Home खास खबरें नालंदा जेडीयू में कौशलेंद्र कुमार को लेकर फूट.. बीजेपी ने भी तरेरी आंखें

नालंदा जेडीयू में कौशलेंद्र कुमार को लेकर फूट.. बीजेपी ने भी तरेरी आंखें

0

नालंदा में जेडीयू उम्मीदवार और मौजूदा सांसद कौशलेंद्र कुमार के खिलाफ पार्टी में ही बगावत शुरू हो गई है. जिससे कौशलेंद्र कुमार की मुश्किलें बढ़ सकती है. जेडीयू नेताओं की बैठक में उम्मीदवार बदलने की मांग हुई. वहीं, बीजेपी में भी कौशलेंद्र कुमार को लेकर विरोध के स्वर तेज हो गए हैं.

प्रत्याशी बदलने की मांग तेज
शुक्रवार को इस्लामपुर के उत्तरी पटेल नगर में जनता दल यू की बैठक हुई. जिसमें किसान प्रकोष्ठ के प्रदेश महासचिव पप्पू कुमार सिन्हा के अलावा कई नेताओं ने हिस्सा लिया. बैठक में प्रत्याशी बदलने की मांग उठी. जेडीयू नेताओं ने कहा कि मौजूदा सांसद कौशलेन्द्र कुमार सांसद मद के चार करोड़ भी नहीं खर्च कर पाए। न ही आदर्श ग्राम में कोई काम किया है। जेडीयू नेताओं ने कौशलेंद्र कुमार की जगह मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के बेटे इंजीनियर निशांत कुमार को प्रत्याशी बनाने की मांग की

इसे भी पढ़िए-नालंदा लोकसभा सीट का इतिहास जानिए.. कब हुआ गठन और कुर्मिस्तान बनने की कहानी

जेडीयू की बैठक में कौन-कौन शामिल
जदयू की बैठक में किसान प्रकोष्ठ के प्रदेश महासचिव पप्पू कुमार सिन्हा के अलावा अतिपिछड़ा प्रकोष्ठ महासचिव नरेंद्र रावत, इस्लामपुर प्रखंड के अतिपिछड़ा कार्यकारी अध्यक्ष सुनील चंद्रवंशी, पंचायती राज प्रकोष्ठ के जिला अध्यक्ष कमलेश यादव, पूर्व युवा जदयू के अध्यक्ष मुन्ना कुमार, परवलपुर युवा जदयू के पूर्व अध्यक्ष अनिल कुमार, वरिष्ठ कार्यकर्ता उमेश केवट, निरंजन निराला, इंजीनियर रामचंद्र अकेला, सुरेन्द्र दास, बीरेंद्र राम समेत कई और नेता मौजूद थे । नेताओं का कहना था कि नाकाबिल सांसद को तीसरी बार टिकट मिलने से मतदाता और कार्यकर्ताओं में आक्रोश है।

इसे भी पढ़िए-नालंदा लोकसभा सीट पर नीतीश कुमार ने कौशलेंद्र पर क्यों लगाया दांव.. जानिए

बीजेपी ने किया बहिष्कार
नालंदा में जेडीयू उम्मीदवार कौशलेंद्र कुमार की जीत को सुनिश्चित करने के लिए शुक्रवार को बेन प्रखंड में एनडीए की बैठक बुलाई गई थी. लेकिन बीजेपी के प्रखंड अध्यक्ष ने ही बैठक का बहिष्कार कर दिया. भाजपा के प्रखंड अध्यक्ष रामनिवास सिंह उर्फ राजेश सिंह और बीजेपी नेताओं ने बैठक से दूरी बना ली.

इसे भी पढ़िए-नालंदा में महागठबंधन ने आजाद पर खेला दांव; अशोक आजाद का नालंदा कनेक्शन जानिए

बीजेपी प्रखंड अध्यक्ष का क्या कहना है
बेन प्रखंड के भाजपा अध्यक्ष रामनिवास सिंह उर्फ राजेश सिंह का कहना है कि पिछले पांच सालों में जीतने के बाद कौशलेन्द्र कुमार एक बार भी इस इलाके में नहीं आए और न ही अपने संसद मद से कोई काम कराए। यही नहीं भाजपा से गठबंधन होने के बाद आज तक कार्यकर्ताओं से रूबरू तक होना मुनासिब नहीं समझ़े। इसलिए हम सभी कार्यकर्ता उनके इस व्यवहार से मर्माहत हैं। इस गांव में सांसद योजना का कोई भी हिस्सा नहीं दिया गया। पांच सालों में सिर्फ चंद मुठ्ठी भर लोगों के बीच में रहकर सांसद अपना कार्यकाल को समाप्त कर दिया। इसी से क्षुब्ध होकर हम कार्यकर्ताओं ने आज की एनडीए की बैठक का बहिष्कार कर दिया।

आखिरी चरण में मतदान
आपको बता दें कि नालंदा लोकसभा सीट पर अंतिम चरण में यानि 19 मई को वोट डाले जाने हैं. यहां से एनडीए की ओर से जहां कौशलेंद्र कुमार मैदान में हैं. तो वहीं महागठबंधन ने हम के अशोक आजाद को टिकट दिया है. अशोक आजाद 26 अप्रैल को अपना नामांकन भरेंगे. कौशलेंद्र कुमार दो बार लगातार सांसद रह चुके हैं और नीतीश कुमार ने तीसरी बार उम्मीदवार बनाया है

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In खास खबरें

Leave a Reply

Check Also

बिहार विधानसभा अध्यक्ष के नाम पर लगी मुहर, नंदकिशोर यादव का कट गया पत्ता !

बिहार विधानसभा का अगला अध्यक्ष कौन होगा ? क्या नंद किशोर यादव को बनाया जाएगा अध्यक्ष? या ज…