BPSC पेपर लीक कांड में पहली गिरफ्तारी, BDO गिरफ्तार

0

BPSC पेपर लीककांड में पहली गिरफ्तारी हुई है । आर्थिक अपराध शाखा ने इस मामले में बीडीओ जयवर्धन गुप्ता को गिरफ्तार किया है । आज सुबह सुबह EOU की टीम ने बड़हरा प्रखंड के बीडीओ जयवर्धन गुप्ता को गिरफ्तार कर लिया गया है।

BDO की गिरफ्तारी क्यों
EOU की टीम ने बड़हरा प्रखंड के बीडीओ जयवर्धन गुप्ता को बड़हरा से गिरफ्तार किया है। फिलहाल BDO को गिरफ्तार कर पटना ले जाया गया है। दरअसल, जिस परीक्षा केंद्र से पेपर लीक हुआ था उस परीक्षा केंद्र पर जयवर्धन गुप्ता मजिस्ट्रेट के तौर पर तैनात थे। यानि वे वीर कुंवर सिंह कॉलेज स्थित परीक्षा केन्द्र पर मजिस्ट्रेट के तौर पर तैनात थे।

इसे भी पढ़िए-रेलवे ने मानी गलती, बदलना पड़ा दनियावां-शेखपुरा रेलखंड पर स्टेशन का नाम

EOU को सौंपी गई जांच
दरअसल, बिहार लोक सेवा आयोग (बीपीएससी) की 67 वीं संयुक्त प्रारंभिक परीक्षा (पीटी) के पेपर लीक मामले में आर्थिक अपराध इकाई (ईओयू) ने जांच शुरू कर दी है . इस मामले में ईओयू ने एफआईआर दर्ज कर ली है। डीएसपी रैंक के अधिकारी को इस केस का आईओ बनाया गया है।

इसे भी पढ़िए-नालंदा के डीएम की पत्नी नवादा की जिलाधिकारी.. जानिए, IAS पति-पत्नी की कहानी

मुख्यमंत्री ने दिए जांच के आदेश
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा है कि बीपीएससी प्रश्नपत्र लीक मामले में गड़बड़ करने वालों पर जल्द कार्रवाई होगी। हमने पदाधिकारियों को निर्देश दिया है कि जल्द-से-जल्द इसकी जांच कीजिए। इस पूरे मामले में बहुत एक्शन हो रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि कोई भी कैसे प्रश्नपत्र लीक किया। इसे जिले को जो भेजा जाता है तो कहां से किस तरह से लीक हुआ है। इसकी पूरी जांच की जा रही है। कोई कैसे लीक किया।

इसे भी पढ़िए-BPSC की परीक्षा के दौरान एग्जाम हॉल में ही परीक्षार्थी की मौत.. जानिए पूरा मामला

    Load More Related Articles
    Load More By Nalanda Live
    Load More In खास खबरें

    Leave a Reply

    Check Also

    दुल्हनिया संग हनीमून मनाने चले तेजस्वी यादव.. आरजेडी में मचा है घमासान

    तेजस्वी यादव अपनी पत्नी राजश्री के साथ लंदन रवाना हो गए हैं। शादी के बाद ये उनकी पहली विदे…