नालंदा को मॉडल अस्पताल का तोहफा.. जानिए कहां बनेगा और क्या-क्या सुविधाएं होगी

0

नालंदा जिलावासियों के लिए खुशखबरी है। बिहार सरकार ने नालंदा जिलावासियों को मॉडल अस्पताल का तोहफा दिया है। जल्द ही उन्हें मॉडल अस्पताल की सुविधा मिलेगी। इसके लिए विभागीय प्रक्रिया भी शुरू कर दी गई है ।

200 बेड का मॉडल हॉस्पिटल
ये मॉडल हॉस्पिटल 200 बेड का होगा । ये करीब 1 लाख 20 हजार स्क्वायर फीट में बना होगा । मॉडल हॉस्पिटल का जी+4 ( यानि ग्राउंड फ्लोर + चार मंजिल) प्रोजेक्ट के तहत बनी बिल्डिंग में लिफ्ट की भी सुविधा उपलब्ध रहेगी। इस अत्याधुनिक अस्पताल के निर्माण पर 47.69 करोड़ रुपये खर्च किये जायेंगे।

MCH मॉडल पर अस्पताल
बिहार सरकार ने नालंदा को स्वास्थ्य क्षेत्र में बड़ी सौगात दी है । नालंदा में मॉडल हॉस्पिटल को एमसीएच यानि मदर चाइल्ड हॉस्पिटल के तौर विकसित किया जाएगा। जिसमें सभी प्रकार की सुविधाएं एक ही कैम्पस में उपलब्ध होगी। अस्पताल निर्माण मरीजों का इलाज में काफी सुविधा होगी।

क्या-क्या सुविधाएं होगी
मॉडल अस्पताल में इमरजेंसी वार्ड और रजिस्ट्रेशन काउंटर बनेगा जो पूर्णत: आधुनिक सुविधा से युक्त होगा। यहां आने वाले मरीजों को सभी सुविधाएं मिलेंगी। सभी विभाग अलग-अलग भवन में होंगे। मरीजों के साथ परिजनों के ठहरने के भी इंतजाम किए जाएंगे। मॉड्यूलर ऑपरेशन थियेटर का भी निर्माण होगा। मेडिकल और पैरामेडिकल स्टॉफ नियमानुसार दिए जाएंगे। बिल्डिंग में लिफ्ट के अलावा एस्कलेटर भी लगाया जाएगा। ताकी मरीजों को दिक्कत नहीं हो।

एक छत के नीचे सभी सुविधाएं
मॉडल हॉस्पिटल बन जाने के बाद मरीजों को एक ही छत के नीचे सारी सुविधा मिलेगी। सबसे बड़ी सुविधा सभी तरह के जांच की होगी। साथ ही सिटी स्कैन, अल्ट्रासाउंड आदि की भी सुविधा होगी। इसके अलावे भी कई प्रकार की सुविधा होगी। एक बार अंदर आने के बाद किसी भी प्रकार की चिकित्सकीय सुविधा के लिए मरीज को बाहर जाने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी।

ग्रीन जोन भी विकसित होगा
मॉडल हॉस्पिटल के लिए तैयार किए गए प्रारूप के मुताबिक बिल्डिंग के साथ-साथ ग्रीन जोन के रूप में भी कई क्षेत्र को डेवलप किया जाना है। पौधे के अलावा विभिन्न प्रकार के फुल के पौधे लगाए जाएंगे।
मॉडल अस्पताल का प्रारूप।

कहां बनेगा मॉडल अस्पताल
दरअसल, अब तक कई तरह की स्वास्थ्य सुविधाओं के अभाव में मरीजों को पीएमसीएच रेफर करना पड़ता है। ऐसे में सरकार ने नालंदा में ही मॉडल अस्पताल बनाने का फैसला किया है । ये अस्पताल बिहारशरीफ के मौजूदा सदर अस्पताल के कैंपस में ही बनेगा । इसके लिए सदर अस्पताल में ही जगह को चिन्हित करते हुए खाली करने का निर्देश दे दिया गया है। ताकि शीघ्र निर्माण कार्य शुरू किया जा सके। आपको बता दें कि सदर अस्पताल के सफाई कर्मचारी खाली जमीन पर कब्जा कर लिए हैं। ऐसे में उन्हें एक हफ्ते के भीतर जगह को खाली करने का निर्देश दिया गया है ।

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In काम की बात

Leave a Reply

Check Also

दुल्हनिया संग हनीमून मनाने चले तेजस्वी यादव.. आरजेडी में मचा है घमासान

तेजस्वी यादव अपनी पत्नी राजश्री के साथ लंदन रवाना हो गए हैं। शादी के बाद ये उनकी पहली विदे…