Home धर्म अध्यात्म नालंदा को एक और तोहफा, बनेगा देश का सबसे बड़ा गुरुद्वारा

नालंदा को एक और तोहफा, बनेगा देश का सबसे बड़ा गुरुद्वारा

0

विकास पुरुष नीतीश कुमार ने सीएम नीतीश कुमार ने अपने गृह जिले नालंदा को एक और बड़ा तोहफा दिया है। सीएम नीतीश कुमार ने देस का सबसे बड़ा गुरुद्वारा बनाने का ऐलान किया है। उन्होंने कहा कि राजगीर में देश का सबसे बड़ा गुरुद्वारा बनाया जाएगा। दरअसल, सीएम नीतीश कुमार इंटरनेशनल क्रिकेट स्टेडियम का शिलान्यास करने राजगीर पहुंचे थे। जहां उन्होंने इस बात का ऐलान किया

इसे भी पढ़िए- नीतीश कुमार का बड़ा ऐलान.. राम मंदिर से पहले बनेगा सीता मंदिर

गुरुद्वारे की जरुरत क्यों पड़ी

दरअसल, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार नालंदा को सर्वधर्म सम्भाव के तौर पर विकसित करना चाहते हैं। नालंदा हिंदू,मुस्लिम, जैन और बौद्ध धर्म अनुयायियों के लिए तीर्थस्थल के तौर पर देखा जाता है। राजगीर और नालंदा जहां बौद्ध धर्माम्बलियों के लिए तीर्थ स्थल है तो वहीं, हिंदूओं के लिए मलमास मेला और गर्मकुंड पवित्र स्थल है। बिहारशरीफ में मखदूम साहब की समाधि औऱ बड़ी पहाड़ी मुस्लिम धर्म के लोगों के लिए इबादत की जगह है। पावापुरी और कुंडल ग्राम जैनियों का तीर्थस्थल है। ऐसे में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार सिख सैलानियों को आकर्षित करने के लिए देश का सबसे बड़ा गुरुद्वारा बनाने का ऐलान किया।

नीतीश कुमार ने क्या कहा

सीएम नीतीश कुमार ने प्राचीनता को सहेजते हुए राजगीर को आधुनिक रूप देने की अपनी प्रतिबद्धता दुहरायी। उन्होंने कहा कि प्रकाश पर्व ने बिहार को फिर से नई पहचान दी है। इस कारण, सिक्ख सैलानियों को आकर्षित करने के उद्देश्य से राजगीर में देश का सबसे बड़ा गुरुद्वारा बनवाया जाएगा। इसके लिए वन विभाग से क्लीयरेंस के लिए सरकार ने केन्द्र को पत्र भेजा है।

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In धर्म अध्यात्म

Leave a Reply

Check Also

विधान परिषद की 8 सीटों के लिए चुनाव का ऐलान.. जानिए कब क्या होंगे

बिहार विधानसभा के चुनाव की घोषणा के कुछ घंटों बाद ही बिहार विधान परिषद की खाली आठ सीटों के…