जानिए कब हो सकती है BPSC PT परीक्षा, पेपर लीक के कारण कैंसिल हुआ था एग्जाम

0

बिहार लोक सेवा आयोग की 67 वीं PT की परीक्षा रद्द कर दी गई। पेपर लीक मामले में कई अफसर जद में आ रहे हैं। दूसरी तरफ कैंडिडेट्स की चिंता इस बात को लेकर है कि अब आयोग इस परीक्षा की नई तिथि क्या देता है? इस बीच का समय उनको फिर से रिविजन करने के लिए मिल गया है, लेकिन अभ्यर्थी ज्यादा खुश न हों। आयोग पर दबाव है कि परीक्षा जल्द ली जाए

बिहार लोकसेवा आयोग के सचिव जिऊत सिंह ने मीडिया से बात करते हुआ कहा कि बरसात का समय आने के पहले परीक्षा ले ली जाएगी, क्योंकि बारिश के समय खास तौर से दक्षिण बिहार में मुश्किलों का सामना करना पड़ेगा। उन्होंने बताया कि जून के अंत में परीक्षा ले ली जाएगी।

इसे भी पढ़िए-BPSC 67वीं PT परीक्षा रद्द.. जानिए क्यों और किसे सौंपा गया जांच का जिम्मा

अभ्यर्थियों के बीच यह सवाल भी है कि कहीं BPSC ऑनलाइन परीक्षा तो नहीं लेगी। इसका जवाब यह है कि BPSC इतने कम समय में ऑनलाइन परीक्षा नहीं ले सकती। ऑनलाइन परीक्षा लेने के लिए अलग से नियमावली बनानी पड़ेगी। इसलिए इसके लिए निश्चिंत रहें कि परीक्षा वर्तमान तरीके से अनुसार ही होगी।

इसे भी पढ़िए-BPSC की कलंक कथा, छात्रों के भविष्य से खिलवाड़ का ‘महाजन’.. चौंकाने वाला कनेक्शन!

इस बार BPSC की ओर से राज्य के सभी डीएम और एसपी को अलग से इंस्ट्रक्शन जरूर भेजे जाएंगे ताकि प्रश्न पत्र लीक होने की घटना फिर से नहीं हो सके। प्रश्न पत्र लीक होने से आयोग की काफी भद्द पिटी है। साथ ही सरकार की छवि को भी गहरा धक्का लगा है। अफसरों पर भी अंगुली उठी है। इसलिए इसे दुरुस्त करने के लिए आयोग मंथन कर रहा है और डीएम और एसपी को जरूरी निर्देश भेजे जाने की संभावना है।

इसे भी पढ़िए-BPSC पेपर लीक कांड में पहली गिरफ्तारी, BDO गिरफ्तार

कई बार परीक्षा की तारीख बढ़ती रही, सीटों की संख्या भी 555 से 802 हो गई । दिसंबर, जनवरी, अप्रैल, मई कई बार BPSC ने PT परीक्षा की तिथियां बढ़ाईं। इस बार छह लाख से अधिक युवाओं ने आवेदन दिया था, इसलिए आयोग को कभी सेंटर तलाश करने में तो कभी अन्य परीक्षाओं की वजह से तिथियां बढ़ानी पड़ीं थी। इस बीच सीटों की संख्या भी बढ़ती रही। 7 अक्टूबर 2021 को 168 सीट बढ़ाई गई जिससे कुल सीटों की संख्या 723 हो गई। इनमें पुलिस उपाधीक्षक, सहायक निबंधक अधिकारी, अनुमंडल पिछड़ा वर्ग एवं अति पिछड़ा वर्ग पदाधिकारी की सीटें बढ़ाई गई थी।

इसे भी पढ़िए–BPSC की परीक्षा के दौरान एग्जाम हॉल में ही परीक्षार्थी की मौत.. जानिए पूरा मामला

3 नवंबर 2021 को 3 सीट अवर निबंधक/ संयुक्त अवर निबंधक (मद्य निषेध उत्पाद एवं निबंधन विभाग) में बढ़ाई गई जिससे सीटों की संख्या 726 हो गई। इसके बाद 16 दिसंबर 2021 को 68 सीटें बढ़ाई गई, जिनमें श्रम प्रवर्तन अधिकारी एवं कारा अधीक्षक के पद शामिल हैं। सीटों की संख्या 794 हो गई। 28 दिसंबर 2021 को पुनः गृह विभाग में प्रोबेशन अधिकारी की 4 सीटें बढ़ाई गई, जिसे कुल सीटों की संख्या 798 हो गईं। इसके बाद फिर 4 सीटें बढ़ाई जाने के बाद कुल संख्या 802 पर पहुंच गई है। शुरू में सीटों की संख्या 555 ही थीं।

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In जॉब एंड एजुकेशन

Leave a Reply

Check Also

दुल्हनिया संग हनीमून मनाने चले तेजस्वी यादव.. आरजेडी में मचा है घमासान

तेजस्वी यादव अपनी पत्नी राजश्री के साथ लंदन रवाना हो गए हैं। शादी के बाद ये उनकी पहली विदे…