खबर का असर: घूसखोर अफसर पर FIR दर्ज, जानिए पूरा मामला

0

नालंदा लाइव की ख़बर का असर हुआ है। घूसखोर महिला कर्मचारी के खिलाफ कार्रवाई करने के आदेश दे दिए गए हैं। नालंदा के डीएम के आदेश पर महिला पर्यवेक्षक संगीता कुमार के खिलाप प्रिवेंशन ऑफ करप्शन एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है ।

क्या है मामला
दरअसल, नालंदा के बिंद प्रखंड में पदस्थापिक महिला पर्यवेक्षक संगीता कुमारी द्वारा घूस लेने का वीडियो सामने आया था। जिसकी ख़बर आपके अपने न्यूज़ पोर्टल नालंदा लाइव पर छापी गई थी। साथ ही नालंदा लाइव के फेसबुक पेज पर वीडियो को दिखाया गया था। जिसके बाद नालंदा के जिलाधिकारी शशांक शुभंकर ने जांच के आदेश दिए थे

जांच में सही पाया गया वीडियो
नालंदा के जिलाधिकारी द्वारा जांच के आदेश के बाद नालंदा के जिला प्रोग्राम पदाधिकारी ने इस पूरे मामले की जांच की थी । शुरुआती जांच में वीडियो को सही माना गया और उनकी रिपोर्ट के आधार पर संगीता कुमारी के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया ।

किस एक्ट के तहत मुकदमा
जांच रिपोर्ट में आरोपी महिला कर्मचारी संगीता कुमारी पर घूस लेने का आरोप सही पाया गया । जिसके बाद नालंदा के डीएम ने त्वरित कार्रवाई करते हुए मुकदमा दर्ज करने और विभागीय कार्रवाई का आदेश दिया है। जिसके बाद आरोपी महिला पर्यवेक्षक संगीता कुमारी के खिलाफ बिंद थाना में प्रिवेंशन ऑफ करप्शन एक्ट के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई है। जिसका नंबर है एफआईआर नंबर- 64/22)।

इसे पढ़िए-घूस लेते अफसर की तस्वीर कैमरे में कैद.. डीएम ने दिए जांच के आदेश

क्या है आरोप
दरअसल बिंद प्रखंड में पदस्थापित पर्यवेक्षिका संगीता कुमारी हर आंगनबाड़ी केंद्र से रजिस्टर मेंटेन के नाम पर तीन तीन हजार रुपए घूस लेती थी। जिसका वीडियो वायरल हुआ था। जिसके बाद जिलाधिकारी ने संज्ञान में लेते हुए जांच का आदेश दिया था। आपको बता दें कि नालंदा लाइव ने प्रमुखता से इस खबर को प्रसारित किया था। महिला कर्मचारी के खिलाफ लगातार शिकायतें मिल रही थी

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In खास खबरें

Leave a Reply

Check Also

दुल्हनिया संग हनीमून मनाने चले तेजस्वी यादव.. आरजेडी में मचा है घमासान

तेजस्वी यादव अपनी पत्नी राजश्री के साथ लंदन रवाना हो गए हैं। शादी के बाद ये उनकी पहली विदे…