हार गया अनंत सिंह का ‘लाडला’, विवेका पहलवान का ‘पिस्टल’ भी फेल

0

एक वक्त था जब बाहुबली विधायक अनंत सिंह की तूती बोलती थी। अनंत सिंह के लाडला का जलवा हुआ करता था। लेकिन इस बार उनका लाडला मैदान में बाजी हार गया। लेकिन कहा जाता है न कि मरला हाथी भी लाख रुपए का होता है तो उनका लाडला भी हारने के बाद मैदान में दूसरे नंबर रहा ।

क्या है पूरा मामला
दरअसल, मशहूर फाल्गुनी पशु मेले में घुड़दौड़ का आयोजन किया गया था । उसमें मोकामा के बाहुबली विधायक अनंत सिंह का घोड़ा ‘लाडला’ हार गया। वहीं विवेका पहलवान का पिस्टल तीसरे नंबर पर रहा ।

इसे भी पढ़िए-होटल में गर्लफ्रेंड के साथ शराब पी रहा था बैंककर्मी .. पुलिस ने मारा छापा.. कमरे की हालत..

कहां हुई थी रेस
बक्सर के ब्रह्मपुर में आयोजित फाल्गुनी पशु मेले में घुड़दौड़ का आयोजन किया गया था। जिसमें कुल 44 घोड़े ने हिस्सा लिया था। जहां चार ग्रुप में सेमीफाइनल मुकाबला कराया गया था। इस दौरान प्रत्येक ग्रुप में 11 घोड़े शामिल हुए जिनमें से दो-दो घोड़े फाइनल मुकाबले के लिए चयनित किए गए। वहीं, फाइनल प्रतियोगिता में कुल 8 घोड़े ने हिस्सा लिया था ।

इसे भी पढ़िए-टाल में फिर शुरू होगा गैंगवार ? अनंत सिंह और विवेका पहलवान के बीच जंग की पूरी कहानी.. जानिए

कप पर किसका कब्जा
घुड़दौड़ में चौसा के रहने वाले मधु यादव के घोड़े साधु ने मोकामा के बाहुबली विधायक अनंत सिंह के घोड़े ‘लाडला’ को पछाड़ कर बाजी जीत ली। साधु ने 2022 के विजेता कप पर कब्जा कर लिया जबकि, मोकामा विधायक अनंत सिंह के ‘लाडला’ को दूसरा पुरस्कार मिला। तो वहीं, बाढ़ के नदमा के रहने वाले और अनंत सिंह के जानी दुश्मन विवेका पहलवान के घोड़े ‘पिस्टल’ को तीसरा स्थान प्राप्त हुआ ।

इसे भी पढ़िए-बाहुबली विधायक अनंत सिंह की मुश्किलें बढ़ी, ऑडियो टेप मामले में चार्जशीट दाखिल

आखिरी राउंड में पिछड़ा लाडला
घुसदौड़ के हर राउंड में अनंत सिंह का लाड़ला आगे चलता रहा। लेकिन फाइनल राउंड में लक्ष्य से 50 मीटर पहले सबको पीछे छोड़ते हुए चौसा निवासी मधु यादव का घोड़ा ‘साधु’ ने बाजी मार ली।

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In खेल

Leave a Reply

Check Also

सरकारी कर्मचारियों पर CM नीतीश सख्त.. जारी किया बड़ा आदेश

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार सरकारी दफ्तरों में कर्मचारियों की कार्यशैली को सुधारना चाहते हैं ।…