लॉड्स में विराट की सेना ने अंग्रेजों को धूल चटाया.. जानिए कौन रहे जीत के हीरो

0

भारत आजादी की 75वीं सालगिरह मना रहा है । ऐसे में क्रिकेट के मक्का कहे जाने वाले लॉड्स में विराट कोहली की सेना ने अंग्रेजों को रौंदा डाला। अंग्रेजों को उनके घर में घुसकर धूल चटाया है ।

भारत ने लॉर्ड्स टेस्ट में इंग्लैंड को 151 रन से हराया है। इसके साथ ही पांच मैचों की सीरीज में भारत 1-0 से आगे हो गया है ।

भारत की ओर से दूसरी पारी में जसप्रीत बुमराह और मोहम्मद शमी ने ऑलराउंड प्रदर्शन किया । दोनों ने 89 रन की नाबाद साझेदारी की। जिसके बदौलत भारत ने 272 रन का टारगेट दिया था। इसके जवाब में अंग्रेजों की टीम महज 120 रन पर ऑलआउट हो गई।

दूसरी पारी में मोहम्मद सिराज ने 4 विकेट लिए। उन्होंने जोस बटलर, मोइन अली, सैम करन और जेम्स एंडरसन को आउट किया। जबकि बुमराह को 3, इशांत को 2 और शमी को 1 विकेट मिला। भारतीय पेस बॉलर्स ने दोनों पारी मिलाकर कुल 19 विकेट लिए।

लोकेश राहुल ने पहली पारी में 129 रन बनाए थे। इसके लिए उन्हें मैन ऑफ द मैच अवॉर्ड मिला। ट्रेंट ब्रिज में खेला गया पहला टेस्ट ड्रॉ रहा था।

रिकॉर्ड की बात करें तो भारत और इंग्लैंड के बीच अब तक कुल 128 टेस्ट खेले गए हैं। इसमें से टीम इंडिया को सिर्फ 30 मैचों में जीत मिली। जबकि, इंग्लिश टीम ने 48 मुकाबलों में जीत हासिल की है। 50 मैच ड्रॉ रहे। इंग्लैंड में भारत ने कुल 64 टेस्ट खेले हैं। इसमें से टीम इंडिया ने 8 और इंग्लैंड ने 34 मैच जीते हैं। 22 टेस्ट ड्रॉ रहे।

लॉर्ड्स में 2014 के बाद पहली जीत ये भारत को 7 सालों बाद ये जीत मिली है । लॉर्ड्स में दोनों टीमों के बीच खेले गए 19 टेस्ट में 12 इंग्लैंड ने जीते और 3 टेस्ट में भारत को जीत मिली। 4 टेस्ट ड्रॉ रहे। इंग्लिश टीम ने 2018 में खेले गए पिछले मैच में भारत को पारी और 159 रन से हराया था। टीम इंडिया ने इससे पहले लॉर्ड्स में 2014 में जीत हासिल की थी। तब उन्होंने इंग्लैंड को 95 रन से हराया था।

भारत ने इंग्लैंड में पहले बैटिंग करते हुए 300 से ज्यादा रन बनाने के बाद कभी मैच नहीं गंवाया है। टीम इंडिया ने इंग्लैंड में 9 बार 300+ रन का स्कोर बनाया। इसमें से टीम ने 3 मुकाबलों में जीत हासिल की। यह दोनों मैच 2002 में हेडिंग्ले लीड्स में और 2018 में नॉटिंघम में खेले गए थे। वहीं 6 मैच ड्रॉ रहे।

टॉस हारकर पहले बैटिंग करने उतरी टीम इंडिया की पारी 364 रनों पर सिमट गई। लोकेश राहुल ने सबसे ज्यादा 129 रन बनाए। रोहित शर्मा ने 83 रन, विराट कोहली ने 42 रन और रवींद्र जडेजा ने 40 रन बनाए। चेतेश्वर पुजारा और अजिंक्य रहाणे एक बार फिर फ्लॉप रहे। पुजारा 9 रन और रहाणे 1 रन बनाकर आउट हुए।

पहली पारी में इंग्लैंड ने 391 रन स्कोरबोर्ड पर लगाए थे और टीम 27 रनों की लीड लेने में सफल रही थी। मेजबान टीम के लिए कप्तान जो रूट ने नाबाद 180 रनों की शानदार पारी खेली थी। रूट के टेस्ट करियर का यह 22वां और भारत के खिलाफ छठा शतक रहा। भारत के लिए मोहम्मज सिराज चार विकेट लेने में सफल रहे।

दूसरी पारी में जब भारत का स्कोर 298/8 था, तब कोहली ने पारी घोषित कर दी। वे लॉर्ड्स पर पारी घोषित करने वाले पहले भारतीय कप्तान बने। दूसरी पारी के दौरान एक समय टीम का स्कोर 55/3 था। टीम की लड़खड़ाती पारी को संभालने का काम चेतेश्वर पुजारा और उप-कप्तान अजिंक्य रहाणे ने किया। दोनों ने चौथे विकेट के लिए 100 रन जोड़े। पुजारा ने 45 और रहाणे ने 61 रनों की शानदार पारियां खेलीं।

मैच का टर्निंग पॉइंट शमी और बुमराह की बैटिंग रही। दोनों ने शानदार बैटिंग कर इंग्लिश टीम को विकेट के लिए तरसा दिया। दोनों ने 9वें विकेट के लिए 89 रन की नाबाद साझेदारी की। शमी ने सिक्स लगाकर फिफ्टी पूरी की। 106वें ओवर में मोइन अली की बॉल पर शमी ने 92 मीटर लंबा छक्का लगाया।

यह उनकी दूसरी टेस्ट फिफ्टी रही। इसके साथ ही शमी ने अपने पिछले हाईएस्ट स्कोर 51 रन को भी पीछे छोड़ दिया है। वे इस टेस्ट में 56 रन बनाकर नाबाद रहे। वहीं बुमराह ने भी 36* रन बनाए। उनका पिछला हाईएस्ट स्कोर 28 रन था। पहली बार ऐसा हुआ, जब एंडरसन भारत के खिलाफ लॉर्ड्स पर पारी में विकेट नहीं ले सके। इस तरह भारत ने 272 रन का टारगेट दिया।

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In खास खबरें

Leave a Reply

Check Also

नालंदा में रफ्तार का कहर.. बेकाबू ट्रक ने तीन युवकों रौंदा.. तीनों की मौत

नालंदा जिला में एक बार फिर तेज रफ्तार ने तीन युवकों की जान ले ली है । बताया जा रहा है कि ब…