Home बिहार शरीफ नालंदा वालों को दोहरी खुशी.. रेल मंत्री ने दिए दो-दो मेमू ट्रेन.. खासियत जानिए

नालंदा वालों को दोहरी खुशी.. रेल मंत्री ने दिए दो-दो मेमू ट्रेन.. खासियत जानिए

0

नालंदा जिला वालों का लंबा इंतजार आखिरकार खत्म हो गया। दिल्ली-मुंबई की तरह राजगीर और इस्लामपुर रेलवे लाइन पर अब मेमू ट्रेन सरपट दौड़ेगी। रेल मंत्री पीयूष गोयल ने दो-दो मेमू ट्रेन चलाने का आदेश दे दिया है। एक ट्रेन राजगीर-बख्तियारपुर-पटना रुट पर चलेगी । तो दूसरी इस्लामपुर-फतुहां-पटना रुट पर चलेगी ।

सांसद कौशलेंद्र कुमार ने की थी मांग
नालंदा के सांसद कौशलेंद्र कुमार ने 17 दिसंबर 2018 को इसकी मांग लेकर रेलमंत्री पीयूष गोयल से मुलाकात की थी। सांसद कौशलेंद्र कुमार ने दोनों रूट पर एक-एक मेमू ट्रेन चलाने की मांग की थी। कौशलेंद्र कुमार का कहना था कि इन रेल खंडों पर मात्र एक ही डीएमयू गाड़ी चलती है। यात्री डिब्बों के उपर और लटककर लोग यात्रा करते हैं । सांसद के अनुरोध पर रेलमंत्री ने इस्लामपुर-पटना भाया फतुहा सवारी गाड़ी को मेमो सेवा में बदलने की अनुमति हाजीपुर के महाप्रबंधक को निर्गत किया है।

इसे भी पढ़िए-नालंदा जिलावासियों को मिलेगा न्यू ईयर गिफ्ट !

सवारी गाड़ी की जगह चलेगी मेमू ट्रेन
गाड़ी संख्या 53209-53210 राजगीर-फतुहा सवारी गाड़ी और गाड़ी संख्या 53207-53208 इस्लामपुर-फतुहा सवारी गाड़ी को मेमू सेवा में तब्दील कर दिया है। रेलवे बोर्ड की तरह से ये भी आदेश दिया गया है। रेल अधिकारियों के मुताबिक 20 फरवरी से इसका परिचालन शुरू हो जाएगा

इसे भी पढ़िए-खुशखबरी; मुंबई की तर्ज पर दानापुर-राजगीर के बीच दौड़ेगी मेमू ट्रेन.. खूबियां जानिए

मेमू ट्रेन की खूबियां जानिए

मेनलाइन इलेक्ट्रिकल मल्टी यूनिट (मेमू) बिजली से चलने वाली मेन लाइन ट्रेन है। जो कि ज्यादातर एक शहर को दूसरे शहर से जोड़ने का काम करती हैं। मुंबई की लोकल कही जानी वाली ट्रेनें मेमू ही हैं। इसकी रफ्तार पैसेंजर ट्रेन से ज्यादा होती है। इस ट्रेन के हर कोच में ट्रेक्शन मोटर लगी होती है, जिस कारण यह तुरंत स्पीड पकड़ लेती है। साथ ही स्टॉप आते ही जल्द रुक भी जाती है। इससे समय की बचत हो जाती है। मेमू ट्रेन में 3 कोच एक साथ जुड़े रहते हैं। हर तीन कोच के बाद एक इंजन लगाया जाता है। इसे चलाने के लिए एसी करंट की जरूरत होती है।

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In बिहार शरीफ

Leave a Reply

Check Also

बिहार में कई जिलों के सिविल सर्जन बदले गए.. जानिए किनका कहां हुआ तबादला

बिहार चुनाव से पहले अफसरों के तबादले का सिलसिला लगातार जारी है. बिहार में कई डॉक्टरों का त…