Home बिहार शरीफ एक्शन में डीएम योगेंद्र सिंह… अफसरों की लगाई क्लास, कई पर गिरी गाज

एक्शन में डीएम योगेंद्र सिंह… अफसरों की लगाई क्लास, कई पर गिरी गाज

0

नालंदा के जिलाधिकारी योगेंद्र सिंह पदभार ग्रहण करने के बाद से एक्शन में हैं। वो काम में लापरवाही को लेकर जीरो टॉलरेंस की नीति पर काम कर रहे हैं। इसे लेकर वो कई बार अधिकारियों को हिदायत भी दे चुके हैं। लेकिन अधिकारी सुधरने का नाम ही नहीं ले रहे हैं

क्या है पूरा मामला
नालंदा के डीएम योगेंद्र सिंह ने एक मार्च को ही आदेश जारी किया था कि अब सरकारी दफ्तर सुबह 10 बजे खुलेंगे। साथ ही ये चेतावनी भी दी थी कि अगर जो भी अफसर समय पर दफ्तर नहीं पहुंचेंगे उस पर कार्रवाई करेंगे। डीएम योगेंद्र सिंह ने अफसरों को इसे लेकर आगाह भी किया था कि वो कभी भी औचक निरीक्षण कर सकते हैं । लेकिन अफसर तो मोटी चमड़ी के बने होते हैं । उन्हें अपने अफसरों के आदेश का कोई लेना देना नहीं होता है। वो अपने मुताबिक काम करते हैं ।

इसे भी पढ़िए-नालंदा में सरकारी दफ्तर खुलने का समय बदला.. जिलाधिकारी ने कर्मचारियों को चेताया

डीएम साहब पहुंचे लेकिन अफसर गायब थे
शायद अफसर और कर्मचारियों को इस बात का इल्म भी नहीं था कि जिलाधिकारी औचक निरीक्षण करेंगे। वे लोग सोचे की डीएम साहब ने मीडिया में चमकाने के लिए बोल दिया होगा। लेकिन डीएम साहब ने अपने कथनी मुताबिक अचानक आज सुबह साढ़े बजे बिहारशरीफ के ब्लॉक ऑफिस पहुंचे। डीएम साहब का काफिला पहुंचते ही हड़कंप जैसी स्थिति हो गई।

सैंकड़ों की संख्या में जमा थे लोग
अपने काम को लेकर सैंकड़ों की संख्या में लोग जमा थे।लेकिन कर्मचारी से लेकर अफसर तक नहीं पहुंचे थे। सबसे पहले वो आरटीपीएस काउंटर पर गए, जहां 5 में से दो कार्यपालक सहायक काउंटर पर उपस्थित थे। आरटीपीएस काउंटर पर 100 से ज्यादा आवेदकों की भीड़ आवेदन देने के लिए जमा थी। इस दौरान डीएम साहब ने जमकर फटकार लगाई

इसे भी पढ़िए-पदभार ग्रहण करते ही एक्शन में नालंदा के नए डीएम.. किस-किस पर गिरी गाज जानिए

बीडीओ से लेकर सीडीपीओ तक तमाम अधिकारी थे गायब
डीएम साहब के औचक निरीक्षण के बारे में आलाधिकारियों को भनक तक नहीं लगी। डीएम साहब के मुताबिक सुबह साढ़े दस बजे तक प्रखंड विकास पदाधिकारी के साथ साथ कोई आलाधिकारी प्रखंड में मौजूद नहीं था।

डीएम ने दी सैलरी काटने के आदेश
इसके बाद डीएम योगेंद्र सिंह ने बीडीओ, सीडीपीओ समेत प्रखंड आपूर्ति अधिकारी,प्रोग्राम पदाधिकारी मनरेगा समेत अनुपस्थित सभी अधिकारियों के एक दिन की सैलरी काटने का आदेश दिया । निरीक्षण के क्रम में अंचल कार्यालय के 7 कर्मी, प्रखंड कार्यालय के 6 कर्मी, कौशल केंद्र के चार कर्मी, कुष्ठ निवारण कार्यालय के 4 कर्मी तथा बाल विकास परियोजना कार्यालय के 9 कर्मी अनुपस्थित पाए गए। साथ ही सभी कार्यालयों के संबंधित पदाधिकारियों को शो कॉज नोटिस भेजकर जवाब मांगा है ।

नालंदा लाइव की अपील
नालंदा लाइव भी जिलावासियों की ओर से डीएम साहब से अपील करता है कि अब शहर से दूर हरनौत, चंडी, नगरनौसा जैसे प्रखंडों का औचक निरीक्षण करें। नालंदा लाइव के फेसबुक पेज पर इस बारे में कई लोगों ने अपनी शिकायत दर्ज कराई है। नालंदा लाइव जिलावासियों को भरोसा दिलाता है कि उनकी ये आवाज डीएम साहब तक पहुंचाई जाएगी। साथ ही उम्मीद है कि डीएम साहब भी जल्द ही दूसरे प्रखंड और अंचल कार्यालयों की कार्यशैली की समीक्षा करेंगे ।

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In बिहार शरीफ

Leave a Reply

Check Also

नालंदा में कोरोना से एक बड़े डॉक्टर की मौत.. 53 नए मरीज मिले

नालंदा में कोरोना का कहर जारी है. कोरोना की वजह से जिले में एक मशहूर डॉक्टर की मौत हो गई ह…