Home अन्य जिले पटना में शहीद का अपमान… मंत्रियों-नेताओं ने नहीं दी श्रद्धांजलि

पटना में शहीद का अपमान… मंत्रियों-नेताओं ने नहीं दी श्रद्धांजलि

0

जम्मू कश्मीर में आतंकियों से लोहा लेते वक्त बिहार का बेटा शहीद हो गया। शहीद इंस्‍पेक्‍टर पिंटू कुमार सिंह का शव आज पटना लाया गया। एयरपोर्ट पर शहीद बेटे को श्रद्धांजलि देने के लिए नीतीश सरकार का कोई मंत्री या नेता वहां नहीं पहुंचा। एयरपोर्ट पर शहीद पिंटू सिंह को श्रद्धांजलि देने के लिए डीएम-एसएसपी के अलावा सिर्फ कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष मदन मोहन झा मौजूद थे। इसके अलावा किसी पार्टी के नेता वहां मौजूद नहीं थे।

पीएम से लेकर सीएम तक सब थे पटना में मौजूद
पटना में एनडीए की संकल्प रैली का आयोजन किया गया था। जिसमें एनडीए के सभी बड़े नेता मौजूद थे। पीएम मोदी, सीएम नीतीश कुमार, केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान और समेत बिहार के तमाम केंद्रीय मंत्री मौजूद थे लेकिन कोई वीर बेटे को श्रद्धांजलि देने के लिए एयरपोर्ट नहीं पहुंचा।

तेजस्वी ने बताया फर्जी राष्ट्रवादी
पटना में शहीद को श्रद्धांजलि नहीं देने को लेकर आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने एनडीए पर जमकर साधा। तेजस्वी यादव ने ट्वीट कर कहा कि पटना में बीजेपी और नीतीश कुमार द्वारा आज शहीद पिंटू सिंह को श्रद्धांजलि नहीं देकर इन फ़र्ज़ी राष्ट्रवादियों ने शहादत का अपमान किया है। यही फ़र्ज़ी लोग सेना और जवानों के नाम पर टेसू बहायेंगे। संकल्प रैली में शहीदों को अपमानित करने का संकल्प लेंगे क्या?

तेजस्वी यादव भले ही एनडीए के नेताओं पर सवाल उठा रहे हैं। लेकिन आरजेडी का भी कोई नेता शहीद पिंटू सिंह को श्रद्धांजलि देने नहीं पहुंचा। सिर्फ कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष मदन मोहन झा के अलावा कोई नेता वहां नहीं पहुंचा था।

बेगूसराय के रहने वाले थे इंस्पेक्टर पिंटू कुमार सिंह
शहीद इंस्पेक्टर पिंटू कुमार सिंह का पार्थिव शरीर उनके पैतृक गांव बेगूसराय के बगरस ध्यान चक्की गांव ले जाया गया। जहां राजकीय सम्मान के साथ अंतिम विदाई दी गई। शहीद पिंटू कुमार सिंह अपने पीछे पत्नी और पांच साल की बेटी को छोड़ गए हैं। पिंटू की शादी 2011 में हुई थी। शहीद का शव आते ही लोगों ने ‘शहीद पिंटू अमर रहें’, ‘हिंदुस्‍तान जिंदाबाद’ और ‘पाकिस्तान मुर्दाबाद’ के नारे लगाए।

कुपवाड़ा में शहीद हुए थे पिंटू कुमार सिंह
भारत-पाकिस्तान में जारी तनाव के बीच जम्‍मू कश्‍मीर के कुपवाड़ा (Kupwara Encounter) जिले में आतंकियों के साथ मुठभेड़ में 4 सुरक्षाकर्मी शहीद हो गए थे. मुठभेड़ कुपवाड़ा के लंगेट इलाके में हुई. जिसमें सीआरपीएफ के एक इंस्‍पेक्‍टर पिंटू सिंह, एक जवान और जम्‍मू-कश्‍मीर पुलिस के दो पुलिसकर्मी शहीद हो गए.

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In अन्य जिले

Leave a Reply

Check Also

विधान परिषद की 8 सीटों के लिए चुनाव का ऐलान.. जानिए कब क्या होंगे

बिहार विधानसभा के चुनाव की घोषणा के कुछ घंटों बाद ही बिहार विधान परिषद की खाली आठ सीटों के…