Home अपराध पटना में ट्रेन से कटकर नालन्दा के हवलदार की मौत,सदमे में पूरा परिवार

पटना में ट्रेन से कटकर नालन्दा के हवलदार की मौत,सदमे में पूरा परिवार

0

पटना के राजेन्द्र नगर टर्मिनल प्लेटफॉर्म नंबर चार पर हटिया-इस्लामपुर ट्रेन से गिरकर रांची पुलिस लाइन में कार्यरत झारखंड पुलिस के हवलदार की मौत हो गई। प्लेटफार्म नंबर चार से सटे डाउन रेलवे ट्रैक से हवलदार का क्षत-विक्षत शव बरामद किया गया।

नालन्दा के रहने वाले थे रविन्द्र
मृतक हवलदार रविन्द्र पासवान (59) नालंदा जिले के इस्लामपुर थाना के कासिमपुर गांव निवासी थे। हादसे को लेकर राजेंद्र नगर रेल थाना में केस दर्ज किया गया है। शव का पोस्टमार्टम पटना में कराया गया।

एक महीना बची थी नौकरी
रविन्द्र पासवान साल 1984 में पुलिस विभाग में बहाल हुए थे। वर्तमान में झारखंड के रांची पुलिस केन्द्र में कार्यरत थे। झारखंड पुलिस केंद्र से अनुमति अवकाश लेकर इस्लामपुर आ रहे थे। इस दौरान राजेंद्र नगर रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर चार पर जल्दबाजी में हटिया इस्लामपुर ट्रेन पर चढ़ने के दौरान रेलवे ट्रैक के नीचे गिर पड़े। पहिए से कटकर दर्दनाक मौत हो गई।

कासिमपुर में रहता है परिवार
हवलदार रविन्द्र पासवान का परिवार इस्लामपुर कासिमपुर गांव में रहता है। वहां पत्नी माला देवी अपने दो बेटे और दो बेटी के साथ रहती हैं और दो बेटी की शादी पहले ही हो गई थी। दोनों बेटे अभी बेरोजगार है।

सदमे में पूरा परिवार
शव कासिमपुर गांव पहुंचते ही पत्नी और बच्चे चीत्कार करने लगे। उन्हें देख वहां मौजूद हर एक की आंखें नम हो गई। गांव के लोगों का हृदय विदारक चीत्कार से पूरा माहौल गमगीन हो गया है। पति का शव देख माला देवी बार-बार कहती कि अपने जीते -जीते दो और बेटी के हाथ पीला करने की इच्छा अधूरी ही रह गई।

आखिरी बार पत्नी से हुई थी बात
हवलदार रविन्द्र पासवान घर आने के लिए जब निकला तो उसने अपनी पत्नी को फोन कर बताया था। क्या पता था कि शायद यह उनकी आखिरी बात हो रही है। उनके घर वालों को इसकी सूचना दी तो किसी को भी एक पल के लिए यह विश्वास नहीं हुआ कि आखिर यह सब कैसे हो गया।

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In अपराध

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

दोस्तों के साथ शराब पीते हुए दारोगा जी को SP साहब नें रंगे हाथ गिरफ्तार किया.. जानिए पूरा मामला

बिहार में शराबबंदी (Liquor Ban) कानून को सरकारी मुलाजिम ही बड़ी आसानी से ठेंगा दिखा रहे है…