Home खास खबरें बिहार में BJP,JDU और LJP ने किस जाति के कितने उम्मीदवार को टिकट दिया.. जानिए

बिहार में BJP,JDU और LJP ने किस जाति के कितने उम्मीदवार को टिकट दिया.. जानिए

0

लोकसभा चुनाव के लिए बिहार में एनडीए ने अपने उम्मीदवारों के नाम की घोषणा कर दी है. सूबे की 40 लोकसभा सीटों में से खगाड़िया सीट छोड़कर बाकी 39 सीटों पर प्रत्याशियों के ऐलान कर दिए हैं. बीजेपी ने जहां प्रदेश के सवर्णों को साधने की कवायद की है तो जेडीयू ने ओबीसी और अति पिछड़े वर्ग पर ज्यादा भरोसा जताया है. वहीं, एलजेपी ने अपने कुनबे में ही सीट बांट ली है. हालांकि, एलजेपी अध्यक्ष राम विलास पासवान इस बार चुनावी मैदान में नहीं उतरने फैसला किया है.

NDA से एक मुस्लिम प्रत्याशी
जेडीयू ने अपने कोटे की 17 सीटों में से ज्यादातर सीटों पर ओबीसी, अति पिछड़ा और महादलित पर दांव खेला है. जेडीयू ने दो सवर्णों पर भरोसा जताया है. सीवान से कविता सिंह और मुंगेर से राजीव रंजन उर्फ लल्लन सिंह को उतारा है, जबकि जेडीयू ने महज एक सीट पर मुस्लिम पर दांव खेला है. किशनगंज से महमूद अशरफ को उम्मीदवार बनाया गया है.

जेडीयू का ओबीसी कार्ड
जेडीयू ने यादव समुदाय के साधने के लिए मधेपुरा से दिनेश चंद्र यादव और बांका सीट गिरिधारी यादव को उतारा है. अति पिछड़ा और महादलित के तौर पर बाल्मीकि नगर से वैद्यनाथ प्रसाद महतो, सीतामढ़ी से डॉ. वरुण कुमार, झंझारपुर से राम प्रीत मंडल, सुपौल दिलेश्वर कामत, कटिहार से दुलाल चंद्र गोस्वामी, पूर्णिया से संतोष कुमार कुशवाहा, गोपालगंज से डॉ. आलोक कुमार सुमन, भागलपुर से अजय कुमार मंडल, नालंदा से कौशलेंद्र कुमार, काराकट से महाबली सिंह, जहानाबाद से चंद्रेश्वर प्रसाद चंद्रवंशी और गया से विजय कुमार मांझी पर भरोसा जताया है.

बीजेपी का सवर्ण दांव
बीजेपी ने बिहार की जंग जीतने के लिए सवर्णों पर ज्यादा दांव खेला है. बीजेपी ने 17 सीटों में से 9 सवर्ण उम्मीदवार उतारे हैं. दिलचस्प बात ये है कि बीजेपी ने सवर्णों में सबसे ज्यादा राजपूत समुदाय के उम्मीदवार पर भरोसा जताया है, जिनमें पूर्वी चंपारण से राधा मोहन सिंह, महाराजगंज से जनार्दन सिंह, सारण से राजीव प्रताप रूडी, आरा से राज कुमार सिंह और औरंगाबाद से सुशील कुमार सिंह को मैदान में उतारा है. इसके अलावा दो ब्राह्मण, एक भूमिहार और एक कायस्थ पर दांव खेला है. ब्राह्मण समुदाय से बीजेपी ने दरभंगा से गोपाल जी ठाकुर और बक्सर से अश्विनी कुमार चौबे को प्रत्याशी घोषित किया है. जबकि भूमिहार समुदाय से बेगूसराय से गिरिराज सिंह को उतारा है. वहीं, कायस्थ के तौर पर पटना साहिब सीट से रविशंकर प्रसाद को प्रत्याशी घोषित किया है.

बीजेपी का 4 ओबीसी, 3 यादव, 1 दलित पर दांव
बीजेपी ने चार ओबीसी उम्मीदवारों पर दांव लगाया है । बीजेपी ने अररिया सीट से अतिपिछड़ी जाति के प्रदीप कुमार सिंह को मैदान में उतारा है। इसके अलावा ओबीसी कैटगरी से पश्चिमी चंपारण से डॉ. संजय जायसवाल , शिवहर से रमा देवी और मुजफ्फरपुर से अजय निषाद को टिकट दिया है । वहीं, बीजेपी ने तीन यादव उम्मीदवार को भी टिकट दिया है। यादव उम्मीदवारों में प्रदेश अध्यक्ष नित्यानंद राय को उजियारपुर से , राम कृपाल यादव पाटलीपुत्र सीट से और मधुबनी से अशोक कुमार यादव को उतारा है. इसके अलावा बीजेपी ने बिहार की महज एक सीट पर दलित कैंडिडेट उतारा है, सासाराम से छेदी पासवान को उम्मीदवार बनाया है.

एलजेपी की आधी सीट पर पासवान परिवार
बिहार में एलजेपी के कोटे में छह सीटें आईं हैं, जिनमें से तीन सीटों पर पासवान के परिवार के सदस्य ही उम्मीदवार हैं. हाजीपुर से पशुपति पारस, समस्तीपुर से रामचंद्र पासवान और चिराग कुमार पासवान को टिकट दिया है. इसके अलावा वैशाली से राजपूत जाति की वीणा देवी, नवादा से भूमिहार जाति के चंदन कुमार को टिकट दिया है. जबकि खगड़िया सीट पर अभी प्रत्याशी के नाम का ऐलान नहीं किया गया है.

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In खास खबरें

Leave a Reply

Check Also

विधान परिषद की 8 सीटों के लिए चुनाव का ऐलान.. जानिए कब क्या होंगे

बिहार विधानसभा के चुनाव की घोषणा के कुछ घंटों बाद ही बिहार विधान परिषद की खाली आठ सीटों के…