Home खास खबरें नालंदा लोकसभा चुनाव: इस बार टूटेंगे कई रिकॉर्ड, जानिए दिलचस्प जानकारियां

नालंदा लोकसभा चुनाव: इस बार टूटेंगे कई रिकॉर्ड, जानिए दिलचस्प जानकारियां

0

नालंदा लोकसभा सीट पर 19 मई को वोट डाले जाएंगे. इसके लिए नामांकन की प्रक्रिया पूरी हो गई . 2 मई को प्रत्याशियों द्वारा नामांकन वापस लेने की आखिरी तारीख थी. लेकिन किसी ने भी अपना नाम वापस नहीं लिया. यानि नालंदा के रण में इस बार 35 योद्धा हैं. जो अपनी किस्मत अपना रहे हैं. जिसमें 12 निर्दलीय उम्मीदवार भी शामिल हैं.

आजादी के बाद सबसे ज्यादा उम्मीदवार
नालंदा लोकसभा सीट पर आजादी के बाद इस बार चुनाव में सबसे ज्यादा 35 उम्मीदवार हैं. नालंदा सीट पर इस बार 36 उम्मीदवारों ने नामांकन किया था. लेकिन एक प्रत्याशी अशोक कुमार का नॉमिनेशन रद्द हो गया था. इसलिए मैदान में 35 उम्मीदवार बच गए. जिसमें 23 दलीय हैं जबकि 12 निर्दलीय हैं. एक दैनिक अखबार के मुताबिक तीन प्रत्याशियों पर नाम वापसी का दबाव था. लेकिन वे नहीं माने और मैदान में डटे हैं. इससे पहले साल 2014 में नालंदा से कुल 22 प्रत्याशियों ने ही चुनाव लड़ा था।

नेताओं को सता रहा है वोटों में बिखराव का डर
नालंदा में इस बार 35 प्रत्याशियों में सबसे अधिक 23 प्रत्याशी पिछड़ी और अतिपिछड़ी जाति के हैं। जिससे महागठबंधन और एनडीए दोनों दलों को वोटों में बिखराव का डर सताने लगा है . दोनों गठबंधनों को वोटों में सेंधमारी का खतरा बढ़ गया है।

किस जाति के कितने उम्मीदवार
अनुसूचित जाति के भी 6 प्रत्याशियों ने नामांकन किया है। जिनमें सबसे अधिक चार पासवान जाति के हैं। वहीं एक पासी तो दूसरे रजवार हैं। वहीं तीन महिलाएं भी मैदान में हैं। जिनमें एक शहरी पृष्ठभूमि की और दो की गांव से पहचान है। एकमात्र मुस्लिम प्रत्याशी भी मैदान में डटे हैं। वो पिछड़े पसमांदा समाज से हैं। इनके मैदान में होने से एनडीए खेमे में तनाव है.

इसे भी पढ़िए-नालंदा में अशोक कुमार का क्यों रद्द हुआ नामांकन.. जानकर चौंक जाएंगे आप

अगड़ी जाति के उम्मीदवार भी बिगाड़ सकते हैं खेल
इस बार अगड़ी जाति के छह प्रत्याशी भी मैदान में हैं। जिसमें तीन ब्राह्मण, दो भूमिहार और एक राजपूत जाति से है। साथ ही शिव सेना ने भी इस बार अपना प्रत्याशी उतारा है. ये परंपरागत तौर पर एनडीए के वोटर माने जाते हैं. ऐसे में ये एनडीए खेमे में सेंध लगा सकते हैं.

इसे भी पढ़िए-बिहारशरीफ में RCP सिंह की सभा में कौशलेंद्र कुमार का विरोध.. देखिए Video

मान्यता प्राप्त दल के कौन कौन प्रत्याशी
मान्यता प्राप्त दल के तीन प्रत्याशी ही मैदान में हैं. जिसमें जदयू के कौशलेन्द्र कुमार, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के शशि कुमार और बहुजन समाजवादी पार्टी के शशि कुमार . यानि इस बार दो शशि कुमार मैदान में हैं. जिससे मतदाताओं में नाम को लेकर कन्फ्यूजन हो सकता है.

इसे भी पढ़िए-कौशलेंद्र कुमार की संपत्ति कितनी बढ़ी, कितना है कैश, कितनी है जमीन.. जानिए

गैर मान्यता प्राप्त दलों के कौन कौन उम्मीदवार
1.हम यानि हिन्दुस्तान अवाम मोर्चा सेक्यूलर के अशोक आजाद
2. अनिल कुमार – भारतीय जन क्रांति दल डेमोक्रेटिक
3. कुमार हरिचरण सिंह यादव- भारतीय मोमिन फ्रंट
4. चिरंजीव कुमार- शिवसेना
5. दिलीप रावत – मानववादी जनता पार्टी
6. दीनानाथ पांडेय- भारतीय इंकलाब पार्टी
7. पवन कुमार पांडेय- भारतीय लोकमत राष्ट्रवादी पार्टी
8. पुरुषोत्तम शर्मा – नेशनल जागरण पार्टी
9. ब्रह्मदेव प्रसाद- शोषित समाज दल
10. राजीव रंजन कुमार- जन अधिकार पार्टी
11. रामचरित्र प्रसाद सिंह- हिन्दुस्तान निर्माण दल
12. रामचन्द्र प्रसाद- समग्र उत्थान पार्टी
13. रामविलास पासवान- राष्ट्रीय हिन्द सेना
14. रेखा कुमारी – पूर्वाचल महापंचायत
15. शंकर पांडेय – बहुजन न्याय दल
16. संजीत कुमार- जनतांत्रिक विकास पार्टी
17. संपती कुमार- सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी
18. सुनील रविदास- रिपब्लिक पार्टी ऑफ इंडिया (ए)
19. सुरेन्द्र सिंह- भारत प्रभात पार्टी
20. सोहावन पासवान- पब्लिक मिशन पार्टी

कौन कौन निर्दलीय मैदान में
नालंदा लोकसभा सीट पर निर्दलीय प्रत्याशियों में अशोक कुमार, उषा देवी, नीता देवी, पुनीत कुमार, मिटू कुमार, मोहन बिन्द, मोहम्मद सुरखाब आलम, रजनीश कुमार पासवान, राकेश पासवान, रामचन्द्र सिंह, शैलेन्द्र चौधरी तथा सुधीर कुमार शामिल हैं। निर्दलीय प्रत्याशियों की संख्या कुल 12 है।

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In खास खबरें

Leave a Reply

Check Also

पावापुरी मेडिकल कॉलेज के डॉक्टर सस्पेंड.. जानिए क्यों ?

पावापुरी मेडिकल कॉलेज में चार दिनों से चलता आ रहा बवाल आखिरकार थम गया. विम्स अस्पताल के आर…