नालंदा में दारोगा समेत 8 जवानों पर कार्रवाई, दारोगा सस्पेंड.. मुंशी पर संगीन आरोप

0

नालंदा जिला में एक दारोगा और होमगार्ड के सात जवानों पर गाज गिरी है. नालंदा के एसपी ने दारोगा को सस्पेंड कर दिया है. जबकि होमगार्ड के सात जवानो को एक साल तक काम करने पर प्रतिबंध लगा दिया है.

कहां के दारोगा सस्पेंड
राजगीर थाना के दो कैदियों के सदर अस्पताल से फरार होने में एसपी की गाज एक दारोगा और सात होमगार्ड के जवानों पर गिरी है। एसपी हरि प्रसाथ एस ने दारोगा संजय कुमार-2 को सस्पेंड करते हुए सात होमगार्ड के जवानों को एक साल के लिए कार्य से वंचित कर दिया।

इसे भी पढ़िए-नालंदा में गूंगी लड़की के साथ गैंगरेप.. गांववालों ने आरोपी को पेड़ से बांधकर पीटा

मुंशी पर गंभीर आरोप
कार्रवाई की जद में आए तीन होमगार्ड के जवानों ने एसपी कार्यालय में आवेदन देकर मुंशी नरेश प्रसाद पर गंभीर आरोप लगाए हैं। जवानों का आरोप है कि रामाश्रय यादव के मां की मौत हो गई थी। इस कारण वो गांव गए थे। कारु और नागो दिवा गश्ती कर रहे थे। इसके बाद भी मुंशी नरेश ने उनलोगों का नाम कैदियों को ले जाने वाले कमान पर अंकित कर दिया। जवानों ने साजिश के तहत फंसाने का आरोप लगाया है।

इसे भी पढ़िए-शराबी बीडीओ रंगे हाथ गिरफ्तार, थाना से मिला बेल.. कैसे

किस किस पुलिस वालों पर कार्रवाई
राजगीर थाना के दारोगा संजय कुमार-2, होमगार्ड जवान, राम गुलाम पासवान, राम हृदय प्रसाद यादव, अर्जुन यादव, रामाश्रय यादव, कारु प्रसाद, जर्नादन यादव और नागो यादव।

क्या है पूरा मामला
दरअसल, राजगीर थाना पुलिस ने 5 फरवरी की रात वाहन सवार 5 लोगों को नशे की हालत में गिरफ्तार किया। न्यायालय ले जाने से पहले कैदियों को कोरोनो जांच के लिए सदर अस्पताल लाया गया। जहां से नूरसराय के गोडिहा गांव निवासी इंद्रजीत पासवान का पुत्र गोरे पासवान और सोहसराय के लोहगानी निवासी लोहा पासवान का पुत्र दीपक पासवान फरार हो गया था।

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In पुलिस प्रशासन

Leave a Reply

Check Also

चपरासी से TTE में हुआ प्रमोशन तो बन गया ‘नरपिचाश’… जानिए पूरी वारदात

नालंदा जिला में महज एक शख्स महज कुछ पैसे के लिए नरपिचाश बन गया। जिसके साथ सात जन्मों तक सा…