Home खास खबरें कहां शराब माफिया और पुलिस में हुई मुठभेड़.. जानिए

कहां शराब माफिया और पुलिस में हुई मुठभेड़.. जानिए

0

शराब माफिया और पुलिस के बीच घंटों चली मुठभेड़ हुई । गोलियों की आवाज से पूरा इलाका दहल गया। दोनों ओर से कई राउंड गोलियां चली । पुलिस को सूचना मिली थी कि शराब तस्कर और इलाके का कुख्यात अपराधी चंदन बेनीपुर जंगल में छिपा है । जिसके बाद पुलिस की टीम ने चंदन और उसके साथियों को घेर लिया । खुद को घिरा देख चंदन गिरोह ने पुलिस पर फायरिंग शुरू कर दी । पुलिस को भी जवाबी फायरिंग करनी पड़ी । दोनों ओर से एक के बाद एक कई राउंड गोलियां चली । लेकिन जैसे ही अंधेरा हुआ भीषण गोलीबारी के बीच अपराधी पुलिस को गच्चा देने में कामयाब रहे । अपराधी चंदन अपने साथियों के साथ फरार हो गया । हालांकि पुलिस को घटनास्थल से एक रायफल और चार गोलियां बरामद हुई है । साथ ही बड़ी मात्रा में शराब बनाने की सामाग्री और भट्टियां मिली। मामला नवादा के रूपौ थाना के बेनीपुर जंगल की है । कुख्यात तस्कर चंदन की गिरफ्तारी के लिए सीआरपीएफ के असिस्टेंट कमांडेंट दामोदर सिंह और रूपौ थानाध्यक्ष तिल्ला उरांव के नेतृत्व में सीआरपीएफ और जिला पुलिस ने छापेमारी शुरू की गई। सिलपर जंगल में तलाशी के दौरान चंदन और उसके गिरोह द्वारा पुलिस पर गोलीबारी की जाने लगी। पुलिस की ओर से भी जवाबी कार्रवाई की गई। आपको बता दें कि  13 अप्रैल को चंदन ने अपने गांव के ही बबलू यादव की गोली मारकर हत्या का दी थी। इसके पहले भी वो गांव में हत्या की वारदात को अंजाम दे चुका है। पिछले महीने  उसने कोशी गांव के एक किसान से तीन बंदूक और रायफल लूट लिए थे। उसपर रंगदारी की मांग को ले नावाडीह ग्राम कचहरी के सरपंच रमेश सिंह के ट्रैक्टर लूटने का भी आरोप है। चंदन गिरोह में आसापास के कई गांवों के दर्जन बाहर बदमाश शामिल हैं। गिरफ्तारी के भय से वे गांव-घर छोड़कर जंगल में रहते हैं।

 

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In खास खबरें

Leave a Reply

Check Also

विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने लोजपा ( LJP) को दिया बड़ा झटका..

बिहार में विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Election) का बिगुल बज चुका है. लेकिन सीट बंटवारे …