बड़ी जीत… मलमास मेला को मिला राजकीय दर्जा, अब क्या-क्या बदलेगा जानिए

0

नालंदावासियों की बड़ी जीत हुई है। 16 मई से राजगीर में लगने वाले विश्व प्रसिद्ध मलमास मेला को बिहार सरकार ने राजकीय मेला का दर्जा दे दिया है। मंगलवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में कैबिनेट की बैठक हुई। जिसमें राजगीर में लगने वाले मलमास मेला को राजकीय मेला का दर्जा देने का फैसला लिया गया। आपको बता दें कि जिलावासियों के साथ साथ साधु संत पिछले कई सालों से मलमास मेला को राजकीय दर्जा देने की मांग कर रहे थे। इसे लेकर मंत्री से लेकर मुख्यमंत्री तक से अपील की गई थी। आखिरकार नालंदा के लाल नीतीश कुमार ने अपने गृह जिला में लगने वाले मलमास मेला को राजकीय मेला का दर्जा दे दिया है।

इसे भी पढ़िए-राजगीर मलमास मेला कब और क्यों लगता है? क्या मान्यता है ?..सब जानिए

राजकीय दर्जा मिलने से क्या-क्या फायदा होगा

अब सवाल ये उठता है कि राजकीय मेला का दर्जा मिलने से क्या-क्या बदल जाएगा। तो आपको बता दें कि मलमास मेला को राजकीय दर्जा मिलने से पूरी तस्वीर ही बदल जाएगी। ये मेला सरकारी मेला होगा। इसमें होने वाला खर्च भी सरकार उठाएगी। अभी तक इसका खर्ज जिला प्रशासन और बंदोबस्ती से होने वाले आय से किया जाता था। अब इसका पूरा खर्च राज्य सरकार देगी। साथ ही यहां राज्य सरकार की ओर से कई तरह के स्टॉल लगाए जाएंगे। आप इसे ऐसे समझिए कि जैसे राजगीर महोत्सव के दौरान राजगीर में प्रोग्राम आयोजित होते हैं वैसे ही अब मलमास मेला के दौरान होगा। यानि मलमास मेला के दौरान लोगों को अब डबल मजा आएगा। थिएटर और सर्कस के शौकिनों के लिए थियेटर और सर्कस के अलावा मौत का कुआं जैसी व्यवस्था तो होगी ही। साथ ही सरकार अलग से टेंट सिटी बनाएगी जिसमें सरकार द्वारा आयोजित अलग-अलग तरह के प्रोग्राम होंगे। इसके अलावा अब इसे मुख्यमंत्री इसका विधिवत उद्घाटन करेंगे और इसका समापन समारोह होगा क्योंकि ये राजकीय है। पहले मलमास मेला का उद्घाटन करने सीएम नहीं आते थे। इसके अलावा कोई न कोई मंत्री और अधिकारियों का भी लगातार कार्यक्रम होता रहेगा। लोगों के ठहरने की व्यवस्था भी अब सरकार कराएगी। यानि अब राजगीर में मलमास मेला का मजा डबल हो जाएगा।

इसे भी पढ़िए-राजगीर मलमास मेला में कब-कब होगा शाही स्नान.. जानिए

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In राजगीर

Leave a Reply

Check Also

चिराग पासवान को मिला RJD और कांग्रेस का ऑफर.. बीजेपी ने बताया फ्यूज बल्ब

चाचा पशुपति पारस से धोखा मिलने के बाद चिराग पासवान के आगे की रणनीति क्या होगी । इस पर सस्प…