Home बिहार शरीफ नालंदा का जर्जर DEO ऑफिस होगा शिफ्ट, छत गिरने से एक कर्मचारी बुरी तरह घायल

नालंदा का जर्जर DEO ऑफिस होगा शिफ्ट, छत गिरने से एक कर्मचारी बुरी तरह घायल

0

जर्जर हो चुकी नालंदा का डीईओ कार्यालय को अंततः दशहरे के बाद शिफ्ट हो जाएगा। नालंदा के जिला शिक्षा पदाधिकारी के मुताबिक नालंदा कॉलेजिएट प्लस टू विद्यालय के परीक्षा भवन में जल्द शिफ्ट करा दिया जाएगा।

छत गिरने से एक कर्मचारी घायल
दो दिन पहले ही जीर्ण-शीर्ण हालत में चल रहे शिक्षा विभाग के कार्यालय की छत का छज्जा गिरने से कर्मचारी राजकिशोर प्रसाद घायल हो गए थे. ये राजकिशोर प्रसाद के सिर पर ही छत का टुकड़ा गिरा था। जिसके बाद उन्हें बिहारशरीफ सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

कर्मचारियों ने बंद कर दिया काम करना
गुरुवार को छत गिरने की घटना के बाद शुक्रवार को डीईओ कार्यालय में पूरी तरह सन्नाटा रहा। जरूरी काम को छोड़कर अनहोनी से डरे सहमे कर्मियों ने काम बंद रखा। सभी कर्मी कार्यालय के बाहर बैठे रहे। इसी बीच सीएफएमएस कार्यालय सहायक अमित कुमार ने बताया कि दशहरा से पूर्व सभी शिक्षकों का वेतन उनके खाते में भेज दिया गया है। उन्होने बताया कि विभाग के कर्मियों का भी वेतन जल्द भेज दिया जाएगा। डीईओ और डीपीओ ने नालंदा कॉलेजिएट स्कूल जाकर भवन को देखा और उसके बाद सभी से विचार कर शिफ्टिंग पर आम सहमति बन गई।

इसे भी पढ़िए-KBC में नालंदा की बेटी के मुरीद हुए अमिताभ बच्चन, जानिए संगीता ने कितने पैसे जीते

हो सकता है बड़ा हादसा
नालंदा के डीईओ मनोज कुमार ने बताया कि कार्यालय की स्थिति काफी जर्जर हो गई है, कभी भी कोई बड़ी घटना घट सकती है। इसके कारण तत्काल कार्यालय को विद्यालय भवन में शिफ्ट करने का पत्र जारी कर दिया गया है। उन्होने बताया कि इस संबंध में डीएम को भी पत्र के माध्यम से सभी जानकारी दे दी गई है। डीपीओ स्थापना अरिंजय कुमार दिन भर डीईओ कार्यालय शिफ्टिंग को लेकर व्यस्त दिखे। उन्होने बताया कि जब कर्मचारी और पदाधिकारी सुरक्शित ही नहीं रहेंगे तो काम कैसे सुचारु रुप से संचालित होगा। डीपीओ ने कहा कि कर्मियों के सहयोग से शिफ्टिंग संबंधित पत्र तैयार करवा कर विभाग के वरीय अधिकारियों को भेज दिया गया है। बताया कि शिक्षा भवन बनने तक डीईओ कार्यालय विद्यालय के परीक्षा भवन और प्लस टू भवन के खाली कमरों में संचालित होगा।

कर्मचारी संघ ने दी धमकी
डीईओ कार्यालय कर्मी संघ के अध्यक्ष विनोद कुमार ने बताया कि अपने अधीनस्थ कर्मियों के जख्मी होने के कारण विभाग से सभी कर्मी काफी दुःखी दिखे। उन्होने कहा कि सभी कर्मियों ने एक स्वर में कहा कि कार्यालय भवन का लगभग सभी हिस्सा पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया है शुक्रवार को सभी कर्मी कार्यालय के बाहर कुर्सी लगाकर दिन भर बैठे रहे। अनहोनी की आंशका से कर्मचारी के साथ ही बाहरी लोग भी डरे-सहमे दिखे। महिला कर्मियों ने कहा कि जिला परिषद के द्वारा रेंट के रूप मे हर माह 30 हजार रुपया किराया लिया जा रहा था। विभाग के जेई अमित कुमार,संजीव कुमार,शशिशेखर और कार्यालय सहायक राजेश कुमार ने नालंदा कॉलेजिएट प्लस टू विद्यालय के परीक्षा भवन का पूरा मेजरमेंट किया। जेई अमित कुमार ने कहा कि मेजरमेंट का काम पूरा कर लिया गया है,जल्द ही पूरी रिपोर्ट डीईओ कार्यालय को सौंप दिया जाएगा।

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In बिहार शरीफ

Leave a Reply

Check Also

बाहुबली विधायक अनंत सिंह की पत्नी ने वापस लिया नामांकन.. जानिए क्यों ?

मोकामा से बाहुबली अनंत सिंह की पत्नी नीलम देवी ने अपना नामांकन वापस ले लिया है। नीलम देवी …