Home नॅशनल न्यूज़ नालंदा में नामांकन खत्म, कुल 36 प्रत्याशियों ने किए नॉमिनेशन..जानिए किसने- किसने भरे पर्चे

नालंदा में नामांकन खत्म, कुल 36 प्रत्याशियों ने किए नॉमिनेशन..जानिए किसने- किसने भरे पर्चे

0

नालंदा लोकसभा सीट पर नामांकन की प्रक्रिया खत्म हो गई. सोमवार को नॉमिनेशन के आखिरी दिन 14 प्रत्याशियों ने नामांकन कराया। इस तरह, नालंदा लोकसभा से कुल 36 प्रत्याशी चुनावी मैदान में हैं। हालांकि, 37 लोगों ने नामांकन रसीद कटवाये थे। लेकिन एक कौशलेन्द्र सिन्हा उर्फ भारत मानस ने नामांकन नहीं कराया। 30 अप्रैल को स्क्रूटिनी तो 2 मई को नाम वापसी और 19 मई को वोट डाले जाएंगे।

भारत मानस ने मांगी जमानत राशि
नामांकन के अंतिम दिन कौशल कुमार कौशलेन्द्र सिन्हा उर्फ भारत मानस ने डीएम को आवेदन देकर नामांकन पत्र नहीं भरने की जानकारी देते हुए जमानत राशि की मांग की। उन्होंने जमानत राशि जमा कर दी थी। आवेदक ने बताया कि वह नामांकन न कराकर जागृति अभियान चलायेंगे।

इसे भी पढ़िए-कौशलेंद्र कुमार की संपत्ति कितनी बढ़ी, कितना है कैश, कितनी है जमीन.. जानिए

आखिरी दिन किसने किसने भरा पर्चा
नामांकन के आखिरी दिन एनसीपी के शशि कुमार के अलावा मानववादी जनता पार्टी के दिलीप रावत, बहुजन समाज पार्टी के शशि कुमार,शिव सेना के चिरंजीवी कुमार , पवन कुमार पाण्डे, मोहन बिन्द, पुरुषोत्तम शर्मा, संजीत कुमार, मो. सुरखाब आलम, सुनील रविदास, शैलेन्द्र चौधरी, राजीव रंजन कुमार, रेखा कुमारी और अनिल कुमार निर्दलीय शामिल हैं।

और कौन कौन हैं मैदान में
जदयू के कौशलेंद्र कुमार
हम के अशोक कुमार आजाद
समग्र उत्थान पार्टी के रामचन्द्र प्रसाद
बहुजन न्याय दल के शंकर पाण्डेय
राष्ट्रीय हिन्द सेना- रामविलास पासवान
पीएमपी- सोहावन पासवान
भारतीय मोमिन फ्रंट पार्टी-कुमार हरिचरण सिंह यादव
हिन्दुस्तान निर्माण दल- रामचरित्र प्रसाद सिंह
सुहलदेव भारतीय समाज पार्टी- संपत्ति कुमार
भारतीय लोकमत राष्ट्रवादी पार्टी- पवन कुमार पाण्डेय
जन अधिकार पार्टी- राजीव रंजन कुमार
भारत प्रभात पार्टी- सुरेन्द्र कुमार

निर्दलीय उम्मीदवार कौन कौन
पुनीत कुमार, राकेश पासवान, रामचन्द्र सिंह, मिंटू कुमार, अशोक कुमार, रजनीश कुमार पासवान, सुधीर कुमार, मोहन बिंद, दीनानाथ पाण्डेय , शैलेंद्र चौधरी, उषा देवी, नीता देवी, संजीत कुमार, , ब्रह्मदेव प्रसाद

इसे भी पढ़िए-नालंदा लोकसभा सीट: कहां कितने वोटर, किस उम्र के कितने मतदाता

3 ईवीएम की पड़ सकती है जरूरत:
एक ईवीएम में 15 प्रत्याशियों के चुनाव चिह्न और एक नोटा का बटन होता है। जिले में नामांकन के अंतिम दिन तक कुल 36 प्रत्याशियों ने पर्चा दाखिल किया है। उस हिसाब से अगर सभी प्रत्याशी चुनावी मैदान में रह गए तो 3 ईवीएम की जरूरत पड़ेगी। ऐसे कुछ लोग नाम वापस ले सकते हैं और कुछ का फार्म गलत भरा होने के कारण भी नाम हट सकता है। फिलहाल यही कहा जा रहा है कि अगर किसी ने नाम वापस नहीं लिया या किसी का फार्म गलत नहीं हुआ तो 3 ईवीएम लगाने की जरूरत पड़ेगी।

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In नॅशनल न्यूज़

Leave a Reply

Check Also

विधान परिषद की 8 सीटों के लिए चुनाव का ऐलान.. जानिए कब क्या होंगे

बिहार विधानसभा के चुनाव की घोषणा के कुछ घंटों बाद ही बिहार विधान परिषद की खाली आठ सीटों के…