Home बिहार शरीफ नालंदा में शिक्षक नियोजन घोटाले की जांच कर रहे कर्मचारी को गोली मारी

नालंदा में शिक्षक नियोजन घोटाले की जांच कर रहे कर्मचारी को गोली मारी

0

नालंदा में शिक्षा माफियाओं ने शिक्षक नियोजन में गड़बड़ी की जांच कर रहे एक सरकारी कर्मचारी की गोली मार दी है. घायल सरकारी कर्मचारी को इलाज के लिए पटना रेफर कर दिया गया है.

पावरग्रिड के पास मारी गोली
बताया जा रहा है कि घायल सरकारी कर्मचारी मनोज कुमार हरनौत से बिहार शरीफ आ रहे थे. तभी रास्ते में घात लगाए बदमाशों ने वेना थाना के सिहुली पावर ग्रिड के पास उन्हें गोली मार दी. मनोज कुमार को गोली मारने के बाद बदमाश बाइक से फरार हो गए. बदमाशों ने मनोज कुमार के सिर में गोली मारी थी. लेकिन मनोज कुमार हेलमेट पहने थे जिसकी वजह से गोली छिटक गई और उनके दाहिने आंख के नीचे आ लगी.

पटना रेफर किया गया
वारदात की सूचना जैसे ही पुलिस को मिली वैसे ही भागन बिगहा पुलिस वहां पहुंची और घायल शिक्षक को इलाज के लिए बिहार शरीफ सदर अस्पताल में भर्ती कराया. हालांकि शुरुआती ट्रिटमेंट के बाद उन्हें पटना रेफर कर दिया गया.

शिक्षक नियोजन घोटाले की जांच कर रहे थे
मनोज कुमार शिक्षा विभाग में क्लर्क के पद पर तैनात हैं और रोजाना हरनौत से बिहारशरीफ ड्यूटी करने जाते हैं. हर रोज की तरह आज भी वो ड्यूटी के लिए जा रहे थे तभी बदमाशों ने उन्हें गोली मार दी. बताया जा रहा है कि वो शिक्षक नियोजन में हुई गड़बड़ियों की जांच करने वाली टीम में शामिल थे. कहा जा रहा है कि कुछ फर्जी बहाली के मामले की जांच वो कर रहे थे. ऐसे में माना जा रहा है कि शिक्षा माफियाओं ने उन्हें रास्ते से हटाने के लिए गोली मारी थी.

जांच में जुटी पुलिस
मनोज कुमार बिंद थाना के रामपुर गांव के रहने वाले हैं. और बिहारशरीफ में शिक्षा विभाग की स्थापना शाखा में तैनात हैं. उधर, पुलिस घटना की जांच में जुट गई है। पुलिस का कहना है कि जल्द ही बदमाशों को पकड़ लिया जाएगा।

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In बिहार शरीफ

Leave a Reply

Check Also

कोरोना का कहर: बीजेपी नेता और स्वास्थ्य विभाग के प्रमुख समेत 10 लोगों की मौत

बिहार में कोरोना का कहर जारी है. कोरोना के नए मरीजों की तादाद बढ़ती जा रही है. कोरोना की व…