मौसम विभाग की चेतावनी.. नालंदा समेत 14 जिलों में पड़ेगी प्रचंड गर्मी.. जानिए कब से

0

बिहार में जैसे जैसे तापमान बढ़ता जा रहा है वैसे वैसे कोरोना भी अपना पांव पसारता जा रहा है। मौसम विभाग ने नालंदा, पटना, शेखपुरा और नवादा समेत 14 जिलों में प्रचंड गर्मी पड़ने की भविष्यवाणी जारी किया है । मौसम विभाग ने लोगों से 14 जिला के लोगों को हीट वेब से बचने की सलाह दी है ।

12 अप्रैल से पड़ेगी प्रचंड गर्मी
मौसम विभाग के मुताबिक 12 अप्रैल से गर्मी प्रचंड रुप धारण कर सकती है. सूबे के 14 जिलों में हीट वेब के आसार जताए जा रहे हैं. राज्य के दक्षिणी मध्य और दक्षिणी पश्चिमी जिलों में तापमान 41 डिग्री सेल्सियस के करीब पहुंचने की संभावना जताई जा रही है. वहीं अनिश्चित दिशा में चल रही पछुआ हवा के कारण अगलगी की घटना भी अक्सर सामने दिख रही है.

इसे भी पढ़िए-नालंदा में वकीलों ने खोला मोर्चा, अनिश्चितकालीन हड़ताल पर गए वकील

14 जिलों में बेहद सतर्क रहने की जरुरत
बिहार में चल रहे पछुआ हवा का प्रवाह अब और तेज होने की संभावना है. मौसम विज्ञान केंद्र पटना ने योलो अलर्ट जारी कर लोगों को सतर्क रहने की चेतावनी दे दी है. जिन जिलों में इसकी मार पड़ने के आसार हैं वो पटना, गया,नालंदा, शेखपुरा, बेगूसराय, नवादा, लखीसराय, बक्सर, भोजपुर, भभुआ, रोहतास, औरंगाबाद, जहानाबाद और अरवल हैं.

इसे भी पढ़िए-बिहार में थाईलैंड और फिलिपींस के तर्ज पर बनेंगे दो साइलोज.. जानिए, कहां और क्या होगा फायदा?

बेवजह बाहर नहीं निकलने की सलाह
इन 14 जिलों को बेहद सतर्क रहने की सलाह दी गई है. सुबह 10 बजे से शाम 5 बजे तक गर्म हवा इन जिलों में परेशानी का कारण बन सकती है. वहीं मौसम के जानाकारों ने लोगों को सलाह भी दी है कि वो बेवजह घर से बाहर नहीं निकलें. इधर राज्य के अधिकतर जिलों में न्यूनतम तापमान में भी आंशिक बढ़ोतरी देखी गई.बंगाल की खाड़ी से नमी के हो रहे प्रवाह का असर राजधानी पटना पर भी दिखा जहां का न्यूनतम पारा 25 डिग्री सेल्सियस के करीब पहुंच गया.

इसे भी पढ़िए-बिहार में तीन बड़ी कंपनियां 886 करोड़ का निवेश करेगी.. जानिए कहां लगेंगे कौन सा उद्योग

पछुआ हवा बना परेशानी का कारण 
बता दें कि पछुआ हवा भी सूबे के लिए परेशानी का कारण बन चुका है. हवा की दिशा निश्चित नहीं रह रही है. कभी दक्षिणी-पश्चिमी, तो कभी उत्तरी-पश्चिमी दिशा से हवा बह रही है. कभी-कभी किसी अन्य दिशा से बहने लगती है. लिहाजा अगलगी की आशंका बढ़ी हुई है.

जिला प्रशासन ने की अपील
-दिन का खाना नौ बजे सुबह के पहले व रात का खाना शाम छह बजे के बाद बनायें
-खाना बना कर चूल्हे की आग को पानी से अच्छी तरह से बुझा दें
-हवन-अनुष्ठान आदि का काम सुबह नौ बजे से पूर्व कर लें
-बिजली के लूज तार दिखे, तो इसकी सूचना बिजली विभाग या जिला प्रशासन को अवश्य दें
-खेतों में फसल काटने के बाद बचे डंठल को नहीं जलायें
-खेत खलिहान के आसपास बीड़ी, सिगरेट न पीएं, न पीने दें
-दिया, लालटेन, मोमबत्ती को ऐसी जगहों पर न रखे जहां से गिरकर आग लगने की संभावना हो
-सामूहिक भोजन बनाने की जगह पर दो से तीन ड्रम पानी अवश्य रखें

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In खास खबरें

Leave a Reply

Check Also

बिहार बोर्ड के 10वीं और 12वीं कंपार्टमेंटल के सभी छात्र पास. चेक कीजिए अपना रिजल्ट

बिहार विद्यालय परीक्षा समिति (BSEB) ने 10वीं और 12वीं कम्पार्टमेंटल परीक्षा Bihar Board 10…