लॉकडाउन में वसूली करने वाला दो नकली पुलिस गिरफ्तार.. जानिए पूरा मामला

0

कोरोना की वजह से पूरे बिहार में लॉकडाउन लगा है । लॉकडाउन की वजह से लोग परेशान हैं। लेकिन कुछ शातिर लॉकडाउन को ही कमाई का जरिया बना रहे हैं। ऐसे ही दो शातिरों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। जो पुलिस बनकर लोगों से वसूली करता था।

कौन-कौन पकड़ा गया
पकड़े गए फर्जी सिपाही में से एक का नाम प्रमोद कुमार है। जबकि, दूसरे का नाम सोनू कुमार है। 34 साल का प्रमोद जहानाबाद के ओकरी और 28 साल का सोनू पटना के ही कंकड़बाग का रहने वाला है। ये दोनों एक बाइक से साथ में चलते थे। बाइक के नंबर प्लेट पर पुलिस का स्टीकर लगा रखा था।

1000 रुपए वसूलते थे
ये दोनों पटना के पोस्टल पार्क और बिग्रहपुर सहित आसपास के इलाकों में घूमते थे और उन दुकानदारों को निशाना बनाते थे जो लॉकडाउन में खुले मिलते थे। वैसे दुकानदारों से 1000 रुपए से अधिक की वसूली करते थे।

इसे भी पढ़िए-नालंदा में गांव वालों ने बारातियों को बनाया बंधक.. कहा, पहले लौटाओ…

दुकानदार ही नहीं आम लोगों को भी रास्ते में रोक लेते थे। उनसे भी लॉकडाउन का डर दिखाकर रुपए की ठगी कर रहे थे। इलाके के अनुसार दोनों ही अपनी पहचान कभी गर्दनीबाग तो कभी कंकड़बाग थाना के सिपाही बता कर लोगों को डराते-धमकाते थे।

कैसे पकड़ा गया
इस बात की जानकारी जक्कनपुर थाना को मिली। पुलिस को सूचना मिली की दो शातिर खुद को सिपाही बताकर दुकानदारों और राहगीरों से अवैध वसूली कर रहे हैं। जिसके बाद पुलिस ने दुकानदारों से मिलकर जाल बिछाया । तब जाकर दोनों फर्जी सिपाही पकड़े गए। अब दोनों को जेल भेज दिया गया है।

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In पुलिस प्रशासन

Leave a Reply

Check Also

नालंदा में रफ्तार का कहर.. बेकाबू ट्रक ने तीन युवकों रौंदा.. तीनों की मौत

नालंदा जिला में एक बार फिर तेज रफ्तार ने तीन युवकों की जान ले ली है । बताया जा रहा है कि ब…