Home खास खबरें नीतीश सरकार का बड़ा फैसला, पटना में नहीं चलेंगे डीजल वाले ऑटो

नीतीश सरकार का बड़ा फैसला, पटना में नहीं चलेंगे डीजल वाले ऑटो

0

बिहार सरकार (Bihar Government) ने प्रदूषण (Pollution) की समस्या खत्म करने के लिए बड़ा फैसला लिया है. नीतीश सरकार (Nitish Government) ने कैबिनेट की बैठक (Cabinet Meeting) के दौरान वर्ष 2021 से पटना (Patna) में डीजल ऑटो (Diesel Auto) के परिचालन पर रोक लगा दिया है. ये फैसला 31 जनवरी, 2021 से लागू होगा. फैसला लागू होने के बाद पटना में डीजल ऑटो (Auto Rickshaw) पर पूरी तरह से बैन हो जाएगा. इसके साथ ही 31 मार्च, 2021 से पटना से सटे दानापुर, फुलवारी, खगौल नगर परिषद में भी ऐसे ऑटो के परिचालन पर बैन रहेगा. कैबिनेट की बैठक में बिहार स्वच्छ इंधन योजना 2019 को मंजूरी दी गई.

2021 से चलेंगी CNG और बैट्री वाली गाड़ियां
इस बैठक में फैसला लिया गया कि साल 2021 से CNG और बैट्री वाले ऑटो ही पटना समेत आसपास के इलाकों में चलेंगे. कैबिनेट की बैठक में कुल 12 एजेडों पर मुहर लगी. नीतीश कैबिनेट ने इसके साथ ही पटना नगर निगम, दानापुर, फुलवारी शरीफ, खगौल, दानापुर नगर परिषद में 15 साल से ज्यादा पुराने सभी कमर्शियल वाहनों के परिचालन को तात्कालिक प्रभाव से प्रतिबंध की मंजूरी दी है. बता दें कि हाल ही में पटना को देश का तीसरा सबसे प्रदूषित शहर पाया गया था. इस आंकड़े के आने के बाद सरकार ने आनन-फानन में बैठक बुलाई थी.

बोर्ड कर्मियों के DA में भी वृद्धि
कैबिनेट के अन्य फैसले में निगम और बोर्ड के कर्मियों का डीए बढ़ाने का भी फैसला लिया गया. इसके तहत छठा वेतनमान पा रहे बोर्ड निगम के कर्मियों का DA बढ़ाकर 154 फीसदी से 164 फीसदी कर दिया गया है. कैबिनेट की बैठक में विधानसभा के पूर्व अध्यक्ष त्रिपुरारी प्रसाद सिंह कि जयंती हर साल 6 अक्टूबर को राजकीय समारोह के रूप में मनाने, 50 कनीय अभियंता यांत्रिक के नियोजन के साथ कनीय अभियंता असैनिक के 150 पदों पर नियोज की भी स्वीकृति दी गई.

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In खास खबरें

Leave a Reply

Check Also

चुनाव प्रचार के दौरान उम्मीदवार को गोलियों से भून डाला.. जानिए पूरा मामला

बिहार विधानसभा चुनाव में खून खराबे का दौर शुरू हो गया है. चुनाव प्रचार के दौरान बदमाशों ने…