Home पटना नालंदा में महागठबंधन में फूट.. हम उम्मीदवार अशोक आजाद का विरोध शुरू !

नालंदा में महागठबंधन में फूट.. हम उम्मीदवार अशोक आजाद का विरोध शुरू !

0

नालंदा लोकसभा सीट पर हम के उम्मीदवार अशोक कुमार आजाद के नाम का एलान होने के साथ ही महागठबंधन में मथफुटौव्ल शुरू हो गया है। बाहरी उम्मीदवार को टिकट दिए जाने से आरजेडी और कांग्रेसी कार्यकर्ताओं में नाराजगी है। नालंदा जिला कांग्रेस के अध्यक्ष दिलीप कुमार ने फेसबुक पोस्ट लिखकर बगावती बिगुल फूंक दिया है ।

दिलीप कुमार के पोस्ट के क्या है मायने
फेसबुक पोस्ट के जरिए नालंदा में कांग्रेस के कर्ताधर्ता दिलीप कुमार ने इशारों-इशारों में अपनी नाराजगी जाहिर की है। दिलीप कुमार ने लिखा है कि अब तो बिहार में कांग्रेस की सभी सीटों की घोषणा हो ही गई है, तो चलिए हम लोग खेल शुरू करते हैं, कार्यकर्ता-कार्यकर्ता। यानि अगर इसका विश्लेषण किया जाए तो यही मतलब निकलता है कि अब पार्टी नाम की कोई चीज नहीं है हम सब कार्यकर्ता हैं तो स्वतंत्र हैं । दिलीप कुमार के इस फेसबुक पोस्ट पर लोग कमेंट भी कर रहे हैं और दिलीप कुमार खुलकर इसका जवाब भी दे रहे हैं। एक कमेंट कांग्रेस के जिला प्रवक्ता मुन्ना पांडेय का है। जिसमें उन्होंने कार्यकर्ता जिन्दाबाद लिखा है। इस पर दिलीप ने जवाब दिया है कि जी मुन्ना जी, बिल्कुल इसमें कोई शक नहीं है। कार्यकर्ताओं की उपेक्षा का रिजल्ट 23 मई को जरूर दिखेगा। वहीं जद यू आईटी के धर्मेंन्द्र कुमार ने कांग्रेस अध्यक्ष के पोस्ट पर खूब चुटकी ली है। उन्होंने दिलीप को निर्दलीय चुनाव लड़ने की सलाह भी दे डाली है।

इसे भी पढ़िए-नालंदा में महागठबंधन ने आजाद पर खेला दांव; अशोक आजाद का नालंदा कनेक्शन जानिए

दिलीप कुमार ने पेश की थी दावेदारी
दिलीप कुमार नालंदा से अपनी पार्टी की उम्मीदवारी की दावेदारी पेश की थी। वे समर्थकों के साथ सदाकत आश्रम जाकर पार्टी आलाकमान से नालंदा से कांग्रेस को टिकट देने की मांग की थी। दिलीप कुमार का कहना था कि पार्टी किसी कार्यकर्ता को टिकट दे दे उन्हें एतराज नहीं है। लेकिन महागठबंधन में ये सीट हम के खाते में चली गई।

इसे भी पढ़िए-नालंदा लोकसभा सीट पर नीतीश कुमार ने कौशलेंद्र पर क्यों लगाया दांव.. जानिए

आरजेडी खेमे में भी नाराजगी
अशोक आजाद को उम्मीदवार बनाए जाने का आरजेडी भी अंदरखाने विरोध कर रही है । नालंदा लाइव( Nalanda Live) ने इस बारे में जिला के आरजेडी के कई सीनियर नेताओं से बात की तो उन्होंने कहा कि महागठबंधन के इस फैसले से पार्टी कार्यकर्ताओें में भारी नाराजगी है। पार्टी के सीनियर लीडर का तो ये कहना है कि नालंदा सीट से महागठबंधन ने जेडीयू को एक तरह से वॉकओवर दे दिया। अब कहीं कोई मुकाबला ही नहीं है ।

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In पटना

Leave a Reply

Check Also

बिहारशरीफ में लड़की वालों ने दूल्हा को जमकर पीटा, पुलिस नहीं आती को मार देते जान

बिहारशरीफ में मॉब लिंचिंग का एक मामला सामने आया है. जहां लड़की वालों ने दूल्हा की जमकर पिट…