बिहारशरीफ में कोचिंग के लिए निकली 17 साल की छात्रा का किडनैपिंग के बाद हत्या.

0

बिहारशरीफ से दिल दहलाने वाली वारदात सामने आई है. जहां 17 साल की एक छात्रा को अगवा कर हत्या कर दी गई है. बताया जा रहा है कि छात्रा घर से कोचिंग के लिए धनेश्वर घाट गई थी। जहां से अगवा कर बदमाशों ने उसकी हत्या कर दी है. छात्रा का शव बसवन बीघा रेलवे लाइन के पास से बरामद किया गया है.

छात्रा ने आखिरी बार भाई के दोस्त को फोन की
17 साल की दीपा ने आखिरी बार रोते हुए अपने बड़े भाई के दोस्त के पास फोन की. जिसमें वो बोलती सुनाई दे रही है कि
…बोलते रहे नै मारो……मार दिया…काट दिया… उसके भाई का दोस्त कहता रहा कि- भैया बोलती हो हमको, बताओ कहां हो? दीपा बता भी रही थी, लेकिन लड़खड़ाती आवाज के कारण कुछ समझ नहीं आया।

इसे भी पढ़िए-नालंदा में नीतीश कुमार के करीबी पैक्स अध्यक्ष को गोली मारी.. हालत गंभीर

रेलवे लाइन पर लाश बरामद
बसवन बीघा रेलवे लाइन पर शनिवार की सुबह एक लड़की की लाश मिलने की जानकारी जब अलीनगर पहुंची तो घर वाले दौड़ते-भागते पहुंचे। पहचान दीपा के रूप में हुई। जहां पर लाश मिली, वह दीपा के घर से उत्तर-पूर्व की तरफ और कोचिंग से पूरब की तरफ है। दीपा को रॉड से बुरी तरह मारा गया था। उसके हाथ से बहे खून को देखकर नस काटे जाने की भी बात कही जा रही है।

इसे भी पढ़िए-बिहार में छठी क्लास से आठवीं क्लास के स्कूल खुलेंगे.. जानिए कब से

अलीनगर की रहने वाली थी दीपा
17 साल की दीपा बिहार थाना क्षेत्र के अलीनगर की रहने वाली थी. उसके पिता का नाम राज कुमार गुप्ता है. वो शुक्रवार को दोपहर बाद करीब 3 बजे कोचिंग के लिए निकली थी। कोचिंग धनेश्वर घाट के पास है। कोचिंग का समय खत्म होने के बावजूद वह शाम में नहीं लौटी तो परिजन खोजने निकले।

परिजनों ने फोन किया
देर शाम तक जब दीपा घर नहीं लौटी तो परिजनों ने उसके फोन पर कॉल किया. दूसरी तरफ से फोन काट दिया जाता था. कुछ देर बाद दीपा के बड़े भाई के एक दोस्त के पास दीपा का कॉल आया। कॉल के दौरान वह लगातार रो रही थी और इतना ही बता पा रही थी कि उसे मार रहा है। कहीं काटा भी गया है। वह जगह का नाम बताना चाह रही थी, लेकिन दर्द और टूटती सांसों के कारण आवाज समझ में नहीं आई। इसके बाद वह लड़का रिंगबैक के लिए बार-बार ट्राई करता रहा, लेकिन कॉल नहीं लगा। उसी लड़के ने परिजनों ने रिकॉर्डिंग सुनाई तो सभी रात तक दीपा को ढूंढ़ते रहे, हालांकि पुलिस को जानकारी नहीं दी।

परेशान कर रहा था सूरज
कॉल रिकॉर्डिंग से दीपा को बुरी तरह मारे जाने की जानकारी होने के बावजूद पुलिस को सूचना नहीं दी गई थी, इसलिए कॉल रिसीव करने वाले युवक को ही पुलिस ने सबसे पहले हिरासत में लिया है। उससे पूछताछ की जा रही है। इधर, दीपा कुमारी की माँ निर्मला देवी ने बताया कि सूरज नाम का लड़का उसे लगातार परेशान कर रहा था। उन दोनों के बीच कोई संबंध था या नहीं, इस बारे में कोई कुछ नहीं बोल रहा है।

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In अपराध

Leave a Reply

Check Also

नालंदा का स्कूल संचालक निकला दरिंदा.. स्कूल में युवक को जिंदा जलाकर मार डाला

नालंदा जिला में एक खौफनाक वारदात सामने आई है । जहां स्कूल संचालक ने एक युवक को जिंदा जलाकर…