पटना जंक्शन के स्टेशन मास्टर की सनक में पूरा परिवार बर्बाद, एक साथ दो लाश उठी

0

बहुत पुरानी कहावत है गुस्सा अक्ल को खा जाता है। चाहे कोई कितना पढ़ा लिखा हुआ ही क्यों ना हो। ऐसा ही एक वाक्या पटना में सामने आया है । जहां पटना जंक्शन के स्टेशन मास्टर के गुस्से की वजह से दो लाशें एक साथ उठी। पहले कोरोना पीड़ित पत्नी की गला काटकर हत्या कर दी। फिर छत से कूदकर खुदकुशी कर ली। ये पूरा वाक्या दोनों बच्चों के सामने क्या हुआ।

क्या है पूरा मामला
मामला राजधानी के कंकड़बाग में मुन्नाचक के पास न्यू चित्रगुप्त नगर की है। जहां के ओम रेसीडेंसी में अपार्टमेंट में रहने वाले पटना जंक्शन के स्टेशन मास्टर अतुल लाल ने खुदकुशी कर ली। 49 साल के अतुल लाल ने आत्महत्या से पहले कोरोना पॉजिटिव अपनी 42 साल की पत्नी तूलिका की ब्लेड से गला काटकर हत्या कर दी थी। अतुल की पोस्टिंग फिलहाल पटना जंक्शन के रूट रिले इंटरलॉकिंग में थी।

इसे भी पढ़िए-एक शादी ऐसी भी- पति और बच्चों के सामने प्रेमी संग फेरे

पति-पत्नी में हुआ था झगड़ा
बेटा और बेटी के सामने पति-पत्नी में झंझट हुआ था। पड़ोसी भी जुट गए थे, लेकिन महिला के पॉजिटिव होने के कारण कोई बीच-बचाव में नहीं गया। इसके बाद गुस्से में पति ने ब्लेड से पत्नी की गला काट जान ले ली। दोनों बच्चों ने शोर मचाना शुरू किया तो पिता ने वहीं से कूदकर जान दे दी। तूलिका का मायका झारखंड के हजारीबाग में है।

इसे भी पढ़िए-अनोखी शादी: युवक ने दो लड़कियों के साथ रचाई शादी, जानिए पूरा मामला

रात से ही हो रहा था झगड़ा
बीते रविवार की रात से ही दंपती के बीच झगड़ा चल रहा था। दोनों एक-दूसरे के उपर जोर-जोर से चिल्ला रहे थे। सफिर सुबह के पांच बजे दोबारा झगड़ा शुरू हो गया। इस बार बात इतनी बढ़ गयी कि दोनों एक दूसरे के साथ मारपीट करने लगे। इसके बाद पति ब्लेड तलाशने लगा और तुंरत पत्नी की हत्या कर डाली।

सामने हुई मां की हत्या, सहम गये बच्चे
आंखो के सामने मां की हत्या होने के बाद से ही दोनों अतुल और तुलिका के बच्चे सहम गये हैं। दोनों को एक 16 साल की बेटी व 15 साल के बेटे आर्यन के मां-पिता थे। मां-बाप की लाश देखकर बच्चों ने कुछ भी बोलते की हिम्मत नहीं बची थी।

कोरोना के कारण जांच में परेशानी
सुसाइड की सूचना पर पहुंची पत्रकारनगर थाना पुलिस को घटनास्थल पर पहुंचने के बाद मर्डर की जानकारी मिली। पति-पत्नी के बीच लड़ाई को पुलिस अभी समझने की कोशिश कर रही है, लेकिन महिला के पॉजिटिव होने के कारण जांच में परेशानी हो रही है। अब तक प्राप्त जानकारी के अनुसार ये परिवार मूल रूप से आरा का रहने वाला है। इस घटना के बाद अतुल के बच्चों ने सबसे पहले फुलवारीशरीफ में रहने वालीअपनी छोटी बुआ गुड़िया को कॉल किया था। फिर गुड़िया ने अपने बड़े जीजा दीपक को कॉल किया। उसके बाद अन्य परिजन ओम रेसीडेंसी पहुंचे।

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In अपराध

Leave a Reply

Check Also

नालंदा में इनकम टैक्स इंस्पेक्टर समेत 5 लोगों की कोरोना से मौत..

नालंदा जिला में कोरोना संकमण से मौत की रफ्तार थमने का नाम नहीं ले रही है। नालंदा में इनकम …