Home खेल अंतिम गेंद पर चेन्नई को हराकर मुंबई बना IPL का सुपरकिंग.. रोंगटे खड़े कर देने वाले इस जीत का एक-एक बॉल पढ़िए

अंतिम गेंद पर चेन्नई को हराकर मुंबई बना IPL का सुपरकिंग.. रोंगटे खड़े कर देने वाले इस जीत का एक-एक बॉल पढ़िए

0

मुंबई इंडियंस ने आईपीएल के फाइनल मुकाबले में चेन्नई को हराकर एक बार फिर अपनी बादशाहत कायम किया है. मुंबई इंडियंस ने घातक गेंदबाजी के दम पर रोंगटे खड़े कर देने वाले इंडियन प्रीमियर लीग के 12वें सीजन के फाइनल मुकाबले में चेन्नई सुपर किंग्स को 1 रन से हराकर टूर्नामेंट पर कब्जा जमा लिया है. हैदराबाद के राजीव गांधी इंटरनेशनल स्टेडियम में खेले गए फाइनल मुकाबले में पहले बल्लेबाजी करते हुए मुंबई इंडियंस की टीम ने 8 विकेट खोकर 149 रन बनाए. जवाब में चेन्नई 148 रन ही बना सकी. इसी के साथ ही मुंबई 4 बार आईपीएल का खिताब जीतने वाली पहली टीम बन गई है.

आखिरी गेंद पर दिखा मलिंगा का कमाल
जसप्रीत बुमराह और राहुल चाहर की कसी हुई गेंदबाजी के बाद लेसिथ मलिंगा के आखिरी ओवर के कमाल से मुंबई इंडियंस ने उतार चढ़ाव से भरे रोमांचक फाइनल में चेन्नई सुपर किंग्स को 1 रन से हराकर चौथी बार आईपीएल चैंम्पियन बनने का गौरव हासिल किया.चेन्नई के सामने 150 रनों का लक्ष्य था, लेकिन उसकी टीम शेन वॉटसन के 59 गेंदों पर 80 रनों के बावजूद 7 विकेट पर 148 रन ही बना पाया. चेन्नई को आखिरी ओवर में 9 रन चाहिए थे, लेकिन इसमें उसने वॉटसन का विकेट गंवाया.मैच का परिणाम अंतिम गेंद पर निकला, जिसमें चेन्नई को 2 रनों की दरकार थी, लेकिन मलिंगा ने यॉर्कर पर शार्दुल ठाकुर को एलबीडब्ल्यू आउट कर दिया.

काम न आई पोलार्ड की पारी

इससे पहले मुंबई की टीम नियमित अंतराल में विकेट गंवाने के कारण क्विंटन डि कॉक (17 गेंदों पर चार छक्कों की मदद से 29) से मिली अच्छी शुरुआत और कीरोन पोलार्ड (25 गेंदों पर नाबाद 41, 4X3, 6X3) के उपयोगी योगदान देने के बावजूद 8 विकेट पर 149 रन ही बना पाया.

मुंबई ने रचा इतिहास

मुंबई और चेन्नई के बीच यह चौथा फाइनल था, जिसमें मुंबई तीन बार चैंम्पियन बना है. इन दोनों टीमों के बीच हमेशा पहले बल्लेबाजी करने वाली टीम जीती है और इस बार भी यह क्रम जारी रहा. शायद यही सोचकर रोहित शर्मा ने पहले बल्लेबाजी का फैसला किया. मुंबई ने इससे पहले 2013, 2015 और 2017 में खिताब जीते थे और इस तरह से उसने एक साल छोड़कर खिताब जीतने का क्रम जारी रखा. उसने 2013 और 2015 के फाइनल में भी चेन्नई को हराया था. मुंबई की जीत में उसके गेंदबाजों ने अहम भूमिका निभाई. बुमराह और चाहर ने अपने कोटे के चार-चार ओवरों में 14-14 रन दिए और क्रमश: दो और एक विकेट हासिल किया. मिशेल मैकलेनघन ने भी चार ओवरों में 24 रन दिए. मुंबई का क्षेत्ररक्षण हालांकि अच्छा नहीं रहा. अकेले वॉटसन को ही तीन जीवनदान मिले. इससे पहले दीपक चाहर ने मुंबई को बड़ा स्कोर नहीं बनाने दिया था. उन्होंने 26 रन देकर तीन विकेट लेने में सफल रहे. उनके अलावा इमरान ताहिर (23 रन देकर दो) और शार्दुल ठाकुर (37 रन देकर दो) ने भी अच्छी गेंदबाजी की.

20वां ओवर: मलिंगा ने इस ओवर में 7 रन देकर 2 विकेट झटके. इसी के साथ मुंबई ने खिताब पर कब्जा कर लिया.

19वां ओवर: चेन्नई का स्कोर 141-5 (रन-विकेट). बुमराह ने एक बार फिर टीम को सफलता दिलाई और ओवर की दूसरी गेंद पर चेन्नई को 5वां झटका देते हुए ब्रावो को 15 रन पर चलता किया. रवींद्र जडेजा 2 रन और शेन वॉटसन 76 रन बनाकर क्रीज पर मौजूद.

18वां ओवर: चेन्नई का स्कोर 132-4 (रन-विकेट). क्रुणाल पंड्या के इस ओवर में वॉटसन ने लगातार 3 छक्के लगाकर मैच को पलट दिया. इस ओवर में 20 रन बने. ड्वेन ब्रावो 15 रन और शेन वॉटसन 75 रन बनाकर क्रीज पर मौजूद.

17वां ओवर: चेन्नई का स्कोर 112-4 (रन-विकेट). बुमराह ने कसी हुई गेंदबाजी की और महज 4 रन दिए. इस ओवर में 12 रन के निजी स्कोर पर ब्रावो को कैच छूटने की वजह से जीवन दान मिला. ड्वेन ब्रावो 14 रन और शेन वॉटसन 56 रन बनाकर क्रीज पर मौजूद.

16वां ओवर: चेन्नई का स्कोर 108-4 (रन-विकेट). मलिंगा के इस ओवर की शुरुआत ब्रावो ने छक्के के साथ की. इसके बाद वॉटसन ने लगातार 3 चौके जड़े. इस ओवर में 20 रन बने. ड्वेन ब्रावो 12 रन और शेन वॉटसन 55 रन बनाकर क्रीज पर मौजूद. 44 गेंदों में वॉटसन ने अर्धशतक पूरा किया.

15वां ओवर: चेन्नई का स्कोर 88-4 (रन-विकेट). मिशेल मैक्लेघन ने इस ओवर में 3 रन दिए. ड्वेन ब्रावो 5 रन और शेन वॉटसन 42 रन बनाकर क्रीज पर मौजूद.

14वां ओवर: चेन्नई का स्कोर 85-4 (रन-विकेट). राहुल चाहर ने इस ओवर में 3 रन दिए. ड्वेन ब्रावो 2 रन और शेन वॉटसन 42 रन बनाकर क्रीज पर मौजूद.

13वां ओवर: चेन्नई का स्कोर 82-4 (रन-विकेट). हार्दिक पंड्या के इस ओवर में चेन्नई को बड़ा झटका लगा और धोनी रन आउट होकर पवेलियन लौट गए. ओवर में एक विकेट गिरा और 3 रन बने. ड्वेन ब्रावो के साथ शेन वॉटसन 41 रन बनाकर क्रीज पर मौजूद.

12वां ओवर: चेन्नई का स्कोर 79-3 (रन-विकेट). राहुल चाहर के इस ओवर में 7 रन बने. कप्तान एम एस धोनी 1 रन और शेन वॉटसन 40 रन बनाकर क्रीज पर मौजूद.

11वां ओवर: चेन्नई का स्कोर 73-3 (रन-विकेट). बुमराह ने मुंबई को तीसरी सफलता दिलाई, उन्होंने अंबति रायडू को 1 रन के निजी स्कोर पर आउट किया. ओवर में 1 रन बने. कप्तान एम एस धोनी के साथ शेन वॉटसन 35 रन बनाकर क्रीज पर मौजूद.

10वां ओवर: चेन्नई का स्कोर 72-2 (रन-विकेट). राहुल चाहर ने इस ओवर में टीम को बड़ी सफलता दिलाई. उन्होंने सुरेश रैना को 8 रन के निजी स्कोर पर चलता किया. उनके इस ओवर में 2 रन बने. अंबति रायडू 1 रन और शेन वॉटसन 34 रन बनाकर क्रीज पर मौजूद.

9वां ओवर: चेन्नई का स्कोर 70-1 (रन-विकेट). मिशेल मैक्लेघन के इस ओवर में वॉटसन आउट होते होते बच गए. उन्होंने हवा में गेंद खेली लेकिन मलिंगा गेंद तक नहीं पहुंच पाए और कैच नहीं हो सका. ओवर में 10 रन बने. सुरेश रैना 8 रन और शेन वॉटसन 33 रन बनाकर क्रीज पर मौजूद.

8वां ओवर: चेन्नई का स्कोर 60-1 (रन-विकेट). राहुल चाहर के इस ओवर में 3 रन बने. सुरेश रैना 7 रन और शेन वॉटसन 25 रन बनाकर क्रीज पर मौजूद.

7वां ओवर: चेन्नई का स्कोर 57-1 (रन-विकेट). मिशेल मैक्लेघन के इस ओवर में 4 रन बने. सुरेश रैना 5 रन और शेन वॉटसन 24 रन बनाकर क्रीज पर मौजूद.

छठा ओवर: चेन्नई का स्कोर 53-1 (रन-विकेट). मलिंगा के इस ओवर में 15 रन बने, जिसमें वॉटसन का एक छक्का भी शामिल है. सुरेश रैना 3 रन और शेन वॉटसन 23 रन बनाकर क्रीज पर मौजूद.

5वां ओवर: चेन्नई का स्कोर 38-1 (रन-विकेट). बुमराह के इस ओवर में 5 रन बने. सुरेश रैना 3 रन और शेन वॉटसन 9 रन बनाकर क्रीज पर मौजूद.

चौथा ओवर: चेन्नई का स्कोर 33-1 (रन-विकेट). क्रुणाल पंड्या के इस ओवर में 14 रन बने, वहीं एक अहम विकेट भी गिरा. पंड्या के इस ओवर में फाफ डु प्लेसिस बेहद खतरनाक नजर आ रहे थे, उन्होंने दूसरी, तीसरी और चौथी गेंद पर चौका, छक्का और चौका लगाकर अपना इरादा जाहिर कर दिया. हालांकि, ओवर की अंतिम गेंद पर वो चलते बने. डु प्लेसिस ने 13 गेंदों में 26 रन की धमाकेदार पारी खेली लेकिन इस पारी को बड़े स्कोर में बदलने से चूक गए. सुरेश रैना के साथ शेन वॉटसन 7 रन बनाकर क्रीज पर मौजूद.

तीसरा ओवर: चेन्नई का स्कोर 19-0 (रन-विकेट). लसिथ मलिंगा के इस ओवर में 7 रन बने. फाफ डु प्लेसिस 12 रन और शेन वॉटसन 7 रन बनाकर क्रीज पर मौजूद.

दूसरा ओवर: चेन्नई का स्कोर 12-0 (रन-विकेट). फाफ डु प्लेसिस 6 रन और शेन वॉटसन 6 रन बनाकर क्रीज पर मौजूद. वॉटसन ने चौथी गेंद पर चौका जड़ा. क्रुणाल पंड्या के इस ओवर में 5 रन बने.

पहला ओवर: 150 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी चेन्नई की टीम का स्कोर 7-0 (रन-विकेट). फाफ डु प्लेसिस 5 रन और शेन वॉटसन 2 रन बनाकर क्रीज पर मौजूद. फाफ डु प्लेसिस ने तीसरी गेंद पर चौका जड़ा. मिशेल मैक्लेघन के इस ओवर में 7 रन बने.

मुंबई की पारी में लास्ट ओवर का ड्रामा ट्वीट में देखें…

मुंबई की ने चेन्नई को दिया 150 रन का टारगेट

20वां ओवर: मुंबई का स्कोर 149-8. ड्वेन ब्रावो के इस ओवर में 10 रन बने, वहीं 1 विकेट रन आउट के रूप में मिला. मुंबई की तरफ से पोलार्ड ने सबसे ज्यादा नाबाद 41 रनों की पारी खेली. 25 गेंद पर खेली गई इस पारी में उन्होंने 3 छक्के और 3 चौके लगाए. मुंबई की तरफ से दीपक चाहर सबसे सफल गेंदबाज रहे. उन्होंने 4 ओवर में 26 रन देकर 3 विकेट झटके. उनके अलावा शार्दूल ठाकुर और इमरान ताहिर ने 2-2 विकेट लिए.

दीपक चाहर ने पहले दो ओवर में बिना विकेट लिए 22 रन लुटाए. इसके बाद अगले 2 ओवर में उन्होंने सिर्फ 4 रन देकर 3 विकेट झटके. इसमें 1 मेडन ओवर भी शामिल है.

आखिरी के 5 ओवरों में केरन पोलार्ड के रहते हुए मुंबई 47 रन ही बना पाई और इस दौरान उसने 3 विकेट खो दिए. पोलार्ड ने आखिरी ओवर की आखिरी 2 गेंदों पर 2 चौके मारे लेकिन इससे पहले इसी ओवर में ड्वेन ब्रावो ने उन्हें रोके रखा. पोलार्ड ने 25 गेंदों पर नाबाद 41 रनों की पारी खेली जिसमें 3 चौके और 3 छक्के शामिल रहे.

19वां ओवर: मुंबई का स्कोर 140-7. दीपक चाहर ने शानदार गेंदबाजी की और 4 रन देकर 2 विकेट झटके. ओवर की पहली गेंद पर पंड्या ने चौका लगाया. दूसरी गेंद पर उन्होंने पंड्या को पवेलियन का रास्ता दिखाया. इसके बाद चौथी गेंद पर उन्होंने मुंबई को एक और झटका दिया. उन्होंने राहुल चाहर को बिना खाता खोले पवेलियन भेज दिया. पोलार्ड 32 रन बनाकर और मिशेल मैक्लेघन बिना खाता खोले क्रीज पर मौजूद.

18वां ओवर: मुंबई का स्कोर 136-5. शार्दूल ठाकुर की दूसरी गेंद पर सुरेश रैना ने हार्दिक पंड्या का कैच छोड़ा. इसके बाद अगली गेंद पर पोलार्ड ने छक्का जड़ा. पोलार्ड के अलावा हार्दिक पंड्या ने भी 5वीं गेंद पर छक्का लगाया. ओवर में कुल 16 रन बने. पोलार्ड 32 रन और हार्दिक पंड्या 12 रन बनाकर क्रीज पर मौजूद.

17वां ओवर: मुंबई का स्कोर 120-5. इमरान ताहिर की 5वीं गेंद पर पोलार्ड ने छक्का जड़ा. ओवर में कुल 10 रन बने. पोलार्ड 24 रन और हार्दिक पंड्या 4 रन बनाकर क्रीज पर मौजूद.

16वां ओवर: मुंबई का स्कोर 110-5. रवींद्र जडेजा के इस ओवर में कुल 8 रन बने. पोलार्ड 16 रन और हार्दिक पंड्या 2 रन बनाकर क्रीज पर मौजूद.

15वां ओवर: मुंबई का स्कोर 102-5. ताहिर के इस ओवर की शुरुआत पोलार्ड के छक्के के साथ हुई. हालांकि, ताहिर ने वापसी की और चौथी गेंद पर ईशान किशन को आउट किया. ईशान ने 26 गेंद पर 23 रनों की पारी खेली. इस ओवर में कुल 8 रन बने और एक विकेट गिरा. ओवर के खत्म होने तक पोलार्ड 10 रन बनाकर और हार्दिक पंड्या बिना खाते खोले क्रीज पर मौजूद.

14वां ओवर: मुंबई का स्कोर 94-4. रवींद्र जडेजा के इस ओवर में कुल 4 रन बने. पोलार्ड 2 रन और ईशान किशन 23 रन बनाकर क्रीज पर मौजूद.

13वां ओवर: मुंबई का स्कोर 90-4. शार्दूल ठाकुर ने इस ओवर में चेन्नई को चौथी सफलता दिलाई. उन्होंने क्रुणाल पंड्या को 7 रन के स्कोर पर आउट कर पवेलियन भेजा. ओवर में एक विकेट गिरा और 5 रन बने. कीरोन पोलार्ड बिना खाता खोले और ईशान किशन 21 रन बनाकर क्रीज पर मौजूद.

12वां ओवर: मुंबई का स्कोर 85-3. रोहित शर्मा ने इमरान ताहिर को गेंद थमाई और उन्होंने दूसरी ही गेंद पर टीम को तीसरी सफलता दिला दी. उन्होंने सूर्यकुमार यादव को 15 रन के निजी स्कोर पर चलता किया. इस ओवर में 1 विकेट गिरा और 5 रन बने. ईशान किशन 20 रन और क्रुणाल पंड्या 3 रन बनाकर क्रीज पर मौजूद.

11वां ओवर: मुंबई का स्कोर 80-2. हरभजन के इस ओवर में 2 चौके के साथ कुल 10 रन बने. ईशान किशन 20 रन और सूर्यकुमार यादव 13 रन बनाकर क्रीज पर मौजूद.

9वां ओवर: हरभजन सिंह के इस ओवर में कुल 5 रन बने. मुंबई का स्कोर 58-2. ईशान किशन 5 रन और सूर्यकुमार यादव 7 रन बनाकर क्रीज पर मौजूद.

8वां ओवर: दो विकेट गिरने के बाद मुंबई की रनों की रफ्तार पर ब्रेक लगा. ड्वेन ब्रावो के इस ओवर में कुल 3 रन आए. मुंबई का स्कोर 53-2. ईशान किशन 3 रन और सूर्यकुमार यादव 5 रन बनाकर क्रीज पर मौजूद.

7वां ओवर: मुंबई का स्कोर 50-2. ईशान किशन 2 रन और सूर्यकुमार यादव 3 रन बनाकर क्रीज पर मौजूद. हरभजन के इस ओवर में कुल 5 रन आए.

छठा ओवर: दीपक चाहर ने दूसरी गेंद पर चेन्नई को दूसरी सफलता दिलाई. उन्होंने कप्तान रोहित शर्मा को धोनी के हाथों कैच कराया. रोहित ने 14 गेंद में 15 रन बनाए. मुंबई का स्कोर 45-2. ईशान किशन और सूर्यकुमार बिना खाता खोले क्रीज पर मौजूद. यह ओवर मेडन रहा.

पांचवा ओवर: इस ओवर में चौथी गेंद पर डि कॉक ने छक्का लगाया. हालांकि, अगली ही गेंद पर शार्दूल ठाकुर ने चेन्नई को पहली सफलता दिलाई. उन्होंने शानदार लय में दिख रहे क्विंटन डि कॉक को 29 रन के निजी स्कोर पर चलता किया. मुंबई का स्कोर 45-1. रोहित शर्मा 15 रन और सूर्यकुमार बिना खाता खोले क्रीज पर मौजूद. ओवर में कुल 8 रन बने.

चौथा ओवर: मुंबई का स्कोर 37-0. रोहित शर्मा 14 रन और क्विंटन डि कॉक 22 रन बनाकर क्रीज पर मौजूद. हरभजन के इस ओवर में कुल 7 रन बने. रोहित शर्मा ने भज्जी की आखिरी गेंद पर चौका जड़ा.

तीसरा ओवर: मुंबई का स्कोर 30-0. रोहित शर्मा 9 रन और क्विंटन डि कॉक 20 रन बनाकर क्रीज पर मौजूद. धीमी शुरुआत के बाद इस ओवर में डि कॉक ने अपने हाथ खोले और दीपक चाहर की पहली, तीसरी और 5वीं गेंद पर 3 छक्के जड़े.

दूसरा ओवर: मुंबई का स्कोर 10-0. रोहित शर्मा 9 रन और क्विंटन डि कॉक 1 रन बनाकर क्रीज पर मौजूद. इस ओवर में शार्दूल ठाकुर की 5वीं गेंद पर रोहित शर्मा ने शानदार छक्का लगाया.

पहला ओवर: मुंबई ने बिना किसी नुकसान के 2 रन बनाए. रोहित शर्मा 1 रन और क्विंटन डि कॉक 1 रन बनाकर क्रीज पर मौजूद.

आपको बता दें कि मुंबई इंडियंस ने चार बार आईपीएल का खिताब अपने नाम किया है. जो कि आईपीएल इतिहास में सबसे ज्यादा. उसके बाद चेन्नई का स्थान है जिसने तीन बार पर आईपीएल पर कब्जा जमा चुकी है .

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In खेल

Leave a Reply

Check Also

विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने लोजपा ( LJP) को दिया बड़ा झटका..

बिहार में विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Election) का बिगुल बज चुका है. लेकिन सीट बंटवारे …