Home खास खबरें नालंदा की उम्मीदवारी की रेस में किस महिला से पिछड़े कौशलेंद्र कुमार… जानिए

नालंदा की उम्मीदवारी की रेस में किस महिला से पिछड़े कौशलेंद्र कुमार… जानिए

0

नालंदा लोकसभा सीट से जेडीयू का उम्मीदवार कौन होगा। इसे लेकर माथापच्ची जारी है । लेकिन सूत्रों के हवाले से खबर है कि इस बार पार्टी कौशलेंद्र कुमार की जगह महिला उम्मीदवार को मैदान में उतार सकती है।

रेस में पिछड़े कौशलेंद्र कुमार
नालंदा के मौजूदा सांसद कौशलेंद्र कुमार की दावेदारी इस बार कमजोर पड़ती दिख रही है। कौशलेंद्र कुमार की जगह पार्टी चंद्र किरण को मैदान में उतार सकती है। सूत्रों के हवाले से खबर है कि चंद्र किरण की दावेदारी कौशलेंद्र कुमार पर भारी पड़ रही है। जेडीयू नालंदा लोकसभा सीट से चंद्र किरण को मैदान में उतार सकती है।

इसे भी पढ़िए-सस्पेंस खत्म:- BJP-JDU और LJG किस-किस सीट पर उतारेगी उम्मीदवार.. जानिए

कौन हैं चंद्र किरण
नालंदा सीट पर जेडीयू उम्मीदवारी को लेकर जिस चंद्र किरण का नाम सामने आ रहा है । वो जेडीयू के नालंदा जिलाध्यक्ष बनारस प्रसाद की पत्नी हैं। चंद्र किरण काफी लंबे अरसे से जेडीयू में सक्रिय हैं। वे नालंदा में महिला जिलाध्यक्ष भी रहीं हैं साथ ही प्रदेश कमेटी में भी महिला उपाध्यक्ष के पद पर रह चुकी हैं। चंद्र किरण का मायका रहुई प्रखंड के धमौली बिगहा पर है। साथ ही बनारस प्रसाद को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का करीबी बताया जाता है। सूत्रों का ये भी कहना है कि पिछली बार ही चंद्र किरण और बनारस प्रसाद ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के सामने दावेदारी पेश की थी।

इसे भी पढ़िए-पटना, नालंदा,नवादा, जहानाबाद, बक्सर,आरा, जमुई और गया में कब होंगे लोकसभा चुनाव जानिए

कौशलेंद्र कुमार पर क्यों भारी पड़ रही है दावेदारी
1.कौशलेंद्र कुमार दो बार नालंदा से सांसद रह चुके हैं। ऐसे में उनके खिलाफ एंटी इनकंवेसी भी है। वहीं चंद्र किरण पार्टी का नया चेहरा होंगी ऐसे में एंटी इनकंबेसी जैसे कोई बात नहीं होगी।
2. चंद्र किरण का महिला होना उनके पक्ष में जाता है । क्योंकि नीतीश कुमार संसदीय परंपरा में महिलाओं की भागीदारी बढ़ाने के पक्षधर हैं।
3. कौशलेंद्र कुमार और चंद्र किरण दोनों ही घमैला कुर्मी हैं। ऐसे में घमैला,कोचइसा,समसमार और अवधिया जैसी कोई बात भी नहीं होगी
4. चंद्र किरण के पति बनारस प्रसाद की छवि भी काफी साफ सुथरी है । वे विवादों से परे रहे हैं ऐसे में उनकी पत्नी को उम्मीदवार बनाकर पार्टी उन्हें ईनाम दे सकती है ।

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In खास खबरें

Leave a Reply

Check Also

एक बार फिर उद्घाटन से पहले बह गया पुल.. टापू में तब्दील हो गया पूरा इलाका

बिहार में विधानसभा चुनाव से पहले उद्घाटन का दौर चल रहा है. केंद्र और बिहार सरकार रोजाना कु…