Home राजगीर मलमास मेला से पहले किन-किन 11 बदमाशों को किया जिलाबदर.. जानिए

मलमास मेला से पहले किन-किन 11 बदमाशों को किया जिलाबदर.. जानिए

0

16 मई से राजगीर में विश्वप्रसिद्ध मलमास मेला शुरू होने वाला है। मलमास मेला को सफल बनाने के लिए जिला प्रशासन ने कमर कस ली है। पुरुषोत्तम मास मेला के दौरान शांति बनाए रखने के लिए जिला प्रशासन ने कड़ा कदम उठाया है। जिला प्रशासन ने 11 अपराधियों को 15 जून तक जिला बदर कर दिया है यानि इन 11 बदमाशों को 15 जून तक नालंदा जिला की सीमा से बाहर रहना होगा। बताया जा रहा है कि राजगीर डीएसपी और एसपी सुधीर कुमार पोरिका की अनुशंसा पर जिलाधिकारी डॉक्टर त्यागराजन एस मोहनराम ने आदेश पारित कर दिया। इन 11 अपराधियों के खिलाफ जिले के सभी थाना को सूचित कर दिया गया है। पुलिस के मुताबिक जिन 11 बदमाशों को जिलाबदर किया गया है वे सभी राजगीर के रहने वाले हैं।
इनके नाम इस प्रकार हैं
1. वीरेंद्र राजवंशी- ठाकुर स्थान, राजगीर
2. अरविंद साह- तुलसी गली, राजगीर
3. एहतेशाम मियां- नोनही, राजगीर
4. महेश यादव- बड़ी मिलकी, राजगीर
5. केडी सिंह उर्फ दिवाकर- महादेवपुर, राजगीर
6. उपेंद्र शर्मा- निचली बाजार, राजगीर
7. ललन कहार- टिलहापर, राजगीर
8. सिया राजवंशी- मार्क्सवादी नगर, राजगीर
9. चंदन कुमार- बिचली कुंआ, राजगीर
10. कारू राजवंशी- कार्यानंद नगर, राजगीर
11. सुनील कुमार- ठाकुर स्थान, राजगीर
इन सभी 11 अपराधियों को 15 जून तक नालंदा जिला की सीमा से बाहर रहना होगा। अब आपको जिला बदर के बारे में बताते हैं कि वो होता क्या है। इसका प्रावधान गुंडा एक्ट में है। जिसमें आदतन अपराधियों को जिनसे जिला में कानून व्यवस्था बिगड़ने की आशंका होती है उन्हें जिलाधिकारी जिला से बाहर जाने का आदेश देते हैं। इस दौरान उन्हें थाने में अपनी हाजिरी भी लगानी होती है। एक बार में छह महीने के लिए किसी अपराधी को जिलाबदर किया जा सकता है ।

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In राजगीर

Leave a Reply

Check Also

बिहार में कई जिलों के सिविल सर्जन बदले गए.. जानिए किनका कहां हुआ तबादला

बिहार चुनाव से पहले अफसरों के तबादले का सिलसिला लगातार जारी है. बिहार में कई डॉक्टरों का त…