Home बिहार शरीफ नालंदा में दर्जनों टीचरों पर गिरी गाज, कई गायब थे, तो कई मोबाइल पर गेम खेल रहे थे

नालंदा में दर्जनों टीचरों पर गिरी गाज, कई गायब थे, तो कई मोबाइल पर गेम खेल रहे थे

0

नालंदा जिला प्रशासन की लगातार कोशिशों के बावजूद मास्टर साहब सुधरने का नाम नहीं ले रहे हैं । हालत ये है कि जिले के शिक्षा पदाधिकारी खुद निरीक्षण करने पहुंचे और वहां चीजें देखकर खुद भौचक्के रह गए. औचक निरीक्षण के दौरान विद्यालय तो खुला मिला लेकिन वहां एक भी कक्षा संचालित नहीं हो रही थी।

औचक निरीक्षण में क्या दिखा
नालंदा के डीईओ मनोज कुमार ने बताया कि 6 विद्यालयों का औचक निरीक्षण किया जिसमें कमोबेश लगभग एक जैसी स्थिति दिखी। डीईओ ने कार्रवाई करते हुए सभी 21 शिक्षकों के वेतन पर रोक लगाते हुए शो कॉज़ पूछा है। उन्होने बताया कि शो कॉज़ का संतोषजनक जवाब नहीं देने पर विभागीय कार्रवाई की जाएगी। निरीक्षण के दौरान एमआईएस प्रभारी चन्दन कुमार,कार्यालय सहायक राजेश कुमार उपस्थित थे।

मध्य विद्यालय सिलाव का हाल
जिला शिक्षा पदाधिकारी मनोज कुमार के मुताबिक मध्य विद्यालय सिलाव में 10 में से 7 टीचर गायब थे. उन्होने बताया कि सिर्फ तीन शिक्षक उपस्थित मिले। डीईओ ने कार्रवाई करते हुए सभी शिक्षकों से शो कॉज़ पूछा है। उन्होने बताया कि तत्काल सभी शिक्षकों का वेतन बंद कर दिया गया है।

स्कूल खुला था टीचर और हेडमास्टर गायब थे
वहीं उर्दू प्राथमिक विद्यालय का हाल से इससे भी बुरा दिखा। स्कूल खोलने कि जिम्मेवारी एच एम और शिक्षकों को दी गई है तो यहां तालीमी मरकज स्कूल खोलकर बैठे मिले। लेकिन सभी टीचर गायब मिले

स्कूल में सिर्फ एक टीचर दिखे
मध्य विद्यालय फ़तेहपुर सिलाव में निरीक्षण के दौरान में सिर्फ एक शिक्षक उपस्थित मिले। जबकि बाकी 7 शिक्षक अनुपस्थित मिले। बच्चे मैदान में खेलते दिखे और जो एक मात्र शिक्षक उपस्थित भी मिले वो भी अपनी हाजरी नहीं बनाए हुए थे।

कहीं मोबाइल पर व्यस्त दिखे टीचर
डीईओ ने बताया कि उत्क्रमित मध्य विद्यालय हसनपुर में कक्षा संचालित नहीं की जा रही थी। पिछले निरीक्षण की तरह इस बार भी शिक्षिका मोबाइल में व्यस्त दिखीं और बच्चे बाहर खेलते नजर आयें। उन्होने कहा कि यहां तक कि हेडमास्टर भी अपने कमरे में कुर्सी पर बैठे मिले। सभी शिक्षकों को डीईओ ने कड़ी फटकार लगायी।

गैस की जगह जलावन पर बन रहा था खाना
डीईओ ने बताया कि प्राथमिक विद्यालय सीमा में विभाग के आदेश कि धज्जियां उड़ाते हुए लकड़ी पर खाना बनाया जा रहा था। खाना बनाने के दौरान किचेन शेड से धुआं भी निकाल रहा था। डीईओ ने निरीक्षण के क्रम में अन्य अधिकारी को किचेन की जांच के लिए भेजा तो पाया कि गैस रहते खाना जलावन पर तैयार किया जा रहा था।

किन किन टीचरों के वेतन रोके गए
– मध्य विद्यालय कूल सिलाव के शर्वीला कुमारी,सूर्य प्रकाश,शबा तरन्नुम,माया सिन्हा,सरिता कुमारी,विद्या कुमारी,मीरा कुमारी
– मध्य विद्यालय फ़तेहपुर के मो मोबिन उद्दीन,सच्चिदानंद कुमार,गीता कुमारी,रंजू कुमारी,कुमारी चित्र गंधा,रजनीश राजेश,साहीन प्रवीण
– उर्दू प्राथमिक विद्यालय सिलाव के तनवीर आलम,हीना प्रवीण,प्राथमिक विद्यालय सीमा के सुरजमणि देवी
– उत्क्रमित मध्य विद्यालय हसनपुर के श्रवण
– उत्क्रमित मध्य विद्यालय नाहूब के रश्मि कुमारी,निशांत प्रवीण

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In बिहार शरीफ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

KBC में बिहार का बजा डंका, अजीत कुमार बने चौथे करोड़पति

कौन बनेगा करोड़पति सीजन 11 को चौथा करोड़पति मिल गया है । बिहार के अजित कुमार ने सभी सवालों…