Home अपराध बिहारशरीफ में फिल्मी स्टाइल में अपहरण, सिंघम स्टाइल में शेखपुरा का किडनैपर गिरफ्तार..

बिहारशरीफ में फिल्मी स्टाइल में अपहरण, सिंघम स्टाइल में शेखपुरा का किडनैपर गिरफ्तार..

0

बिहार में विधानसभा चुनाव के दौरान अपराध की घटनाएं बढ़ती जा रही है. बिहारशरीफ में फिल्मी स्टाइल में एक बिजनसमैन का अपहरण किया गया. तो बिहार थाना पुलिस भी सिंघम स्टाइल में बदमाशों को धर दबोचा.. ये सब कुछ फिल्मी स्टाइल में हुआ

क्या है मामला
बिहार शरीफ के भैंसासुर मोहल्ला के रहने वाले 35 साल के कारू महतो का फिल्मी स्टाइल में अपहरण हुआ. दरअसल, व्यवसायी कारू महतो किसी काम से घर से बाहर निकले थे। तभी घात लगाए पांच बदमाशों ने पिस्तौल के बल पर उसका अपहरण कर लिया और बोलेरो में बैठाकर फरार हो गए.

राहगीरों ने दी पुलिस को सूचना
घटना के वक्त वहां से गुजर रहे राहगीरों को लगा कि दाल में कुछ काला जरूर है. बस एक हिम्मती राहगीर ने पुलिस को फोन कर सूचना दी और वारदात के बारे में बताया

इसे भी पढ़िए-नालंदा की डॉक्टर बेटी का कोरोना से निधन.. गार्ड ऑफ ऑनर के साथ अंतिम संस्कार

सिंघम स्टाइल में गिरफ्तारी
पुलिस को जैसे ही किडनैपिंग की जानकारी मिली. वैसे ही बिहार थाना के थानाध्यक्ष और तेजतर्रार पुलिस अफसर दीपक कुमार ने बिना वक्त गवाए किडनैपर का पीछा कर दिया और दीपनगर थाना इलाके के बाईपास के पास किडनैपर को घर दबोचा

दो किडनैपर गिरफ्तार, तीन फरार
पुलिस ने दो अपहरणकर्ता को बाईपास के पास गिरफ्तार कर लिया और अगवा व्यवसायी कारू महतो को सकुशल बरामद कर लिया. लेकिन बाकी के तीन अपहरणकर्ता बोलेरो लेकर फरार हो गए. गिरफ्तार दो अपहरणकर्ताओं में से एक का नाम राहुल कुमार उर्फ सोनू है जो शेखपुरा जिला के बरबीघा थाना के मालदह गांव का रहने वाला है. जबकि दूसरा नालंदा जिला के चंडी थाना के रामपुर गांव का रहने वाला संजीव कुमार उर्फ विपिन है.

इसे भी पढ़िए-नालंदा पुलिस ने फिल्मी स्टाइल में अपहरणकर्ताओं को पकड़ा और बच्चे को छुड़ाया

30 लाख रुपए के लिए किडनैपिंग
गिरफ्तार बदमाशों ने पूछताछ में खुलासा किया कि 30 लाख रुपए की फिरौती के लिए अपहरण किया गया था. पुलिस के मुताबिक फ्लिपकार्ट के कर्मचारी से लूटपाट के मामले में भी इनके खिलाफ केस चल रहा है.

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In अपराध

Leave a Reply

Check Also

पावापुरी मेडिकल कॉलेज के डॉक्टर सस्पेंड.. जानिए क्यों ?

पावापुरी मेडिकल कॉलेज में चार दिनों से चलता आ रहा बवाल आखिरकार थम गया. विम्स अस्पताल के आर…