Home काम की बात भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संस्थान (ISRO) जाएंगे बिहार के तीन बच्चे, आपके बच्चे भी जा सकते हैं

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संस्थान (ISRO) जाएंगे बिहार के तीन बच्चे, आपके बच्चे भी जा सकते हैं

0

बिहार के तीन स्कूली बच्चे भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संस्थान (इसरो) संस्थान जाएंगे। वे वहां करीब दो सप्ताह तक रहेंगे। देश के चर्चित वैज्ञानिकों का मार्गदर्शन उनके लिए सुलभ हो सकेगा।बच्चों का चयन करने के लिए इसरो ने 24 फरवरी से साइंस विषय और अंतरिक्ष कार्यक्रमों में रुचि रखने वाले बच्चों को उसके साइट पर जाकर ऑनलाइन आवेदन करने को कहा है। चयन के लिए सिर्फ 9वीं कक्षा में अध्ययन कर रहे बच्चे ही योग्य माने जाएंगे।

युविका के लिए बच्चों को बुलाया
दरअसल, इसरो ने स्कूली बच्चों के लिए एक विशेष कार्यक्रम की योजना बनायी है। जिसे युवा विज्ञानी कार्यक्रम अर्थात संक्षेप में ‘युविका’नाम दिया गया है। इसका मकसद भविष्य का विज्ञानी तैयार करना है। देश के नवनिर्माण के लिए युवाओं में विज्ञान, टेक्नालॉजी, इंजीनियरिंग और गणित (स्ट्रीम) को लेकर उनमें ललक तथा उत्साह पैदा करना है।

दो हफ्ते का कार्यक्रम
इसरो चेयरमैन के. शिवन के मुताबिक बच्चों का ये विशेष कार्यक्रम करीब दो सप्ताह का होगा. जो 11 से 22मई 2020 तक चलेगा. इस दौरान बच्चों की बातें सुनी जाएंगी, उन्हें प्रमुख वैज्ञानिकों से संवाद का अवसर मिलेगा। इसरो के सभी फैकेल्टी से वे मिलेंगे, यहां के लैब की सुविधाओं को जानेंगे। उनके अनुभव में विस्तार के लिए प्रैक्टिल और फीडबैक सेशन भी होगा।

इसरो चीफ ने चीफ सेक्रेटरी को खत लिखा
भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन(ISRO)के चेयरमैन डा. के शिवन ने बिहार के मुख्य सचिव दीपक कुमार को बिहार से तीन बच्चों के इसरो प्रवास के लिए चयन को लेकर पत्र लिखा है। उनका पत्र मिलते ही मुख्य सचिव ने इसे शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव आरके महाजन को भेजा है। शिक्षा विभाग ने अब बिहार शिक्षा परियोजना परिषद को राज्य के 9वीं कक्षा के बच्चों के बीच इस कार्यक्रम को लेकर जागरूक करने तथा अधिकाधिक बच्चों की भागीदारी सुनिश्चित कराने का निर्देश दिया है।

सभी राज्यों से चयनित होंगे 3-3 बच्चे
इसरो चेयरमैन ने अपने पत्र में साफ किया है उसके विशेष कार्यक्रम ‘युविका’ के तहत बिहार समेत दशे के सभी राज्यों व केन्द्र शासित प्रदेशों से 3-3 बच्चों का चयन दो सप्ताह के इसरो प्रवास के लिए किया जाएगा। जो बच्चे 8वीं पास हैं और 9वीं की पढ़ाई कर रहे हैं उनका ही आवेदन मान्य होगा। उन्होंने बिहार के मुख्य सचिव से राज्य के स्कूली बच्चों के बीच ‘युविका’ के प्रचार-प्रसार का आग्रह किया है।

कौन और कैसे करें अप्लाई
8वीं पास यानि जो छात्र 9वीं क्लास में पढ़ रहे हैं वही इसमें हिस्सा ले सकते हैं. इसके लिए इच्छुक छात्र इसरो के अधिकारिक वेबसाइट www.isro.gov.in पर जाकर युविका में लॉगिंन करना होगा

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In काम की बात

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

जेडीयू सांसद का निधन, पार्टी में शोक की लहर

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की को बड़ा झटका लगा है । वाल्मिकीनगर से जदयू सांसद सांसद …