Home खास खबरें भूकंप के झटके : लॉकडाउन में भूकंप से पांचवी बार हिली दिल्ली

भूकंप के झटके : लॉकडाउन में भूकंप से पांचवी बार हिली दिल्ली

0

दिल्ली-एनसीआर में फिर भूकंप के झटके महसूस किए गए। लॉकडाउन के पांचवीं बार भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं. राजधानी दिल्ली, गाजियाबाद,नोएडा,रोहतक, पानीपत और सोनीपत में भूकंप के झटके महसूस किए गए.

रात 9 बजकर 8 मिनट पर भूकंप
राजधानी दिल्ली में रात 9 बजकर 8 मिनट पर भूकंप के झटके महसूस किए गए. भूकंप का केंद्र हरियाणा का रोहतक बताया जा रहा है. भूकंप की तीव्रता रिक्टर पैमाने पर 4.6 मापी गई

इसे भी पढ़िए-अमेरिका में बिहारी ने बनाया दुनिया का सबसे सस्ता पोर्टेबल वेंटिलेटर.. जानिए कौन हैं वो

पहला झटका- 13 अप्रैल
लॉकडाउन के एलान के बाद 13 अप्रैल को भूकंप का पहला झटका महसूस किया गया था. जिसका तीव्रता 3.5 आंकी गई थी और इसका केंद्र पूर्वी दिल्ली के पास था

दूसरा झटका- 14 अप्रैल
लॉकडाउन के दौरान भूकंप का दूसरा झटका अगले दिन ही यानि 14 अप्रैल को महसूस किया गया था. जिसकी तीव्रता 2.7 मापी गई थी। इसका केंद्र भी दिल्ली के पास ही था

तीसरा झटका- 10 मई
भूकंप का तीसरा झटका 10 मई को महसूस किया गया था. जिसकी तीव्रता 3.4 मापी गई थी.

इसे भी पढ़िए-देश के सबसे बड़े भविष्यवक्ता बेजान दारूवाला की कोरोना से मौत.. जानिए उनकी भविष्यवाणियां

चौथा झटका-15 मई
भूकंप का चौथा झटका 15 मई को महसूस किया गया था। रिक्टर स्केल पर इसकी तीव्रता 2.2 मापी गई थी। नेशनल सेंटर फॉर सिस्मोलॉजी के अनुसार इस भूकंप का केंद्र उत्तर-पश्चिमी दिल्ली था और इसकी गहराई 13 किलोमीटर नीचे थी। इस भूकंप का केंद्र दिल्ली का पीतमपुरा था।

पांचवां झटका- 29 मई
लॉकडाउन के दौरान पांचवां झटका 29 मई को रात 9 बजकर 8 मिनट पर महसूस किया गया. जिसकी तीव्रता 4.6 मापी गई और इसका केंद्र रोहतक था

भूकंप आए तो क्या करें
भूकंप के दौरान मकान, दफ्तर या किसी भी इमारत में अगर आप मौजूद हैं तो वहां से बाहर निकलकर खुले में आ जाएं। इसके बाद खुले मैदान की ओर भागें। भूकंप के दौरान खुले मैदान से ज्यादा सुरक्षित जगह कोई नहीं होती। भूकंप आने की स्थिति में किसी बिल्डिंग के आसपास न खड़े हों। अगर आप ऐसी बिल्डिंग में हैं, जहां लिफ्ट हो तो लिफ्ट का इस्तेमाल बिल्कुल न करें। ऐसी स्थिति में सीढ़ियों का इस्तेमाल करना ही उचित होता है।

इसे भी पढ़िए-बिहार में 17 IAS अफसरों का प्रमोशन.. जानिए किन किन की हुई प्रोन्नति

भूकंप के दौरान घर के दरवाजे और खिड़की को खुला रखें। इसके अलावा घर की सभी बिजली स्विच को ऑफ कर दें। अगर बिल्डिंग बहुत ऊंची हो और तुरंत उतर पाना मुमकिन न हो तो बिल्डिंग में मौजूद किसी मेज, ऊंची चौकी या बेड के नीचे छिप जाएं। भूकंप के दौरान लोगों को इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि वो पैनिक न करें और किसी भी तरह की अफवाह न फैलाएं, ऐसे में स्थिति और बुरी हो सकती है।

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In खास खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

नालंदा में 3 और स्वास्थ्यकर्मी कोरोना पॉजिटिव, दवा दुकानदार की मौत से हड़ंकप

नालंदा जिला में कोरोना मरीजों की तादाद लगातार बढ़ती जा रही है। जिले में कोरोना के तीन नए म…