Home काम की बात बिहारशरीफ के पांच तालाबों का सौंदर्यीकरण, जानिए किस-किस तालाब का है नाम

बिहारशरीफ के पांच तालाबों का सौंदर्यीकरण, जानिए किस-किस तालाब का है नाम

0

स्मार्ट सिटी के तहत बिहारशरीफ में पहले प्रोजेक्ट पर काम शुरू कर दिया गया है। 27 करोड़ की योजनाओं पर काम शुरू हुआ है। पहले फेज में तालाब सौंदर्यीकरण एवं हिरण्य पर्वत पर सोलर पैनल सिस्टम पर लगाया जा रहा है. तालाब सौंदर्यीकरण की शुरुआत शहर के टिकुलीपर पर स्थित तालाब से की गई है। फिलहाल गंदे पानी का निकास किया जा रहा है। इसके अलावा सोलर पैनल के लिए भी हिरण्य पर्वत पर मापी का काम शुरू कर दिया गया है।

किस तालाब पर क्या होगी व्यवस्था
पक्की तालाब – 6 हाई मास्ट लाइट, 16 डेकोरेटिव लाइट, 14 डेकोरेटिव बेंच, 1 सेंटर फाउंटेंन, 6 फ्लोटिंग फाउंटेन, 141 अंडर वाटर लाइट, 275 आरएमटी हैंड रेलिंग, 1 वाश रूम, 1 प्रवेश द्वार, 1 निकास द्वार, 627 स्क्वायर मीटर पथवे एरिया, 2 मीटर पथवे की गहराई, 339 आरएमटी बाउंड्रीवॉल।

बाबा मणीराम अखाड़ा तालाब: 5 हाई मास्क लाइट, 27 डेकोरेटिव लाइट, 44 डेकोरेटिव बेंच, 1 सेंटर फाउंटेंन, 8 फ्लोटिंग फाउंटेन, 208 अंडर वाटर लाइट, 390 आरएमटी हैंड रेलिंग, 6 चेजिंग रूम, 1 प्रवेश द्वार, 1 निकास द्वार, 990 स्क्वायर मीटर पथवे एरिया, 465 आरएमटी बाउंड्रीवॉल वाल।

टिकुली पर तालाब: 23 डेकोरेटिव लाईट, 07 डेकोरेटिव बेंच, 1 सेंटर फाउंटेंन, 4 फ्लोटिंग फाउंटेन, 99 अंडर वाटर लाईट, 188 आरएमटी हैंड रेलिंग, 4 चेंजिंग रूम, 2 शेड, 3 प्रवेश द्वार, 2 निकास द्वार, 731 स्क्वायर मीटर पथवे एरिया, 256 आरएमटी बाउंड्रीवाल एवं 2 मंदिर।

बड़ी दरगाह तालाब: 6 हाई मास्क लाइट, 35 डेकोरेटिव लाइट, 12 डेकोरेटिव बेंच, 1 सेंटर फाउंटेंन, 8 फ्लोटिंग फाउंटेन, 164 अंडर वाटर लाईट, 313.6 आरएमटी हैंड रेलिंग,1 प्रवेश द्वार, 1 निकास द्वार, 2353 स्क्वायर मीटर ग्रीन एरिया, 396.6 आरएमटी बाउंड्रीवॉल ।

सुभाष पार्क तालाब : 7 हाई मास्ट लाईट, 42 डेकोरेटिव लाईट, 36 डेकोरेटिव बेंच, 1 वेटिंग रूम, 1 प्रवेश द्वार, 1 निकास द्वार, 540 आरएमटी बाउंड्रीवॉल एवं 335.4 स्क्वायर मीटर ग्रीन एरिया बनाया जाएगा।

धनेश्वर घाट और आशानगर तालाब
इसके अलावा अगले फेज में धनेश्वरघाट और आशानगर में 8 करोड़ की लागत से दो तालाब का सौंदर्यीकरण किया जाएगा. जबकि इस फेज में  14 करोड़ से टिकुलीपर तालाब,बड़ी दरगाह, पक्की तालाब, सुभाष पार्क तालाब और मणिराम अखाड़ा का होगा सौंदर्यीकरण

हिरण्य पर्वत पर सोलर पैनल
हिरण्य पर्वत पर 2 मेगा वाट की क्षमता वाला सोलर पैनल लगाया जा रहा है। जिसके माध्यम से शहर के सभी में रोड के स्ट्रीट लाइट रोशन होंगे। इसके अलावा कुछ सरकारी भवनों में भी इससे विद्युत आपूर्ति की जाएगी। दिन में बचने वाले इनर्जी बिजली विभाग को दी जाएगी। ताकि जरूरत पड़ने पर सरकारी भवन एवं अन्य सरकारी संस्थानों में विद्युत आपूर्ति की जा सके।

नगर आयुक्त ने क्या कहा
नगर आयुक्त सौरभ जोरवाल के मुताबिक तालाब सौंदर्यीकरण के लिए पहले पांच टिकुलीपर तालाब, बड़ी दरगाह, पक्की तालाब, सुभाष पार्क तालाब और मणीराम अखाड़ा तालाब का चयन किया गया है जिसपर करीब 14 करोड़ खर्च किए जाएंगे। इसके अलावा अगले फेज में धनेश्वरघाट एवं आशानगर में दो तालाब का सौंदर्यीकरण किया जाएगा। जिसपर करीब 8 करोड़ खर्च होंगे।

किस कंपनी को दी गई है जिम्मेदारी
तालाब सौंदर्यीकरण का जिम्मा जेबी इनवायरो कंपनी को दी गई है। इसके अलावे बड़ी पहाड़ी पर 2 मेगावाट क्षमता का सोलर पैनल सिस्टम लगना है, जिसपर करीब 13 करोड़ खर्च किए जाएंगे। इसकी जबाबदेही ब्रेडा कंपनी को दी गई है। कंपनी द्वारा स्थल मापी का काम प्रारंभ कर दिया गया है।

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In काम की बात

Leave a Reply

Check Also

नालंदा में युवक की गोली मारकर हत्या.. इलाके में सनसनी

नालंदा जिला में आपसी रंजिश में एक व्यक्ति की हत्या कर दी गई। हत्या की वारदात के बाद गांव म…