Home खास खबरें 60 साल बाद अपने गुरु से मिले केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान, जानिए फिर क्या हुआ

60 साल बाद अपने गुरु से मिले केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान, जानिए फिर क्या हुआ

0

कहा जाता है कि जीवन में भगवान से भी ऊपर गुरु का स्थान होता है. तभी तो कहा जाता है
गुरुर ब्रह्मा गुरुर विष्णु, गुरुर देवो महेश्वरः, गुरुर साक्षात परमब्रह्मा, तस्मै श्री गुरुवे नमः। केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान भी 60 साल बाद जब अपने गुरु से मिले तो वे भावुक हो गए.

60 साल बाद अपने गुरु से मिले पासवान
केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान 60 साल बाद अपने सबसे पहले गुरु कन्हैया लाल जी से मिलने पहुंचे। पटना सिटी में उन्होंने गुरु से मुलाकात की. तो वे भावुक हो गए. उन्होंने कहा कि जिन्होंने मुझे हाथ पकड़कर खल्ली से लिखना सिखाया । उनसे मिलकर आज कितनी खुशी हुई है ये बता नहीं सकता हूं.

नरहर के रहने वाले हैं कन्हैया लाल जी
रामविलास पासवान के गुरु कन्हैया लाल जी समस्तीपुर के नरहर के रहने वाले हैं. कन्हैया लाल गुप्ता ने ही रामविलास पासवान को ककहरा पढ़ाया और लिखना सिखाया. रामविलास पासवान ने अपने ट्वीट में लिखा है कि श्री कन्हैया लाल जी मेरे बचपन के सबसे पहले गुरू हैं जिन्होंने हाथ पकड़कर मुझे बोर्ड पर चॉक से लिखना सिखाया। मेरे फुफेरे भाई ने मुझे उनका मोबाइल न० दिया और 60 साल बाद अपने गुरू से बात करके मुझे कितनी खुशी हुई है, बता नहीं सकता हूं।

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In खास खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

नालंदा में छठी से नौवीं तक के छात्रों को छात्रवृति पाने का सुनहरा मौका

नालंदा जिला में छठी से नौवीं क्लास तक की पढ़ाई करने वाले छात्रों औऱ उनके परिजनों के लिए ये…