैं। दूसरा आर्म शुरू होने पर चिरैयाटांड़ होते कंकड़बाग, बस स्टैंड आने जाने वाले इलाके के लोगों को फायदा होगा। फ्लाईओवर का पूरा हिस्सा शुरू होने की स्थिति में लोग अब बिना अवरोध के आ जा सकेंगे।

इसे भी पढ़िए-पटना एयरपोर्ट से गया एयरपोर्ट को जोड़ेगी ये सड़क.. 100 मिनट में सफर तय होगा सफर

एयरपोर्ट पहुंचने में सहूलियत
अशोक राजपथ, कंकड़बाग और बाईपास के इलाके के अलावा हाजीपुर और उत्तरी बिहार से आने वाले लोगों को जाम का भय नहीं सताएगा। फ्लाईओवर पर चढ़कर सीधे सचिवालय की तरफ उतर जाएंगे। वहां से एयरपोर्ट तक आसानी से जा सकते हैं। पहले आर ब्लॉक पर जाम के कारण बेली रोड होकर जाना मजबूरी होती थी।

इसे भी पढ़िए-बिहार की चार सड़कें फोरलेन में होगी तब्दील.. जानिए कहां से कहां तक बनेगा फोरलेन

5 महीने में शुरू हो जाएगा दूसरा हिस्सा 
आर ब्लॉक फ्लाईओवर में तीन आर्म हैं। वीरचंद पटेल पथ से सप्तमूर्ति की ओर जाने वाला आर्म शुरू हो गया है। इससे सचिवालय और राजनीतिक दलों के दफ्तरों के बीच की दूरी कम हो गई है। मीठापुर ओवरब्रिज से जुड़ने के बाद फ्लाईओवर का दूसरा हिस्सा भी पांच महीने में शुरू हो जाएगा। मीठापुर फ्लाईओवर में जुड़ जाने के बाद बस स्टैंड, कंकड़बाग, बाइपास, बुद्धमार्ग आदि जाने वाले लोगों को फायदा मिलना शुरू हो जाएगा। अभी सप्तमूर्ति से आर ब्लॉक गोलंबर तक ऊपर में रोटरी बन चुका है। यहां की रोटरी से इनकम टैक्स तक पहुंचना आसान हो जाएगा। वहीं, जल्द ही गोलम्बर की रोटरी से लेकर जीपीओ तक के आर्म का निर्माण शुरू होने से स्टेशन के जाम से भी लोगों को निजात मिल सकेगी। फिर लोग सप्तमूर्ति से चढ़कर सीधे गांधी मैदान, इनकम टैक्स, चिरैयाटांड और करबिगहिया समेत बस स्टैंड निकल जाएंगे। इस दौरान लोगों को राजधानी की भीषण जाम से छुटकारा मिल जाएगा।

इसे भी पढ़िए-बिहार में बनेगा 445 किलोमीटर लंबा अश्वगंधा कॉरिडोर.. जानिए कहां से कहां तक बनेगा

पांच फ्लाईओवर जुड़ जाएंगे
इसके तीनों आर्म बन जाने के बाद पटना के चार फ्लाईओवर आपस में जुड़ जाएंगे। आर ब्लॉक के अलावा मीठापुर, एग्जीबिशन रोड, चिरैयाटांड़, कंकड़बाग फ्लाईओवर आपस में एक दूसरे से कनेक्ट हो जाएंगे। जल्द ही बस स्टैंड के पास बनने वाला फ्लाईओवर भी इससे जुड़ेगा। इसके बाद बाइपास और बस स्टैंड से आने वाली गाड़ियां भी जाम में नहीं फंसेंगी।

इसे भी पढ़िए-अच्छी खबर- पटना में बनेगा देश का पहला तीन मंजिला ट्रैफिक सिस्टम, टू लेन,फोर लेन और मेट्रो एक साथ

कंकड़बाग और बस स्टैंड भी जाना होगा आसान
आर ब्लॉक फ्लाई ओवर के पहले आर्म को पूरा होने में पांच महीने लगेंगे। सप्तमूर्ति से चढ़कर आर ब्लॉक रोटरी से पूरब होते जीपीओ फ्लाई ओवर पर चढ़कर लोग कंकड़बाग, राजेन्द्र नगर, बस स्टैंड और गांधी मैदान तथा बुद्धमार्ग और पटना जंक्शन आ-जा सकेंगे। इस आर्म के बनने में अभी पांच महीने का वक्त लगने की संभावना अधिकारी जता रहे हैं। अब लोग इस फ्लाई ओवर से राजधानी के कई दिशाओं में आ जा सकेंगे।

इसे भी पढ़िए-नालंदा समेत 6 जिलों की सड़कें होगी चकाचक, किन सड़कों का होगा कायाकल्प जानिए

2015 में शुरू हुआ था निर्माण
आर-ब्लॉक फ्लाईओवर का निर्माण कार्य 12 नवंबर 2015 को शुरू हुआ था। इस योजना को नवंबर 2018 तक पूरा करना था। लेकिन, फ्लाईओवर के डिजाइन में गड़बड़ी के कारण यह दो बार लटका। बाद में इस ओवरब्रिज के डिजाइन में बदलाव कर पुल का निर्माण कार्य शुरू कराया गया। 166 करोड़ की लागत से इस पुल का निर्माण आर-ब्लॉक गोलबंर पर लगने वाले जाम से लोगों को मुक्ति दिलाने के लिए किया गया है।

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In बढ़ता बिहार

Leave a Reply

Check Also

नागिन का बदला पूरा.. नालंदा में सांप डंसने से सपेरे की मौत !

सांप देखना और पकड़ना रोमांचकारी तो होता है. लेकिन ये मौत के साथ खेलने के समान होता है.. कभ…